झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 29 जनवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 29 जनवरी 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 29 जनवरी

‘‘एक शाम देष भक्तों के नाम’’ काव्य संध्या का हुआ आयोजन, कवियों एवं साहित्यकारों ने अपनी रचनाएं और कविता सुनाकर किया ओत-प्रोत 

jhabua news
झाबुआ। अखिल भारतीय साहित्य परिषद् के बेनर तले गणतंत्र दिवस के अवसर पर ‘‘एक शाम देषभक्तों के नाम’’ का आयोजन स्थानीय सिद्धेष्वर काॅलोनी स्थित आदर्ष विद्या मंदिर में रखा गया। जिसमें मुख्य अतिथि के रूप में वरिष्ठ साहित्यकार डाॅ. रामषंकर चंचल एवं डाॅ. वादिह फराज एवं साहित्यकार पीडी रायपुरिया ने अध्यक्षता की। शुभारंभ मां सरस्वतीजी के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रजवजलन कर हुआ। पश्चात् उपस्थित समस्त साहित्यकारों एवं कवियों ने पुष्प अर्पित किए। कार्यक्रम के संयोजक अभा साहित्य परिषद् के जिलाध्यक्ष भेरूसिंह चैहान ‘‘तरंग’’ रहे। सरस्वती वंदना प्रकाष त्रिवेदी ने प्रस्तुत करने के साथ ‘‘ए वतन तेरे लिए तो जान भी कुरबान है, गीत प्रस्तुत किया। प्रवीणकुमार सोनी पुष्प ने धन्य है मां भारती तेरे शहीदों को वंदन, प्रदीपकुमार अरोरा ने देष के लिए मचलती हुई जवानी भी मिलेगी, अर्चना राठौर ने आओ अपना देष संवारे प्रस्तुत किया। भेरूसिंह चैहान ‘तरंग’ ने आजादी के दीवानांे का जष्न आज मनाएंगे, यारो हम वंदे मातरम् गाएंगे ’’, जोषीले अंदाज में गीत प्रस्तुत किया और तालियां बटोरी। 

‘देवो की यह धरती है और राम यहां राजा है’
लता देवल ने भी अपनी बात को रखते हुए एक लघु कथा सुनाई। पीडी रायपुरिया ने ‘वंदे मातरम् शान हमारी देष प्रेम का नारा है’’, डाॅ. वाहिद फराज ने ‘देवो की यह धरती है और राम यहां राजा है, प्रस्तुत किया और वाहवाही लूटी। डाॅ. रामषंकर चंचल ने आजाद हिन्द के नवयुवकों का बस एक ही नारा है प्रस्तुत किया। साथ ही काव्य रचना की प्रतियां भी सभी को भेंट की। कार्यक्रम का संचालन निसार पठान ‘रंभापुरी’ ने करते हुए यहां आरती के स्वर, यहां आयते कुरान, गालिब की गजल के संग, सवैया रसखान .... प्रस्तुत की। कार्यक्रम के अंत में आभार स्कूल संचालक सुरेषचन्द्र जैन ने माना।  

सांत्वना ग्रुप ने मां पर किया भव्य एवं गरिमामयी कार्यक्रम, बड़ी संख्या में मातृ शक्तियों ने की सहभागिता

jhabua news
झाबुआ। सांत्वाना ग्रुप झाबुआ द्वारा प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी ‘‘मां’’ कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें 60 वर्ष से अधिक उम्र की 130 माताओं ने उपस्थित रहकर कार्यक्रम को भव्य एवं गौरवमयी बनाया। यह अनूठा आयोजन सांत्वना ग्रुप पिछले 7 वर्षों से करता आ रहा है और प्रतिवर्ष कार्यक्रम का स्वरूप भव्य होता जा रहा है। इस वर्ष उक्त कार्यक्रम स्थानीय दत्त काॅलोनी स्थित दत्त मंदिर में रखा गया। 3 घंटे चले इस अनूठे आयोजन में माताओं के मनोरंजन एवं सम्मान पर आधारित विविध सराहनीय प्रस्तुतियां रहीं। माताओं के लिए खुला मंच रखा गया। जिसमें अधिकांष माताओं ने अपनी अभिव्यक्ति दी।  कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में श्रीमती पुष्पा जोषी, अध्यक्षता शोभा सक्सेना एवं विषेष अतिथि आषा जोषी रहीं। अतिथियों द्वारा माताजी के पूजन एवं दीप प्रज्जलवन के साथ कार्यक्रम का शुभारंभ किया। स्वागत भाषण संस्था प्रमुख सुषमा दुबे ने दिया। ग्रुप की सदस्याओं ने सभी अतिथियों का पुष्पामालाओं से स्वागत किया। स्वागत गीत किरण शर्मा ने प्रस्तुत किया। गीत के दोरान सभी मातृ शक्तियों का फूल की पंुखंड़ियों से स्वागत किया गया। जिससे वे भाव-विभोर हो गई। सांत्वना ग्रुप का वार्षिक प्रतिवेदन का वाचन सुषमा दुबे ने किया। समूह के सदस्यों द्वारा ‘‘मां मुझे अपने आंचल मंे छुपा ले’’ की सुंदर प्रस्तुति के साथ सामूहिक नृत्य को सभी ने सराहा। 

