बिहार : मरियम तीर्थधाम में शोभा यात्रा निकाली गयी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 2 फ़रवरी 2020

बिहार : मरियम तीर्थधाम में शोभा यात्रा निकाली गयी

mother-marium-journy-mokama
मोकामा,02 फरवरी। आज रविवार को मां मरियम तीर्थधाम में शोभा यात्रा निकाली गयी। बिहार के कोने-कोने से मां मरियम के भक्तगण शिरकत करने आए थे। इसमें सभी धर्मों के श्रद्धालु भाग लिए।शोभा यात्रा का नेतृत्व पटना महाधर्मप्रांत के महाधर्माध्यक्ष विलियम डिसूजा, महाधर्मप्रांत के विकर जेनरल फादर प्रेम,एंग्लो इंडियन समुदाय से झारखंड विधान सभा में मनोनीत विधायक ग्लेन जोसेफ गॉलस्टान और राज्य अल्पसंख्यक आयोग के पूर्व उपाध्यक्ष एब्रोस पैट्रिक कर रहे थे।

बिहार के अलावा दूसरे राज्यों से भी थे आए
ईसाई समुदाय की अाेर से मोकामा में मां मरियम तीर्थ यात्रा का आयोजन किया गया। प्रत्येक साल फरवरी महीने के पहले रविवार को यह यात्रा आयोजित की जाती है। मरियम तीर्थ यात्रा में बिहार के कोने-कोने से ईसाई समुदाय के लोग शिरकत किए। कुर्जी पल्ली पटना से सैकड़ों की संख्या में पदयात्रा करके आए।पश्चिमी मैनपुरा ग्राम पंचायत के पूर्व मुखिया भाई धर्मेंद्र के द्वारा 42 बस की व्यवस्था की गयी।उसी बस से हजारों की संख्या में लोग भाग लिए। चुहड़ी और मड़पा पल्ली के लोगों ने बस की व्यवस्था की थी।उस पर चढ़कर आए थे। बिहार के अलावा दूसरे राज्यों में आसनसोल से भक्तगण आए। कुल मिलाकर बीस हजार की संख्या में लोग भाग लिए।

कई लोगों के प्रयास से स्पेशल ट्रेन अल्पसंख्यक ईसाई कल्याण संघ,पटना के महासचिव
एस.के.लॉरेंस ने कहा कि आज(02.02.2020) के दिन प्रात: साढ़े आठ बजे डी.आर.एम. दानापुर ने एस.के.लॉरेंस को फोन कर मोकामा यात्रा के लिये स्पेशल ट्रेन को समय पर खोलने तथा लगभग समय पर पहुंच जाने की जानकारी दी।साथ ही  लॉरेंस से यह  जानकारी ली है कि तीर्थयात्री गण आराम से पहुंच गए हैं न! एस.के.लॉरेंस ने अल्पसंख्यक ईसाई कल्याण संघ तथा ईसाई समुदाय की तरफ से उन्हें धन्यवाद देते हुए भविष्य में भी इस सुविधा को चालू रखने के लिये आग्रह किया है तथा उन्होने इसके लिये आश्वासन दिया है।ज्ञात हो कि उन्होने दो दिन पहले भी तीर्थ यात्रा हेतु स्पेशल ट्रेन पटना से मोकामा के लिये खोलने की जानकारी एस.के. लॉरेंस को दी थी।हो सके तो यह जानकारी लोगों को देने का कष्ट करें।

पटना से लेकर मोकामा तक पुलिसिया चौकसी
मां मरियम तीर्थ यात्रा को लेकर एसडीओ सुमित कुमार ने तैयारियों की समीक्षा की थी। एसडीओ ने मोकामा चर्च परिसर का दौरा कर सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा की और पुलिस के अलावा मजिस्ट्रेट की तैनाती की समीक्षा की। बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अल्पसंख्यक विभाग के उपाध्यक्ष सिसिल साह और अल्पसंख्यक ईसाई कल्याण संघ के महासचिव एस.के.लॉरेंस ने पत्र प्रेषित कर 2 फरवरी को व्यापक सुरक्षा प्रदान करने की मांग की थी।

चार भाषाओं में पुरोहितों ने सुने पापस्वीकार
सात संस्कारों में पापस्वीकार भी एक संस्कार है।ईसाई समुदाय पुरोहित के पास जाकर किए पापों का जिक्र करता है।मामूली प्रार्थना करने के दण्ड देने के बाद पुरोहित कहते हैं कि जाओं दुबारो पाप न करना।आज पुरोहित हिन्दी,इंग्लिस,मलयालम व संथाली भाषा में पापस्वीकार सुने। आज पुरोहित ने शैतान के चंगुल में नहीं फंसने का आह्वान भक्तों किया।वहीं विवाद उत्पन्न हो गया है। राजन क्लेमेंट साह ने कहा गया कि प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी माँ मरियम की मोकामा तीर्थ यात्रा में शामिल होकर माँ से प्रार्थना पूजा कर माँ का आशीष प्राप्त करने के लिए बधाई। हमारे कितने भाई बहन पैदल कठिन यात्रा तय कर के भी माँ का आशीष पाने गए थे जो कि हमारे माँ मरियम के प्रति भक्ति का प्रमाण है। परंतु दुख तब हुआ जब ये प्रार्थना पूजा  सभा में राजनैतिक रैल्ली की तरह भाषण होने लगा। और तो और अनेको पुरोहित गण एवम महामहिम बिशप स्वामी की उपस्थिति में। क्या ये प्रार्थना सभा के भक्तिमय वातावरण के अनुकूल था। चिंतन का विषय है। यदि में गलत हूँ तो क्षमा  प्रार्थी हूँ।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...