भारत ने अमेरिका, तालिबान समझौते का किया स्वागत - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 29 फ़रवरी 2020

भारत ने अमेरिका, तालिबान समझौते का किया स्वागत

india-welcome-usa-taliban-talk
नयी दिल्ली 29 फरवरी, भारत ने कतर की राजधानी दोहा में अमेरिका और तालिबान के बीच हुये शांति समझौते एवं काबुल में अफगानिस्तान तथा अमेरिका की सरकारों की संयुक्त घोषणा का शनिवार को स्वागत किया। साथ ही कहा है कि भारत की नीति अफगानिस्तान में शांति, सुरक्षा और स्थितरता लाने वाले सभी अवसरों का समर्थन करना है। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने यहां मीडिया से कहा, “भारत की नीति अफगानिस्तान में शांति, सुरक्षा और स्थितरता लाने वाले सभी अवसरों का समर्थन करना है। इन अवसरों में अफगानिस्तान में हिंसा समाप्त होना, अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद के साथ संबंध समाप्त होना और अफगानिस्तान के नेतृत्व, स्वामित्व और नियंत्रण में एक स्थायी राजनीति समझौता होना है। ” उन्होंने कहा, “अफगानिस्तान में सरकार, लोकतांत्रिक व्यवस्था और नागरिक समाज समेत पूरे राजनीतिक तंत्र ने इस अवसर का स्वागत किया है और इन समझौतों से शांति एवं स्थिरता की उम्मीद की है।” उन्होंने कहा कि भारत एक निकटवर्ती पड़ाेसी देश के रूप में अफगानिस्तान में शांति स्थापना और समाज के सभी वर्गों के हितों की सुरक्षा करने वाले लोकतांत्रिक और समृद्ध भविष्य के लिए अफगानिस्तान की सरकार और लोगों काे सभी तरह की सहायता देना जारी रखेगा। 

कोई टिप्पणी नहीं: