आसनसोल धर्मप्रांत में भूख और बीमारी के खिलाफ अभियान शुरू - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 2 मार्च 2020

आसनसोल धर्मप्रांत में भूख और बीमारी के खिलाफ अभियान शुरू

भूख और बीमारी के खिलाफ अभियान का उद्घाटन।आसनसोल धर्मप्रांत के धर्माध्यक्ष साइप्रियन मोनिस के द्वारा संत जोंस चर्च,चेलिडंगाल में।संत जोंस चर्च,चेलिडंगाल के पल्ली पुरोहित डोल्फि मथियस और बर्दवान सेवा केंद्र के निदेशक अरविंद कैलाश उपस्थित रहे
fight-for-hunger-illness
चेलिडंगाल, 02 मार्च। आज संत जोंस चर्च,चेलिडंगाल में आसनसोल धर्मप्रांत के धर्माध्यक्ष साइप्रियन मोनिस के द्वारा भूख और बीमारी के खिलाफ अभियान का उद्घाटन किया।इस अवसर पर धर्माध्यक्ष साइप्रियन मोनिस के नेतृत्व में विशेष मतलब को लेकर मिस्सा किया गया।इनके साथ संत जोंस चर्च,चेलिडंगाल के पल्ली पुरोहित डोल्फि मथियस और बर्दवान सेवा केंद्र के निदेशक अरविंद कैलाश उपस्थित रहे। इस अवसर पर आसनसोल धर्मप्रांत के धर्माध्यक्ष साइप्रियन मोनिस ने कहा हम इस बात का ध्यान रखें,की शारीरिक भूख के साथ आध्यात्मिक भूख को भी ईश्वर को चढाए ।प्रति दिन अनाज का कुछ हिस्सा गरीबों के लिए अलग कर रखें ।पुण्य सप्ताह मे गिरजा मे दान दे । मौके पर बर्दवान सेवा केंद्र के निदेशक अरविंद कैलाश ने विस्तार किया कि जो राशि आर्थिक मदद के लिए पुण्य सप्ताह मे जमा  की जाती है,उसका उपयोग बहुत जरुरतमंद लोगो की उन्नति,स्वस्थ सम्बंधी और अन्य कामो मे लगाया जाता है।उन्होंने कहा कि आपके द्वारा सहयोग राशि व सामग्री आधा कारितास इंडिया को भेजा जाएगा और आधा लोकल स्तर के गरीबों के सहायतार्थ में लगाया जाएगा। आसनसोल धर्मप्रांत की विमेंस कमीशन की सेक्रेटरी और संत जोंस पैरिश की अध्यक्ष सामाजिक कार्यकत्री रूबी टोप्पो ने कहा कि संत जोंस चर्च,चेलिडंगाल  पल्ली में 600परिवार रहते हैं। जनसंख्या करीब 7000 तक हैं।इनके बीच कारितास इंडिया के बारे में जानकारी देंगे जो लोगों का सर्वागीण विकास और आजीविका को सुदृढ़ सशक्त बनाने की दिशा में काम किया जाता है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...