सास और बहू के बीच बेटे को लेकर हुई तकरार
मनोरंजन को ध्यान में रखते हुए सांस और बहू के बीच में बेटे को लेकर मीठी तकरार होता नृत्य सभी को पंसद आया। इंटरनेट एवं मोबाईल के माध्यम के दुरपयोग को दर्षाती लघु नाटिका ने जहां समां बांध दिया, वहीं वीणा भार्गव के नृत्य ने हर मां की आंख को नम कर दिया। सभी माताओं का आपस में परिचय आकर्षक जोड़ी बनाकर करवाया गया। वयोवृद्ध श्रीमती सुषीला भट्ट ने भजन पर नृत्य किया तो विजय लक्ष्मी शुक्ला, प्रेमलता भट्ट, मुन्नीदेवी वाजपेयी आदि ने भी अपने विचार व्यक्त किए। कुछ ने भजन एवं मंत्र से आनंद को दुगुना किया तो किसी ने मनोरंजन खेल, अंताक्षरी का भरपूर आनंद लिया। 

मातृशक्तियों को प्रदान किए गए पर्स 
सांत्वना ग्रुप की ओर से सभी मातृ शक्तियों को पर्स प्रदान किए गए। अंत मंे सभी ने सहभोज का आनंद लिया। आयोजन में तिलोत्तमा सुसलादे, लता पांडे, बसंती बारिया, संगीता शर्मा विनीता शर्मा, रत्ना प्रेम, मंजुला देराश्री आदि का सराहनीय सहयोग रहा। कार्यक्रम का सफल संचालन अंजु शर्मा ने किया एवं आभार वरिष्ठ सदस्य मधु व्यास ने माना।

30 से 13 फरवरी तक स्वास्थ्य विभाग चलायेगा कुष्ठ रोग जागरूकता अभियान

पवन नाहर थान्दला। जिला चिकित्सा अधिकारी बी एस बारिया के निर्देश पर थान्दला सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चलाएगा कुष्ठ रोग जागरूकता अभियान। जानकारी देते हुए बीएमओ अनिल राठौर ने बताया कि 30 जनवरी को कुष्ठ रोग दिवस की तैयारी करते हुए विभाग अपने स्वास्थ्य कर्मचारियों व आशा कार्यकर्ताओं के माध्यम से पूरे 15 दिनों तक डोर टू डोर यह अभियान चलाया जाएगा वही  पंचायत स्तर पर सरपंच द्वारा संकल्प पत्र का वाचन किया जाएगा। वही स्वास्थ्य विभाग स्कूल, छत्रावस आदि पर जाकर स्लोगन कॉम्पिटिशन आदि प्रचार प्रसार के विभिन्न तरिकों से क्षेत्र में कुष्ठ रोग के प्रति फैली भ्रांतियों को दूर किया जाएगा व कुष्ठ रोग के सभी मरीजों को नि:शुल्क उपचारित कर उन्हें निःशुक्ल दवाएं उपलब्ध कराई जाएगी।

पंचायत चुनाव आरक्षण के बाद भ्र्ष्टाचार के मामले आने लगे  राष्ट्रीय पर्व पर हुई ग्रामीणों में बहस काम का पूछा तो भड़के सरपंच पति

झाबुआ - थांदला मेघनगर थाने के ग्राम सजेली तेजा भीमजी साथ मे ग्राम सभा के दौरान सरपंच पति और कुछ ग्रामीणो के बीच विकास कार्यों व गॉव के कार्य की बात को लेकर जमकर बहस हुई यहाँ तक कि हाथा पाई कि नोबत आ गई।
ग्राम पंचायत सजेली तेजा भीमजी साथ पर 26 जनवरी को लेकर ग्राम सभा रखी गई थी जहाँ ग्रामीणों द्वारा सरपंच से गांव में अधुरे पडे कपिल धारा कुप निर्माण, सार्वजनिक कुप, सी.सी.रोड जैसे अन्य कई अधुरे कार्य के बारे मे पुछा गया तो सरपंच पति भड़क गए और ग्रामीणों के साथ गाली गलौज करने लगे यहाँ तक कि मारपीट पर भी उतारू हो गए। विवाद के समय कई ग्रामीण जन कैलाश निनामा, अरविंद कटारा, अरविंद निनामा, दीवान निनामा, बदिया निनामा, मुकेश कटारा, भुरजी डामोर, गनजी डामोर, कैलाश वसुनिया, प्रकाश मावी, मुनेश चारेल, दिनेश डामोर, संतोष कटारा, विजय डामोर, प्रकाश चारेल, वागजी देवदा, राधु निनामा आदि उपस्थित थे उपस्थित जिनके द्वारा सभी को शांत किया गया।  कुछ ग्रामीणोंं की मांग है कि अति शीघ्र सरपंच पति पर उचित से उचित कडी कार्रवाई की जाऐ और गाँव में अधुरे पडे कार्यो की जांच कर कार्य को पुरा कराया जाए नही तो उग्र आंदोलन किया जाऐगा ।

