देविंदर सिंह माम NIA ने शाेपियां में दूसरे दिन भी की छापेमारी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 3 फ़रवरी 2020

देविंदर सिंह माम NIA ने शाेपियां में दूसरे दिन भी की छापेमारी

nia-raids-in-shopiyan-for-devinder-singh-case
श्रीनगर 03 फरवरी, राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने जम्मू-कश्मीर के बर्खास्त पुलिस अधिकारी दविंदर सिंह के कथित तौर पर आतंकवादियों से संबंध के मामले में सोमवार को दूसरे दिन भी शोपियां में कई ठिकानों पर छापेमारी की। दविंदर सिंह को गत माह हिजबुल मुजाहिद्दीन के दो आतंकवादियों के साथ गिरफ्तार किया गया था जिसने जम्मू-कश्मीर और केन्द्र की सुरक्षा एजेंसियों को हैरात में डाल दिया थ। इससे पहले शनिवार को एनआईए का एक 20 सदस्यीय दल दविंदर सिंह के खिलाफ और सबूत जुटाने करने के लिए यहां कश्मीर घाटी पहुुंचा था। आधिकारिक सूत्रों ने यूनीवार्ता को बताया कि एनआईए ने सोमवार सुबह शोपियां में कई ठिकानों पर छापेमारी की। टीम ने हिजबुल मुजाहिद्दीन (एचएम) के आतंकवादी के घर पर छापा मारा जिसकी पहचान पिंजौर निवासी उमर दोबी के रूप में हुयी है। इसके अलावा एक अन्य आतंकवादी फारूक अहमद और शोपियां में कुछ अन्य स्थानों पर भी छापे मारी की गयी। इसके अलावा दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में अवरिगुंड त्राल में पुलिस उपाधीक्षक सिंह के आवास में भी छापे मारे गये। रविवार को एनआईए ने शोपियां में पांच स्थानों पर छापे मारे। सूत्रों ने बताया कि एनआईए के उप महानिरीक्षक रैंक के अधिकारी के नेतृत्व वाली टीम शनिवार को अनंतनाग गयी और पुलिस अधिकारियों के साथ एक बैठक की। इस समय एनआईए के अधिकारी दविंदर सिंह को रिमांड पर लेकर जम्मू में पूछताछ कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि एजेंसी इस मामले में आगे और भी छापे मारी कर सकती है। तत्कालीन पुलिस उपाधीक्षक दविंदर सिंह को 11 जनवरी को तीन लोगों के साथ गिरफ्तार किया गया था। जिनमें हिजबुल मुजाहिद्दीन के कमांडर नवीद बाबू और रफी अहमद भी शामिल थे। उसकी गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने राज्य में कई ठिकानों पर छापेमारी की थी। आराेपी दविंदर सिंह जम्मू-कश्मीर पुलिस की विमान अपहरण निरोधक शाखा में अधिकारी था और श्रीनगर अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर तैनात था।  

कोई टिप्पणी नहीं: