जमशेदपुर :18 साल बाद भी सरायेकला में नहीं बन सका एक भी बल्ड बैंक, जल्द होगी व्यवस्था - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 10 फ़रवरी 2020

जमशेदपुर :18 साल बाद भी सरायेकला में नहीं बन सका एक भी बल्ड बैंक, जल्द होगी व्यवस्था

blood-bank-saraykela
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता) सरायकेला जिला बने हुए 18 साल बीत गए लेकिन अब तक जिले में एक भी ब्लड बैंक नहीं बन सका है. वहीं मंत्री बनने के बाद पहली बार सरायकेला पहुंचे स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि जल्द स्वास्थ्य सेवा बेहतर करने की योजना बनेगी. सरायकेलाः राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता मंत्रिमंडल में शामिल होने के बाद पहली बार सरायकेला पहुंचे. जहां उन्होंने कहा कि सरायकेला-खरसावां जिला समेत राज्य में स्वास्थ्य सेवा बेहतर होगी. वहीं सरायकेला जिला गठित हुए 18 साल बीत जाने के बाद भी अब तक जिले में ब्लड बैंक की स्थापना नहीं होने के मुद्दे पर स्वास्थ्य मंत्री ने संज्ञान लेते हुए कहा कि जल्द ही ब्लड बैंक निर्माण की योजना बनाई जाएगी. मंत्री बन्ना गुप्ता ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए बताया कि राज्य में बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध होंगी. इसे लेकर स्वास्थ्य विभाग और सरकार लगातार प्रयास कर रहा है. मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि स्वास्थ्य महकमे में किसी भी प्रकार की अफसरशाही नहीं चलने दी जाएगी, चाहे छोटे कर्मचारी हो या बड़े अधिकारी. सभी मानवता के नाते अपने कार्य को करेंगे. बन्ना गुप्ता ने पत्रकारों  को बताया कि ड्रग इंस्पेक्टर ने पूर्व में कायम किए गए इंस्पेक्टर राज को अब पूर्णतया समाप्त कर दिया है. जबकि अवैध वसूली जैसे शिकायत मिलने पर दोषी अधिकारी किसी भी हाल में बख्शे नहीं जाएंगे. सरायकेला जिला गठित हुए 18 साल बीत जाने के बाद भी ब्लड बैंक नहीं बनने के मुद्दे पर मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि मामला संज्ञान में आया है. जिस पर अवश्य कार्रवाई की जाएगी. इन्होंने आश्वस्त किया कि शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्र में स्वास्थ्य मसले सरकार की प्राथमिकता में शुमार हैं. बन्ना गुप्ता ने कहा कि मंत्रिमंडल में शामिल होते ही इन्होंने स्वास्थ्य विभाग के भावी और वर्तमान योजनाओं को गहनता से जाना है. जिस पर यह आगे ठोस निर्णय लेंगे. मंत्री ने साफ किया कि यह कोई जादू की छड़ी नहीं कि घूमाते ही कार्य पूरे होगे, इसमें वक्त लगेगा और लोगों को भी धैर्य रखने की आवश्यकता है. राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा है कि मुख्यमंत्री गंभीर बीमारी योजना में लाभुकों के चयन में वार्षिक आय 72 हजार रुपए को बढ़ाते हुए अब आठ लाख कर दिया गया है. यानि जो व्यक्ति प्रतिवर्ष 8 लाख तक सालाना आय कमाता है. उसे राज्य में इस योजना का भरपूर लाभ मिल सकेगा. जो कि स्वास्थ्य के क्षेत्र में मील का पत्थर साबित होगी. मंत्री बन्ना गुप्ता ने केंद्र के आयुष्मान भारत योजना के विसंगतियों को गिनाते हुए मुख्यमंत्री गंभीर बीमारी योजना को इससे बेहतर बताया है.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...