सराहनीय पहल : बाल श्रम निषेध समिति ने दुकानदार को शिक्षा व देख रेख का जिम्मा सोपा

23 तारिख को हुये "बाल श्रम रेस्क्यू" मैं मिले बाल श्रमिको बाल कल्याण समिति न्यायपीठ झाबुआ ने किशोर न्याय अधिनियम 2015 की देख रेख व संरक्षण को ध्यान रखते हुये बाल हित का ध्यान रखते हुये बच्चो की शिक्षा का जिम्मा दुकानदार को दिया व माता पिता को देख रेख व संरक्षण हेतू उचित परामर्श दिया । समिति ने व्यवसायी संस्थानो मे जहा से बाल श्रमिक मिलेंगे वही संस्थान मालिक बच्चो की शिक्षा व देख रेख का उचित जिम्मा दिया जाएगा। बाल कल्याण समिति झाबुआ न्यायपीठ के अध्यक्ष निवेदिता सक्सेना, श्री गोपाल सिंह पँवार,श्रीमती ममता तिवारी, श्रींमती चेतना सकलेचा,चाइल्ड लाईन, व मेघनगर  दुकान दार व बच्चो के माता पिता उपस्थिति कार्यवाही सम्पन्न की।

बहादुर सागर तालाब (बड़ा तालाब) पर नवीन पुलिया निर्माण कार्य का विधायक एवं नगरपालिका अध्यक्ष ने किया शुभारंभ, 9 लाख 63 हजार की लागत से 6 मीटर चैड़ी बनेगी पुलिया

jhabua news
झाबुआ। शहर के बहादुर सागर तालाब (बड़ा तालाब) की ऐतिहासिक समय की पुलिया, जो जीर्ण-षीर्ण होकर वर्षाकाल में पुलिया पर बड़ा तालाब का पानी जमा होने से यहां से निकलने में राहगीरों और वाहन चालकों को काफी परेषानियों का सामना करना पड़ता था। जिसे देखते हुए नगरपालिका परिषद् एवं उक्त वार्ड के पार्षद के प्रयासों से नवीन पुलिया निर्माण का कार्य स्वीकृत होकर इसका भूमिपूजन कार्य 28 जनवरी, मंगलवार को संपन्न हुआ। मंगलवार को दोपहर 11.30 बजे शुभ मुर्हुत में पूर्व कंेद्रीय मंत्री एवं विधायक कांतिलाल भूरिया एवं नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती मन्नूबेन डोडियार मुख्य आतिथ्य में पूजन के साथ गेती चलाकर निर्माण कार्य का शुभारंभ किया गया। पूजन पं. त्रिवेदी ने संपन करवाई। पूजन कर गेती चलाकर कार्य की शुरूआत हुई। जानकारी देते हुए नपा अध्यक्ष श्रीमती डोडियार ने बताया कि नवीन पुलिया की लागत 9 लाख 63 हजार रू. है। यह पुलिया एमके इंस्ट्रक्वर द्वारा करीब 2 माह में तैयार की जाएगी। 6 मीटर चैड़ी इस पुलिया के बनने के बाद वर्षाकाल में तालाब एवं बारिष का पानी पुलिया के पिल्लरों के नीचे से बहने से वार्ड क्र. 1 के रहवासियों, राहगीरों और वाहन चालकों तथा काॅलेज के अध्ययन करने वाले छात्र-छात्राओं को समस्या से निजात मिल सकेगी।

यह रहे उपस्थित
पुलिया के उद्घाटन अवसर पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता, महामंत्री यषवंतसिंह पंवार, वरिष्ठ कांग्रेस नेता मानसिंह मेड़ा, गोपाल शर्मा, मनीष व्यास, विजय पांडे, नपा उपाध्यक्ष रोषनी डोडियार, पार्षदों में वार्ड क्र. 1 के पार्षद पपीष पानेरी, अब्दुल इनायत शेख, जाकिर कुरैषी, साबिर फिटवेल, अजय सोनी, रषीद कुरैषी, उषा विवेक येवले, शषि धुमा डामोर, आयुषी भाबर, हेमेन्द्र बबूल कटारा, अविनाष डोडियार, मालू डोडियार, ़ऋषि डोडियार, दीपू डोडियार, विनय भाबोर, रवि डोडियार, शहर के नागरिकों में वरिष्ठ संतोषसिंह गेहलोत, रतनसिंह राठौर, ओमप्रकाष प्रजापत, श्री राम शरणम् समिति के वरिष्ठ सदस्य आनंदविजयसिंह शक्तावत, विजय राठौड़, गजराजसिंह चैहान, सुषील पंडा, जगदीष पंडया आदि सहित अन्यजन उपस्थित थे।

