मधुबनी : जिला पदाधिकारी ने की विभिन्न शाखाओं की समीक्षा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 24 फ़रवरी 2020

मधुबनी : जिला पदाधिकारी ने की विभिन्न शाखाओं की समीक्षा

madhubani dm
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता) जिला पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा सोमवार को समाहरणालय स्थित अपने कार्यालय कक्ष में विभिन्न शाखाओं में कार्यरत कर्मियों के उपस्थिति एवं दायित्यों की समीक्षा की गयी।   जिला पदाधिकारी,मधुबनी के द्वारा विभिन्न शाखाओं यथा- जिला स्थापना शाखा, जिला सामान्य शाखा, जिला नजारत शाखा, जिला नीलाम पत्र शाखा, जिला राजस्व शाखा, जिला विधि शाखा, जिला योजना शाखा, जिला विकास शाखा, जिला आपदा प्रबंधन शाखा, जिला सामाजिक सुरक्षा कोषांग, जिला अभिलेखागार, जिला निर्वाचन शाखा, जिला कल्याण शाखा, जिला अल्पसंख्यक कल्याण शाखा, जिला आपूर्ति शाखा, जिला कल्याण शाखा, आर0 टी0 पी0 एस0 शाखा सहित अन्य शाखाओं की समीक्षा की गयी। समीक्षा के क्रम में सभी पदाधिकारियों एवं कर्मियों को कर्म पुस्तिका संधारित करने, कार्यालय की कार्यप्रणाली में  सुधार लाने एवं 30 दिनों का कार्य योजना तैयार कर उसपर शीघ्र कारवाई करने का निदेश दिया गया। जिला नजारत शाखा को लेखा पंजी अद्यतन करने का निदेश दिया गया। जिला पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा जिला पंचायती राज पदाधिकारी को विशेष जांच अभियान चलाकर नल-जल योजना का स्थलीय जांच कराने का निदेश दिया गया। जिला स्थापना शाखा को सभी कर्मियों का लॉग बुक का संधारण कराने, विभागीय कार्यवाही किन- किन कर्मियों पर चल रही है, संचालन पदाधिकारी के पास कितने मामले लंबित है तथा कितने दिनों से लंबित है, इससे सम्बंधित प्रतिवेदन तैयार करने का निदेश दिया गया । जिला सामान्य शाखा में चौकीदार के अनुकंपा नियुक्ति के लंबित मामले, चौकीदार के विरुद्ध गंभीर माले तथा अन्य मामले की समीक्षा कर प्रतिवेदन देने का निदेश दिया गया। जिला नजारत शाखा को जिला अतिथि गृह एवं जिला गोपनीय शाखा के भंडार पंजी की समीक्षा करने, जेम पोर्टल खाता का क्रियान्वयन करने तथा लंबित ए0 सी0/डी0 सी0 विपत्रों का प्रेषण करने आदि का निदेश दिया गया। जिला राजस्व शाखा को अगले 1 माह में ऑनलाइन म्यूटेशन की 75 प्रतिशत उपलब्धि प्राप्त करने एवं अगले 1 माह में ऑनलाइन लगान वसूली की 80 प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त करने का निदेश दिया गया। जिला विधि शाखा को सी0 डब्लू0 ई0 टी0 ए0 ट्रैकिंग एप्प को 15 दिनों में लागू करने,  उच्च न्यायालय से सम्बंधित लंबित मामलो के निष्पादन हेतु डी0 ओ0 पत्र तैयार करने का निदेश दिया गया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...