पूर्णिया : रेणु श्रृजन सम्मान-2020 से सम्मानित होंगे मिथिलेश सिंह - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 27 फ़रवरी 2020

पूर्णिया : रेणु श्रृजन सम्मान-2020 से सम्मानित होंगे मिथिलेश सिंह

mithilesh-singh-renu-award
पूर्णिया  (आर्यावर्त संवाददाता) कोशी आलोक प्रोडक्शन एवं आयोजन समिति के द्वारा 4 मार्च 2020 को अमर कथा शिल्पी फणीश्वरनाथ रेणु जी के शताब्दी दिवस पर कला भवन, पूर्णिया में रेणु श्रृजन सम्मान-2020 (द रेणु अवार्ड-2020) का आयोजन किया जाएगा। जिसमें कला साहित्य व पत्रकारिता के क्षेत्र में उत्कृष्ठ कार्य करने वालों को सम्मानित करने का निर्णय लिया है। आयोजक कोशी आलोक प्रोडक्शन के निदेशक सुनील सुमन ने बताया कि पूर्णिया को अपने स्तर से योगदान देकर सजाने व संवारने वालों को सम्मानित किया जा रहा है। इसके लिए बाकायदा आयोजन समिति का भी गठन किया गया है। जिसके सदस्य मिथिलेश राय,  विश्वजीत सिंह छोटू, एमएच रहमान, एमएन बादल, उमेश आदित्य, कुंदन सिंह, भोला नाथ आलोक को बनाया गया है। श्री सुमन ने बताया कि कला भवन में आयोजित इस कार्यक्रम में सीमांचल उदय (साप्ताहिक अखबार) के संपादक मिथिलेश कुमार सिंह को रेणु श्रृजन सम्मान-2020 से सम्मानित किया जाएगा। बता दें कि श्री सिंह 1980 से पत्रकारिता के क्षेत्र में अपना योगदान दे रहे हैं। पूर्णिया से प्रकाशित पहला दैनिक अखबार इंडियन पंच के संपादक रह चुके हैं। इसके अलावा उन्होंने आर्यावर्त, नव भारत टाइम्स, दैनिक जागरण, सन्मार्ग, नई दुनिया, पंजाब केसरी, भारत दर्पण, जनपथ समाचार, मित लोक और मित युग सहित कई अन्य साप्ताहिक व मासिक पत्र पत्रिकाओं में अपना योगदान दे चुके हैं। श्री सिंह के संपादन में प्रकाशित मित लोक में देश के जाने माने कवि और साहित्यकारों की भी रचना प्रकाशित हुई। इसके अलावा पत्रकारिता में योगदान देने वाले गंगा चौधरी, चिकित्सा क्षेत्र में डॉ शम्स आरिफ, डॉ वीसी रॉय, डॉ केएस आनंद, डॉ रजनीश, डॉ विजय राघवन के अलावा एसआर एहसान, रानी बाखला को सम्मानित किया जाएगा। निदेशक ने कहा कि पूर्णिया के 250 वर्ष पूरा होने के उपलक्ष्य में कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सम्मानित होने वाले लोगों ने अपने अपने क्षेत्र में उत्कृष्ठ कार्य किया है। कला भवन में 11 बजे से आयोजित इस कार्यक्रम में 11बजे से परिचर्चा एवं सम्मान समारोह का भी आयोजन किया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...