100 वर्ष पुरानी पुलिया का अब होगा नवीन निर्माण
जानकारी देते हुए वार्ड पार्षद पपीष पानेरी ने बताया कि बहादुर सागर तालाब (बड़ा तालाब) की यह पुलिया स्टेट समय की होकर इस पुलिया पर चैवीसों घंटे आवागमन होने के साथ प्रतिदिन हजारों लोग यहां से जिसमें वार्ड के रहवासी, राहगीर, छोटे-बड़े वाहन, काॅलेज के छात्राएं, आसपास के ग्रामों के ग्रामीणजन गुजरते है। उन्हें प्रतिवर्ष वर्षाकाल में तालाब का पानी पुलिया पर जमा होने से आवागमन में काफी परेषानी होती है। कई बार तो इस कारण मार्ग अवरूद्ध भी हो जाता था। लंबे समय से नागरिकों की मांग थी कि इस पुलिया का नवीन निर्माण होकर यहां तालाब एवं बारिष का पानी जमा होने की समस्या से निजात मिल सके। लंबे अंतराल के पश्चात् नवीन पुलिया निर्माण का शुभारंभ होकर अतिषीघ्र कार्य भी आरंभ होने से वार्ड क्र. 1 रहवासियों सहित शहर के नागरिकों ने इस हेतु नगरपालिका एवं वार्ड पार्षद श्री पानेरी के प्रयासों को सराहना की है।

समन्वय समिति में वरिष्ठ आदिवासी नेता कांतिलाल भूरिया को जोडने की मांग

झाबुआ दिनांक 29 जनवरी  अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी ने मध्यप्रदेश सहित अन्य राज्यों में अपनी सरकार के विधानसभा चुनाव के वचन पत्रों के पालन के लिए कमेटीयां बनाई है। वही सरकार को वचनों को पुरा कराने और सत्ता संगठन के बीच तालमेल के लिए समन्वय समिति भी बनाई गई है।मध्यप्रदेश में मुख्यमंत्री कमलनाथजी एवं एआईसीसी महासचिव व प्रदेश प्रभारी दिपक बाबरिया पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंहजी ज्योतिरादित्य सिंधिया ,अरूण यादव, जीतू पटवारी एवं मिनाक्षी नटराजन को सदस्य बनाया गया है। किन्तु इस समिति में किसी अजजा वर्ग के नेता का नाम नहीं है। सुश्री कलावती भूरिया विधायक जोबट ने जानकारी देते हुए बताया कि अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी में रतलाम झाबुआ संसदीय क्षेत्र के आदिवासीयों ने राष्ट्रीय आदिवासी नेता कांतिलाल भूरिया का नाम जोडने की मांग की गई है। सुश्री भूरिया ने कहा कि मध्यप्रदेश में सरकार बनाने में आदिवासी क्षेत्रों की भूमिका महत्वपूर्ण रही है।अधिकांश आदिवासी जन समुदाय हमेशा कांग्रेस पार्टी का साथ दिया है। मध्यप्रदेश की कुल जनसंख्या का 20 प्रतिशत आदिवासी है,प्रदेश में लगभग 7 करोड  के करीब है। सभी आदिवासी कांग्रेस नेताओं एवं वालसिंह मेडा विधायक पेटलावद,वीरसिंह भूरिया विधायक थांदला, मुकेश पटेल विधायक अलीराजपुर एवं सैलाना विधायक हर्ष विजय गेहलोत एवं सरदारपुर विधायक प्रताप ग्रेवाल धरमपुरी विधायक पांचीलाल मेडा एवं सचिन बिरला बडवाह विधायक , युवा नेता डाॅ विक्रान्त भूरिया, कार्यवाहक अध्यक्ष जिला कांग्रेस रूपसिंह डामोर, अध्यक्ष जिला पंचायत शान्ति राजेश डामोर आदि ने संयुक्त विज्ञप्ति जारी कर  एआईसीसी से इस कमेटी में वरिष्ठ आदिवासी नेता कांतिलाल भ्ूारिया को शामील करने की मांग उठाई है। जिससे कि इस समिति में आदिवासीयों की सहभागीता बनी रहे।

कोई टिप्पणी नहीं: