कोटा में बच्चों की मौत को लेकर मायावती ने प्रियंका पर निशाना साधा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 2 जनवरी 2020

कोटा में बच्चों की मौत को लेकर मायावती ने प्रियंका पर निशाना साधा

mayawati-attack-priyanka-for-kota-incident
लखनऊ, 02 जनवरी, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) अध्यक्ष मायावती ने गुरुवार को कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पर राजस्थान के कोटा का दौरा नहीं करने पर निशाना साधा। सुश्री मायावती ने राजस्थान के कोटा जिले मेें हाल ही में लगभग 100 मासूम बच्चों की मौत को दुखद घटना बताते हुये कहा कि यदि कांग्रेस महासचिव सुश्री वाड्रा कोटा नहीं जाती हैं, तो इसका मतलब यह होगा कि उनका उत्तर प्रदेश का दौरा करना और पीड़ित परिवार से मिलना निहित स्वार्थ के लिए सिर्फ एक राजनीतिक नाटक था। उन्होंने सुश्री वाड्रा से भी सवाल किया कि वह कोटा क्यों नहीं जा रही हैं, जहां कांग्रेस शासन में है। उन्होंने कहा, यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि प्रियंका जैसी महिला नेता ऐसे गंभीर मुद्दों पर मूकदर्शक रही। बेहतर होता कि वह कोटा में बच्चों की माताओं से मिलतीं, जैसे उन्होंने उत्तर प्रदेश में किया था। सुश्री मायावती ने ट्वीटकर कहा “यदि कांग्रेस की महिला राष्ट्रीय महासचिव राजस्थान के कोटा में जाकर मृतक बच्चों की ‘‘माओं‘‘ से नहीं मिलती हैं तो यहाँ अभी तक किसी भी मामले में यू.पी. पीड़ितों के परिवार से मिलना केवल इनका यह राजनैतिक स्वार्थ व कोरी नाटकबाजी ही मानी जायेगी, जिससे यू.पी. की जनता को सर्तक रहना है।” बसपा अध्यक्ष ने एक अन्य ट्वीटकर कहा “कांग्रेस शासित राजस्थान के कोटा जिले में हाल ही में लगभग 100 मासूम बच्चों की मौत से माओं का गोद उजड़ना अति-दुःखद व दर्दनाक। तो भी वहाँ के सीएम श्री गहलोत स्वयं व उनकी सरकार इसके प्रति अभी भी उदासीन, असंवेदनशील व गैर-जिम्मेदार बने हुए हैं, जो अति-निन्दनीय।” उन्होंने एक अन्य ट्वीटकर कहा “ किन्तु उससे भी ज्यादा अति दुःखद है कि कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व व खासकर महिला महासचिव की इस मामले में चुप्पी साधे रखना। अच्छा होता कि वह यू.पी. की तरह उन गरीब पीड़ित माओं से भी जाकर मिलती, जिनकी गोद केवल उनकी पार्टी की सरकार की लापरवाही आदि के कारण उजड़ गई हैं।” सुश्री मायावती ने कहा कि यह सिर्फ कांग्रेस सरकार की ढिलाई का कारण है कि कोटा में इतनी बड़ी संख्या में बच्चों की मृत्यु हो गई। उन्होंने सुश्री वाड्रा से भी सवाल किया कि वह कोटा क्यों नहीं जा रही हैं, जहां कांग्रेस शासन में है। उन्होंने ट्वीट में कहा कि पिछले दिसंबर में कोटा में कम से कम 100 बच्चों की मौत हो गई है। बसपा सुप्रीमो ने राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को इस त्रासदी के लिए जिम्मेदार ठहराया। कहा कि यह सिर्फ कांग्रेस सरकार की ढिलाई के कारण है कि कोटा में इतनी बड़ी संख्या में बच्चों की मृत्यु हो गई। 

कोई टिप्पणी नहीं: