नव वर्ष के मौके पर भारत में पैदा हुए सर्वाधिक बच्चे : यूनिसेफ - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 2 जनवरी 2020

नव वर्ष के मौके पर भारत में पैदा हुए सर्वाधिक बच्चे : यूनिसेफ

maximum-baby-born-in-india-on-new-year
नयी दिल्ली, 02 जनवरी, नव वर्ष के पहले दिन एक जनवरी को सबसे अधिक बच्चे भारत में पैदा हुए। संयुक्त राष्ट्र बाल कोष (यूनिसेफ) ने अपनी रिपोर्ट में बताया है कि नव वर्ष के मौके पर भारत में कम से कम 67,385 बच्चे पैदा हुए थे। जबकि चीन में 46,299 बच्चों ने जन्म लिया और पाकिस्तान में 16,787 बच्चों ने जन्म लिया था। नव वर्ष के दिन पैदा होने वाले बच्चों के मामले में पहले क्रमांक पर भारत (67,385 बच्चे) , दूसरे स्थान पर चीन (46,299 बच्चे), तीसरे क्रमांक पर नाइजीरिया (26,039 बच्चे), चौथे पायदान पर पाकिस्तान (16,787 बच्चे) और पांचवें क्रमांक पर इंडोनेशिया (13,020 बच्चे) हैं। अमेरिका इस मामले में छठे स्थान पर है। अमेरिका में इस दिन 10,452 बच्चे पैदा हुए थे। यूनिसेफ की कार्यकारी निदेशक हेनरिटा फोर ने कहा, “नव वर्ष और नये दशक की शुरुआत न सिर्फ भविष्य की हमारी आशाओं और आकांक्षाओं को प्रतिबिंबित करने का एक अवसर है, बल्कि हमारे बाद इस दुनिया में आने वालों का भी भविष्य है। प्रत्येक जनवरी हमें उन संभावनाओं की याद दिलाती है, जो बच्चे अपने जन्म के समय लेकर आते हैं।” यूनिसेफ ने बताया कि वर्ष 25 लाख नवजात अपने जन्म के पहले महीने में काल के गाल में समा गये जिनमें से लगभग एक तिहाई नवजातों की महज तीन दिनों में मृत्यु हो गयी थी।  

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...