सरायकेला : 'कलयुगी बेटे' ने पिता की हत्या कर रिश्ते को किया शर्मसार, चौखट पर पटक कर उतारा मौत के घाट - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 9 जनवरी 2020

सरायकेला : 'कलयुगी बेटे' ने पिता की हत्या कर रिश्ते को किया शर्मसार, चौखट पर पटक कर उतारा मौत के घाट

son-killed-father-saraikela
सरायकेला (प्रमोद कुमार झा) सरायकेला में एक कलयुगी बेटे ने अपने ही पिता की घर के चौखट पर पटक-पटक कर हत्या कर दी. इस जघन्य अपराध की सूचना जब उसकी मां को मिली तो उसने फौरन ही इसकी जानकारी पास के पुलिस थाने को दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने उस हत्यारे बेटे को गिरफ्तार कर लिया है. जिले में फिर एक बार रिश्ते को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है. जिस बेटे को पिता ने जन्म दिया, लाड़-प्यार से जिसे अपनी उंगली पकड़कर दुनिया में चलना सिखाया, जिसकी हर ख्वाहिश को अपने खून पसीने की कमाई से पूरी की. उसी कलयुगी बेटे ने उसकी हत्या कर दी. मामला कांड्रा थाना अंतर्गत बांध टोला का है. 65 वर्षीय रवींद्र मोदक को उसके 32 वर्षीय बेटे मुकेश मोदक ने देर रात घर के अंदर की चौखट पर पटक-पटककर हत्या कर दी. इस जघन्य अपराध की सूचना जब रवींद्र मोदक की पत्नी को मिली तो फौरन उसने इसकी जानकारी नजदीकी पुलिस थाने को दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने उस हत्यारे बेटे को गिरफ्तार कर लिया. बेटे के हाथों विधवा हुई मां ने अपने इकलौते बेटे को गिरफ्तार करवा तो दिया, लेकिन उसके अंदर की ममता ने उसे झकझोर दिया और अपने बेटे को बचाने के लिए सड़कों पर सहारा खोज रही है. उसकी मां और परिजनों का कहना है कि मुकेश विक्षिप्त था और उसे छोड़ दिया जाना चाहिए. वहीं पिता के हत्यारे बेटे की पत्नी और दो बच्चे हैं, जिनकी परवरिश को लेकर उसकी मां का रो-रो कर बुरा हाल है. जानकारी के अनुसार 4 दिन पहले भी उसने अपने सर को घर के समीप हनुमान मंदिर में पटक कर लहूलुहान कर लिया था. परिजनों ने बताया कि उसने पागलपन के दौरान अपने पिता की हत्या की. वह रात भर अपने पूरे परिवार को परेशान भी करता रहा. उसने अपनी पत्नी और बच्चों को भी मारने की पहले कोशिश की थी, लेकिन उसके पिता को छोड़कर परिवार के सभी लोग घर छोड़कर रात में ही भाग गए थे. वहीं आरोपी बेटे को पुलिस विक्षिप्त नहीं मानते हुए हत्या का मामला दर्ज कर गिरफ्तार कर ले गई और पिता के शव को सरायकेला सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...