जमशेदपुर : शव का दाह संस्कार नहीं करने का निर्णय लिया गया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 27 फ़रवरी 2020

जमशेदपुर : शव का दाह संस्कार नहीं करने का निर्णय लिया गया

त्रिस्तरीय वार्ता में पीड़िता के परिजन संतुष्ट नहीं हुएसंलिप्त पदाधिकारियों की अविलंब गिरफ्तारी की मांग की गई टाटा स्टील के पदाधिकारियों पर प्राथमिकी दर्ज कर कार्रवाई शुरूटाटा स्टील के दबाव के कारण मृतक की संदिग्ध मौत :- पंचायत प्रतिनिधि
decide-not-to-cremit-dead-bodyजमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता) टाटा स्टील के दबाव के कारण उमेश पांडे पांडेय के संदिग्ध मौत होने पर टाटा स्टील के संबंधित पदाधिकारियों की अविलंब गिरफ्तारी, मृतक के स्पेयर कंपनी का टाटा स्टील पर ₹2700000 का बकाया भुगतान नहीं किए जाने पर आज भी शव का दाह संस्कार नहीं किया गया। जब तक पंचायत प्रतिनिधियों की मांगे पूरी नहीं होगी तब तक शव का दाह संस्कार नहीं करने का निर्णय लिया गया और 3 मार्च को शव के साथ बिष्टुपुर स्थित जेएन टाटा के मूर्ति के समक्ष श्रद्धांजलि अर्पित कर अपनी मांगों को लेकर जोरदार प्रदर्शन करने का भी निर्णय लिया गया है। इसके पूर्व बिष्टुपुर थाना प्रभारी के कक्ष में त्रिस्तरीय वार्ता संपन्न हुई। जिसमें प्रशासन के तरफ से बिष्टुपुर थाना प्रभारी राजेश प्रकाश, टाटा स्टील के तरफ से कोकोभेनस विभाग के चीफ राजीव मल्होत्रा, सिक्योरिटी हेड केशव सिंह और पंचायत प्रतिनिधि के तरफ से जिला परिषद किशोर यादव, मुखिया प्रतिमा मुंडा, उप मुखिया सुनील गुप्ता, पूर्व मुखिया राजकुमार गौड़, बन्ना गुप्ता फैंस क्लब के अध्यक्ष अनिल सिंह, समाजसेवी ब्रिज तिवारी तथा मृतक के तरफ से मृतक के भाई लक्ष्मी चंद्र पांडे ,सुकेश नवीन उपस्थित थे। त्रिस्तरीय वार्ता में मृतक के उनके बड़े भाई एवं उनके सहयोगियों सहित पंचायत प्रतिनिधियों ने टाटा स्टील के पदाधिकारियों के समक्ष मृतक उमेश कुमार पांडे के द्वारा टाटा स्टील कंपनी में किए गए कार्यों का ₹27 लाख रुपए का भुगतान, उनके बड़े भाई लक्ष्मीकांत पांडे का दोनों किडनी खराब होने पर टीएमएच में निशुल्क इलाज और इस घटना में संलिप्त पदाधिकारियों की गिरफ्तारी की मांगे रखी गई। जिसमें टाटा स्टील के पदाधिकारियों ने vpcs बीपीसीएस के पास मांगे रखकर बताने की बात कही। इस बात पर  पीड़ित के परिजन संतुष्ट नहीं हुए और शव का दाह संस्कार करने से इंकार कर दिए।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...