विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 29 फ़रवरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 29 फ़रवरी 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 29 फ़रवरी

नेत्र परीक्षण जांच  एवं पायरिया मसूड़ों की जांच शिविर 1मार्च को

विदिशा।सेवा भारती भवन श्रीकृष्ण कालोनी दुर्गानगर विदिशा में दिनांक 1 मार्च  रविवार को सुबह 11 बजे से आधुनिक मशीनों द्वारा नेत्र परीक्षण की जांच सजल जैन (ऑप्टोमेट्रिकस)द्वारा की जाएगी। ऐसे मरीज जिन्हें आँखों से  या नजर से सबंधित कोई भी समस्या हो इस शिविर का लाभ ले सकते हैं। पायरिया मसूड़ों से पीड़ित मरीजों की जांच डॉ रुचि गुलाटी द्वारा की जाएगी।ऐसे मरीज  जिनके मसूडों में सूजन,खून एवं पस आता है,मुँह से दुर्गंध आना, इस शिविर का लाभ ले सकते हैं।दोनों शिविरों का लाभ लेने के लिए मरीज अपना पंजीयन सेवा भारती में 1 मार्च को सुबह 10 बजे से 12 बजे तक करा सकते हैं। विदिशा  से बाहर के मरीज अपना पंजीयन 8770273282 पर करा सकते हैं।

प्रभारी मंत्री श्री हर्ष यादव जी का दौरा कार्यक्रम

कुटीर एवं ग्रामोद्योग नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री श्री हर्ष यादव दो मार्च को विदिशा आएंगे। प्रभारी मंत्री श्री यादव का प्राप्त दौरा कार्यक्रम अनुसार दो मार्च सोमवार की प्रातः दस बजे भोपाल से प्रस्थान कर प्रातः 11 बजे विदिशा के सर्किट हाउस में आगमन उपरांत जनप्रतिनिधियों व आमजनों से सौजन्य भेंट करेंगे। प्रभारी मंत्री श्री यादव दोपहर 12 बजे जय किसान फसल ऋण माफी योजना के सम्मेलन कार्यक्रम में शामिल होंगे। यह कार्यक्रम पुरानी कृषि उपज मंडी परिसर में आयोजित किया गया है। प्रभारी मंत्री दोपहर तीन बजे मुखर्जीनगर में निवासरत श्री भरत सिंह यादव के निवास पर पहुंचेगे। इसके पश्चात् दोपहर 3.30 बजे विदिशा से भेपाल  के लिए रवाना होंगे। 

भू-अभिलेख की प्रतियां कियोस्क के माध्यम से 

भू-अभिलेख एवं बंदोबस्त आयुक्त द्वारा जारी पत्र का हवाला देते हुए अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि अब एमपी ऑन लाइन कियोस्क के माध्यम से भू-अभिलेख की प्रतियां उपलब्ध कराई जाएगी। इसके लिए बकायदा किश्त निर्धारित की गई है। भू स्वामियों को प्रदाय करने हेतु एमपी ऑन लाइन को प्राधिकृत सेवा प्रदाता नियुक्त किया गया है। जिसके तहत वेब जीआईएस पोर्टल के माध्यम से कृषकों, भू-धारकों को शासन द्वारा निर्धारित दर पर एमपी ऑन लाइन कियोस्क द्वारा प्रतिलिपियां प्रदाय करने हेतु अधिकृत किया गया है। अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने बताया कि विदिशा जिले में दो मार्च से उक्त नवीन प्रक्रिया का क्रियान्वयन शुरू होगा। समस्त तहसीलों में समारोहपूर्वक शुभांरभ करने के निर्देश समस्त अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को प्रेषित किए गए है। जिले के सभी कृषक भू-धारकों को लगभग साढे चार सौ एमपी ऑन लाइन कियोस्क केन्द्रों के माध्यम से अब सुगमतापूर्वक भू-अभिलेख की प्रतियां प्राप्त हो सकेगी। शासन द्वारा भू-अभिलेख प्रतियां प्रदाय करने की नवीन दरे जारी की गई है। तदानुसार एक साल, पांच साल खसरा या खाता जमाबंदी अधिकार अभिलेख के प्रथम पृष्ठ की फीस तीस रूपए तथा प्रत्येक अतिरिक्त पृष्ठ के लिए 15 रूपए देय होंगे। इसी प्रकार वाजिब उल अर्ज निस्तार पत्रक के लिए प्रथम पृष्ठ तीस रूपए प्रत्येक अतिरिक्त पृष्ठ के लिए 15 रूपए तथा ए-4 आकार में नक्शे की प्रति प्राप्ति के लिए प्रथम पृष्ठ की फीस तीस रूपए जबकि प्रत्येक अतिरिक्त पृष्ठ के लिए क्रमशः 15-15 रूपए की राशि देय होगी। 

जीवन पर्यन्त सुविधाएं मिले-विधायक 

vidisha news
लकवाग्रस्त मरीजों एवं उनके पारिवारिकजनों के लिए निःशुल्क जागरूकता एवं रोग निदान शिविर शनिवार को सिटी हास्पिटल परिसर में आयोजित किया गया था। शिविर को सम्बोधित करते हुए विदिशा विधायक श्री शशांक भार्गव ने कहा कि दिव्यांगजनों के लिए आवश्यक उपकरणों की पूर्ति होगी। जिसका लाभ वे जीवनपर्यन्त तक उठा सकेंगे। नए परिवेश में बेहतर वातावरण दिव्यांगजनों मिलें। यही प्रयास हम सबका होना चाहिए। विधायक श्री भार्गव ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा दिव्यांगजनों के उत्थान और विकास के लिए जो कार्यक्रम संचालित किए जा रहे है का उन्हें पूरा-पूरा लाभ मिलें। इस प्रकार के शिविर बार-बार आयोजित हों ताकि दिव्यांगजन अपनी शारीरिक समस्या से निजात पा सकें। सिटी हास्पिटल में वृद्वाश्रम की भी शुरूआत की जा रही है यहां सौ बिस्तरा की व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने कहा कि रेडक्रास की टीम सेवाभावी भावना से सेवा करने हेतु सहमत हुई है। कार्यक्रम को श्री अतुल शाह, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केसी अहिरवार ने भी सम्बोधित किया। कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने भी लकवाग्रस्त मरीजो के उपचार हेतु आयोजित शिविर का मुआयना किया और व्यवस्थाओं के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए है। शिविर में उपलब्ध कराई गई सुविधाओं पर सामाजिक न्याय विभाग के उप संचालक डॉ पीके मिश्रा के द्वारा प्रकाश डाला गया। प्रातः दस बजे से शुरू होगा। शिविर में शामिल होने के लिए निःशुल्क पंजीयन हेतु 7089189189 पर दर्ज कराया जा सकता है। हम साथ है एक अनोखी निःशुल्क हेल्पलाइन जो लकवा मरीजों के परिवारजनों को मरीजों से संबंधित सभी आयामों की जानकारी देती है जो आपको सही तरीके से इलाज करने व करवाने में मदद करेगी। विदिशा में आयोजित होने वाले रोग निदान शिविर में जिन बीमारियों की फिजियोथैरेपी व परामर्श दिया जाएगा उनमें लकवा, मुंह का टेढ़ा होना, चेहरे का लकवा, पैराप्लिजिया व क्वाड्री प्लिजिया, मांसपेशियों में कमजोरी आना, अचानक पूरे शरीर का काम ना कर पाना, बैलेंस प्रोब्लम, चलने में लचक आना, सेरेब्रल पाल्सी, रिस्ट ड्रोप व फुट ड्रोप, पार्किन्सन बीमारी, नसों का दर्द इत्यादि शामिल है। शिविर में मरीजों के लिए निःशुल्क भर्ती होने की सुविधा उपलब्ध रहेगी। 

जिला पंचायत की सामान्य बैठक सम्पन्न

जिला पंचायत अध्यक्ष श्री तोरण सिंह दांगी की अध्यक्षता में जिला पंचायत की सामान्य बैठक आज सम्पन्न हुई। जिला पंचायत के सभागार कक्ष में हुई उक्त बैठक में जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्रीमती गुड्डी बाई लालाराम अहिरवार, शमशाबाद विधायक श्रीमती राजश्री रूद्रप्रताप सिंह, कुरवाई विधायक श्री हरिसिंह सप्रे के अलावा अन्य जनप्रतिनिधि व विभिन्न विभागो के अधिकारी मौजूद थे। बैठक में कृषि, ग्रामीण यांत्रिकी सेवाएं, ग्रामीण आजीविका मिशन, सिंचाई विभाग तथा वन विभाग के माध्यम से क्रियान्वित योजनाओं एवं कार्यक्रमों के अलावा विकास कार्यो, अद्योसंरचनात्मक कार्यो की अद्यतन समीक्षा की गई है। इससे पहले पूर्व बैठक का पालन प्रतिवेदन संबंधित विभागों के अधिकारियों द्वारा प्रस्तुत किया गया। जिला पंचायत सीईओ श्री मयंक अग्रवाल ने समय पर कृषि विभाग के अधिकारी को फोल्डर उपलब्ध कराने के सख्त निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों द्वारा जो भी जानकारी मांगी जाती है वह समय सीमा में पहुंचाने के उपरांत उसका सत्यापन भी करें। उन्होंने अधिकारियों को हिदायत देते हुए कहा कि वे स्वंय जनप्रतिनिधियों से संवाद स्थापित कर क्रास मानिटरिंग करें। 

कोई टिप्पणी नहीं: