संसद में दिल्ली हिंसा पर चर्चा से बच रही है सरकार : कांग्रेस - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 4 मार्च 2020

संसद में दिल्ली हिंसा पर चर्चा से बच रही है सरकार : कांग्रेस

government-avoiding-debate-congress
नयी दिल्ली, 03 मार्च, कांग्रेस ने कहा है कि मोदी सरकार दिल्ली में हुई हिंसा को लेकर चर्चा नहीं कराने की अपनी जिद छोड़ने को तैयार नहीं है जबकि पूरा राष्ट्र जानना चाहता है कि इस गंभीर मुद्दे पर देश की संसद क्या कहती है। राज्यसभा में कांग्रेस के उपनेता आनंद शर्मा ने मंगलवार को यहां संसद भवन परिसर में पत्रकारों से कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में पिछले माह के आखिर में हुई हिंसा के दौरान भारी जानमाल का नुकसान हुआ है लेकिन सरकार इस मुद्दे पर गंभीर नहीं है और वह दिल्ली हिंसा पर चर्चा कराने से पीछे हट रही है। श्री शर्मा ने कहा कि विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद के साथ ही कई अन्य विपक्षी दलों के नेताओं ने संसदीय कार्य मंत्री तथा अन्य मंत्रियों से मुलाकात की है और कहा है कि सरकार को इस मुद्दे पर बिना देर किए चर्चा शुरू करानी चाहिए क्योंकि देश की जनता इस हिंसा पर संसद में चर्चा चाहती है। उन्होंने उम्मीद जताई कि सरकार विपक्षी दलों की बात सुनेगी और अपना हठ छोड़कर इस मुद्दे पर तुरंत चर्चा शुरू करायेगी। उन्होंने कहा कि भारत माता के नारे और तिरंगे का इस्तेमाल किसी को भी देश की जनता को उन्मादी बनाने या समाज में टकराव पैदा करने के लिए नहीं किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि इससे देश का अपमान होता है और इस तरह की कोशिश किसी भी स्तर पर नहीं की जानी चाहिए।  

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...