संजय सिंह ने योगी के प्रचार पर रोक लगाने की मांग की - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 2 फ़रवरी 2020

संजय सिंह ने योगी के प्रचार पर रोक लगाने की मांग की

sanjay-singh-demand-ban-on-yogi
नयी दिल्ली , 02 फरवरी, आम आदमी पार्टी (आप) के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के दिल्ली में चुनाव प्रचार पर रोक लगाने और उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की निर्वाचन आयोग से मांग की है। श्री सिंह ने रविवार को पार्टी मुख्यालय में पत्रकारों से बातचीत में कहा “ मैं पहले भी कह चुका हूं कि नेता और मुद्दा विहीन भारतीय जनता पार्टी दिल्ली में चुनावों को खलल डालने की साजिश कर रही है, और जब मैंने यह बात कही थी तो मुझसे इस बात के साक्ष्य मांगे गए थे।” श्री सिंह ने कहा कि पहले तो भाजपा के दो बड़े केंद्रीय मंत्री दंगे कराने के लिए भड़काऊ भाषण देते हैं, उसके बाद तमंचा कल्चर के लोग निकल कर आते हैं ,खुलेआम बंदूकें लहराते हैं और पुलिस के सामने दिल्ली की सड़कों पर गोलियां चलाते हैं तथा पुलिस खड़ी रहती है। श्री सिंह ने कहा “ मैंने पहले भी कहा था और आज भी कहता हूं कि पुलिस के हाथ किसी और ने नहीं गृहमंत्री अमित शाह ने बांधे हुए हैं।” उन्होंने कहा कि भाजपा के पास चुनाव लड़ने के लिए कोई मुद्दा नहीं है, वह देश की अर्थव्यवस्था नहीं संभाल पा रही है, और इसका एक प्रमाण भाजपा द्वारा कल पेश किया गया बजट है जिसके बाद शेयर बाजार में निवेशकों के चार लाख करोड रुपए डूब गये। सेंसेक्स पिछले 11 वर्षों में सबसे अधिक हजार अंक तक नीचे गिर गया। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री दिल्ली में आकर भड़काऊ भाषण दे रहे हैं, गोलियां चलाने की बात कर रहे हैं। मेरा चुनाव आयोग से अनुरोध है कि भड़काऊ भाषण देने के लिए उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाये और उनके चुनाव प्रचार पर रोक लगायी जाए। उल्लेखनीय है कि आम आदमी पार्टी ने मुख्यमंत्री आदित्यनाथ की ओर से दिए गए बयान “बोली से नहीं माने तो गोली से तो मान जाएंगे” पर कड़ी आपत्ति दर्ज करते हुये चुनाव आयोग को पत्र लिखकर श्री आदित्यनाथ के दिल्ली में चुनाव प्रचार पर तत्काल रोक लगाने और एफआईआर दर्ज कराने की मांग की है। आप सांसद ने चुनाव आयोग से मिलने का समय मांगा है। चुनाव आयोग से समय न मिलने पर वह अन्य नेताओं के साथ चुनाव आयोग के दफ्तर के बाहर सोमवार को धरना करेंगे।  

कोई टिप्पणी नहीं: