बिहार : मुसीबत' नामक भजन,भक्तिमय गीत तथा प्रार्थनाओं का धार्मिक कार्यक्रम का सिलसिला जारी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 2 मार्च 2020

बिहार : मुसीबत' नामक भजन,भक्तिमय गीत तथा प्रार्थनाओं का धार्मिक कार्यक्रम का सिलसिला जारी

अल्पसंख्यक ईसाई कल्याण संघ के प्रयास से शुक्रवार को ए.के.लुइस के निवास स्थान शिवाजी नगर,मखदुमपुर,दीघा पटना में प्रभु येसु के दुख-भोग से सम्बन्धित 'मुसीबत' नामक भजन,भक्तिमय गीत तथा प्रार्थना का भक्तिमय कार्यक्रम हुआ
christian-pray-musibat-bihar
पटना,02 मार्च। अल्पसंख्यक ईसाई कल्याण संघ के प्रयास से व महा सचिव एस.के.लॉरेंस के नेतृत्व में  'गुडफ्राईडे' से सम्बन्धित 'मुसीबत' नामक भजन,भक्तिमय गीत तथा प्रार्थनाओं का धार्मिक कार्यक्रम का सिलसिला शुरू किया गया है।
अल्पसंख्यक ईसाई कल्याण संघ के महा सचिव एस.के.लॉरेंस के नेतृत्व के अनुसार ईसाई बहुल इलाकों कुर्जी,दीघा, फेयरफील्ड कॉलोनी,बांस कोठी,न्यू पाटलिपुत्र चर्च,कुर्जी चर्च तथा अन्य जगहों पर बारी- बारी से 'मुसीबत'नामक भजन कराना प्रारम्भ हो गया। यह'मुसीबत'नामक भजन रुपी धार्मिक कार्यक्रम निर्दोष प्रभु येसु को दिये गए प्राणदंड की आज्ञा के उपरान्त उनके (प्रभु येसु)द्वारा कोड़ों की मार तथा धक्का खाते,तकलीफ उठाते हुए कलवरी पर्वत पर सलीब पर लटकाए जाने की कष्टदायक घटना को स्मरण कर भक्तिभाव से चालिसा के दौरान गुडफ्राईडे तक मुख्यत: प्रत्येक बुधवार तथा शुक्रवार को कराया जाता है।जिसमें काफी संख्या में उन इलाकों के भक्तजन भक्ति भाव से शामिल होते हैं। इस कार्यक्रम का आयोजन मुख्यत: रिचर्ड अब्राहम,कमल डेविड,पासकल पीटर ओस्ता,जेरी हेनरी के यहाँ कुर्जी में ए. के.लुइस शिवाजी नगर,राकी जोसेफ,फ्रैंक अन्थोनी,दिव्या रानी हांसदा तथा बेरोनीका जान फेयरफील्ड कॉलोनी दीघा में,रोमा जौर्ज,रंजीत ओस्ता बालुपर,विजय कुमार पौल तथा ग्रोटो  बांसकोठी में,आलोक बेसरा कोठिया में,न्यू पाटलिपुत्र चर्च तथा कुर्जी चर्च,दीघा में यह कार्यक्रम निर्धारित है।इस भजन के मुख्य गायक के रूप में एस.के. लॉरेंस के अलावा क्लारेंस हेनरी, रंजीत,पास्कल पीटर ओस्ता, रीता, मीना,प्रकाश रिचर्ड,रोज़ी,इग्नासियस, फ्रैंक अन्थोनी, करुणा,जोसेफ फ्रांसिस, पुष्पा,मुकुल,विजय, रेमंड, दीपक, चार्ली तथा कई अन्य भक्त जन समयानुसार अपना योगदान करते हैं। ज्ञात हो कि पूरे विश्व मे ईसाई समुदाय दस (10) अप्रेल 2020 के दिन पड़ने वाले महा पर्व ' गुडफ्राईडे' की तैयारी के उपलक्ष में चालिस दिनों की प्रार्थना,उपवास(फास्टींग)-परहेज,दान-पुण्य तथा इससे सम्बन्धित अन्य धार्मिक कार्यक्रम करते हैं। दिनांक 26 फरवरी बुधवार के दिन इसी क्रम में 'राख-बुद्ध 'का पर्व मनाया गया।इस दिन कैथोलिक चर्चों में मिस्सा-पूजा के दौरान धर्मगुरुओं ने सभी भक्तजनों के माथे पर अभिषेकित पवित्र राख को क्रूस के चिन्ह के रूप में लगाते हुए उन्हें यह स्मरण दिलाया कि-'मानव,तू मिट्टी से बन है,मिट्टी में मिल जाएगा'।यह एक तरह से मानव जाति  के लिये एक संदेश है कि हम दुनिया में ईश्वर की मर्जी से आए हैं।ताकि उसके बताए और बनाए विधान,नियमों का पालन कर,शुद्ध आचरण एवं अच्छे कर्म कर परमेश्वर के आशीष के हकदार बन मृत्योपरांत स्वर्ग में परमेश्वर के करीब पहुंच सकें।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...