बेगूसराय : नशे में धुत कुछ बदमाशों ने पुलिसवालों को ही पीटकर चले गए - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 16 मार्च 2020

बेगूसराय : नशे में धुत कुछ बदमाशों ने पुलिसवालों को ही पीटकर चले गए

criminal-beaten-police-begusaray
अरुण शाण्डिल्य (बेगूसराय) बेगूसराय नगर थाना क्षेत्र में आज एक अजीबो-गरीब कारनामे शराबियों का सामने आया है।एक ऐसी घटना जिसके बारे में कभी सोचा ही नहीं जा सकताआ है।मामला नगर थानाक्षेत्र के पूर्वी ओवरब्रिज के पास ट्रैफिक पुलिस अपनी ड्यूटी पर थे तभी अचानक चार शराबी नशे में पूरी तरह धुत वहाँ आ धमके और आव देखा न ताव अकारण ही डियूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों से भिड़ गये।पुलिस वालों से भिड़ने पर साथी पुलिसकर्मी जो साथ ही ड्यूटी पर थे बीच-बचाव करने पहुँचे तो उनको भी अपने लपेटे में लेकर पीटना शुरु कर दिया और पिट पिट कर दोनो को जख्मी करते हुए वहाँ से भाग निकले।इस मामले में दो ट्रैफिक पुलिस के जवान अशोक कुमार मोची एवं अशोक कुमार सिंह गंभीर रूप से जख्मी हो गये हैं।दोनों को ही जख्मी हालत में इलाज के लिए सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहाँ उनकी इलाज चल रही है। इस घटना से बौखलाए पुलिस अब उन पियक्कड़ों की तालाश में जुट गयी है। ट्रैफिक एसआई सुरेश रजक ने बताया कि शराबियों की पहचान कर ली गय़ी है,जल्द ही उन बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।  जबकि सोचनेवाली बात तो यह है कि आज ही बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शराब को खराब कहते हुए यह भी कहा है कि शराब जैसी घिनौनी चीज दुनिया में और कुछ है ही नहीं। उन्होनें इसके लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन  तक के आंकड़ों का हवाला दिया।मगर बिहार में शराब के शौकीन है कि मानने को तैयार नहीं। पियक्कड़ों की हिम्मत तो देखिए शराब पीने के बाद जब नाश चढ़ी तो खुद को ही बादशाह समझने लगे और पुलिसवालों को ही धो डाला।अब आगे मजे की बात तो तब होगी जब ये बदमाश बादशाह पुलिस के हत्थे चढ़ेंगे तब इनको जो धोबी पछाड़ पड़ेगी तब सही मायने में बादशाहत समझ में आएगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...