मधुबनी : NRC व CAA के खिलाफ महिलाओं ने बनाई 13 किलोमीटर की मानव श्रृंखला - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 2 जनवरी 2020

मधुबनी : NRC व CAA के खिलाफ महिलाओं ने बनाई 13 किलोमीटर की मानव श्रृंखला

nrc-caa-protest-madhubani
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) : जिला के सकरी थाना अंतर्गत तारसराय सीमा से पण्डौल तक पूर्व जिला पार्षद सईदा बानो के नेतृत्व मे नागरिक संशोधन के खिलाफ 13 किलोमीटर लंबी मानव श्रृंखला का निर्माण हुआ। इस मानव श्रृंखला में हजारो महिलाओ की जबरदस्त भागीदारी देखी गई। सभी महिलाओं ने केन्द्र सरकार द्वारा जबरदस्ती थोपे गये, नागरिक संशोधन के खिलाफ नारे लगा रहे थे। इस मौके पर मौजूद पूर्व जिला पार्षद सईदा बानो ने कहा कि असल देशभक्त तो हमलोग है। जिसको हम चुनकर संसद भेजते है, वें जो हमें देशभक्ति का पाठ पढ़ाते है। खुद पाकिस्तान जाकर मेहमानबाजी करके आते है, विकास का काम करते नहीं है। देश में अन्य बहुत सा महत्वपूर्ण समस्यायें है, उसका हल निकालने की सोचते नही है। बस आपस मे लोगो को लड़ने की नीति अपनाते है। लोगो को अपनी नाकामियां छिपाने के लिये नये-नये सगुफा छोड़ती रहती है। उसमें एक है, नागरिक संशोधन बिल। जिसकी कोई जरूरत नही है, हमें जो पहले संविधान बना हुआ है, वही चाहिय। संविधान से छेड़छाड़ हमें बर्दाश्त नही। बायकॉट NRC एवं रिजेक्ट CAA के नारे के साथ हमारी लड़ाई जारी रहेगी, जब-तक सरकार पुराना संविधान लागू नही करती है। मानव श्रृंखला के दौरान महिलाओं ने ‘हिन्दु-मुस्लिम एक है’ के नारे खुब लग रही थी। और नरेन्द्र मोदी व अमित साह के खिलाफ जम कर भड़ास निकाल रही थी। साथ ही सभी महिलाएं राष्ट्रीय गान गाकर एकता दिखा रही थी।

कोई टिप्पणी नहीं: