बिहार : भाकपा-माले ने 31 मार्च तक जनगोलबंदी वाले अपने कार्यक्रम रद्द किए - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 15 मार्च 2020

बिहार : भाकपा-माले ने 31 मार्च तक जनगोलबंदी वाले अपने कार्यक्रम रद्द किए

पार्टी गांव-गांव कोरोना से बचाव के लिए चलाएगी अभियानग्रामीण गरीबों के बीच व्यापक पैमाने पर हैंडवाश व मास्क का वितरण करे सरकार.कोरोना की जांच व चिकित्सा की पर्याप्त व्यवस्था होनी चाहिए.
cpi-ml-post-pond-programe
पटना 15 मार्च, कोलकाता में चल रही केंद्रीय कमिटी की बैठक में भाकपा-माले ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए 31 मार्च तक राज्य से लेकर गांव स्तरीय जनगोलबंदी के अपने सारे कार्यक्रम रद्द कर दिए हैं. पार्टी के बिहार राज्य सचिव कुणाल ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि बिहार में इस बीच हमने यात्रा निकालने का निर्णय किया था, जिसे फिलहाल स्थगित किया जाता है. उन्होंने यह भी कहा कि हमारी पार्टी और पार्टी से जुड़े जनसंगठन इस महामारी से बचाव के लिए गांव-गांव अभियान चलायेंगे और लोगों को जागरूक बनायेंगे. सरकार को भी जागरूकता फैैलाने के लिए और भी व्यापक कदम उठाने चाहिए. उन्होंने बिहार सरकार से कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए तत्काल ठोस कदम उठाने की मांग की है. कहा कि सराकर ने अभी तक महज तीन केंद्रों पर जांच की सुविधा उपलब्ध कराने की बात कही है. लेकिन यह बहुत ही अपर्याप्त है. हमारी मांग है कि जिला स्तर से लेकर प्रखंड स्तर तक के अस्पतालों में यह सुविधा उपलब्ध कराई जाए और वहां पर्याप्त संख्या में आईसीयू की व्यवस्था की जाए. आगे कहा कि ग्रामीण गरीबों के बीच व्यापक पैमाने पर हैंडवाश व मास्क का तत्काल वितरण किया जाना चाहिए. यह भी कहा कि इसके कारण गरीबों की रोजी-रोटी पर भी असर पड़ेगा. इसलिए सरकार इस दौर में उनके लिए रोजी-रोजगार की भी व्यवस्था करे.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...