अंडर-19 विश्व कप में कल भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच प्रथम क्वार्टर फाइनल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 27 जनवरी 2020

अंडर-19 विश्व कप में कल भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच प्रथम क्वार्टर फाइनल

u-19-world-cup-cricket
भारत ने दो साल पहले पृथ्वी शॉ की अगुआई में ऑस्ट्रेलिया को हराकर अंडर-19 विश्व कप खिताब जीता था और अब उसके दो साल बाद भारत और ऑस्ट्रेलिया की अंडर-19 टीमें एक बार फिर विश्व कप में आमने-सामने होंगी। इस बार मुकाबला फाइनल का नहीं होकर क्वार्टर फाइनल का है।

प्रथम क्वार्टर फाइनल
हां,भारत ने न्यूजीलैंड के खिलाफ खेलकर शुक्रवार  को भारत की जीत हुई। इसके साथ ही 28 जनवरी को पॉट्फेस्टरूम के सेनेव्स पार्क में ऑस्ट्रेलिया के साथ भारत प्रथम क्वार्टर फाइनल में संघर्ष करने के लिए उतरेंगे।

द्वितीय क्वार्टर फाइनल
भारत से हारने के बावजूद, न्यूजीलैंड ने ग्रुप-ए की दूसरी टीम के रूप में भी क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई, वे 29 जनवरी को बेनोनी के विलोमोहर पार्क में ग्रुप बी के टॉपर्स वेस्ट इंडीज से भिड़ेंगे।

तृतीय क्वार्टर फाइनल
ग्रुप सी में शीर्ष पर रहने वाले बांग्लादेश की टीम दक्षिण अफ्रीका से भिड़ेगी, जो ग्रुप डी से दूसरे स्थान पर रही। वे 30 जनवरी को सेनवे पार्क, पोचेफस्ट्रूम में भिड़ेंगे।

चतुर्थ क्वार्टर फाइनल
इस बीच, अफगानिस्तान तीन मैचों में से पांच अंकों के साथ ग्रुप डी में शीर्ष पर रहा। वे पाकिस्तान से भिड़ेंगे, जो ग्रुप सी में दूसरे स्थान पर रहे, 31 जनवरी को विलोमोरा पार्क, बेनोनी में। भारत ने शुक्रवार को यहां न्यूजीलैंड को बारिश से बाधित मैच में डकवर्थ-लुईस नियम के आधार पर 44 रन से हराकर ग्रुप-ए में शीर्ष पर रहते हुए अंडर-19 विश्व कप के क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। भारत की ओर से सलामी बल्लेबाजों यशस्वी जायसवाल और दिव्यांश सक्सेना ने अर्धशतक ज़़डे, जबकि स्पिनर रवि बिश्नोई और अथर्व अंकोलेकर ने शानदार गेंदबाजी की। हालांकि, न्यूजीलैंड के लिए राहत की बात यह रही कि हार के बावजूद उसकी टीम भी क्वार्टर फाइनल में पहुंचने में सफल रही। भारतीय टीम ने पहले बल्लेबाजी का न्योता मिलने पर जब 21 ओवर में बिना किसी नुकसान के 105 रन बनाए थे तभी बारिश आ गई। इसके बाद जब खेल शुरू हुआ तो मैच 23-23 ओवर का कर दिया गया। भारत ने यशस्वी जायसवाल (नाबाद 57) और दिव्यांश सक्सेना (नाबाद 52) की शानदार पारियों से बिना किसी नुकसान के 115 रन बनाए। न्यूजीलैंड की टीम को डकवर्थ-लुईस नियम के आधार पर जीत के लिए 192 रन का लक्ष्य मिला। उसने धमाकेदार शुरआत की और एक समय उसका स्कोर दो विकेट पर 83 रन था, लेकिन तेजी से रन बनाने के प्रयास में बाद में उसके विकेट उख़़डते गए और आखिर में पूरी कीवी टीम 21 ओवर में 147 रन पर आउट हो गई। न्यूजीलैंड के चार बल्लेबाज दोहरे अंक में पहुंचे। इनमें सलामी बल्लेबाज रियास मारियू ने सर्वाधिक 42 रन बनाए, जबकि फर्गुस लेलमैन ने 31 रन का योगदान दिया। रवि बिश्नोई ने 30 रन देकर चार और अथर्व अंकोलेकर ने 28 रन देकर तीन विकेट लिए। भारतीय टीम ने इस तरह से ग्रुप--ए में अपने सभी तीन मैच जीतकर शीषर्ष पर रहकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...