झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 13 मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 13 मार्च 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 13 मार्च

ग्राम झुमका मे पण्डित कमलकिशोर नागर जी कि भागवत कथा आज से आरंभ, निकली विशाल भव्य कलश यात्रा

jhabua news
पारा। समिपस्थ ग्राम झुमका मे मालवमाटी के वरद सरस्वतीपुत्र पण्डित कमलकिशोर जी नागर कि सात दिवसीय श्रीमद भागवत कथा आज से विशाल कलश यात्रा के साथ आरंभ हुई। ग्राम झुमका के तडवी फलिए मे आज से पण्डित कमल किशोर नागर जी कि सात दिवसीय भागवत कथा आरंभ हुई। पारा क्षेत्र मे नागर जी कि कथा का पहली बार आयोजन हो रहा हें। जिसको लेकर समुचे आदिवासी अंचल मे विशेष उत्साह का माहोल हे। करिब 2 हेक्टर से ज्यादा बडी भुमि पर विशाल पांण्डाल लगाया गया जहा पर सात दिनो तक भागवात कथा चलेगी। क्षेत्र सहीत आसपास के जिलो से भी श्रद्धालु भी कथा श्रवण करने के लिए बडी संख्या मे पहुच रहे है। कथा स्थल पर बाहर से आने वालो आंगतुको के लिए ठहरने व पार्किग कि भी व्यवस्था कि गई हे। वही भोजन शाला मे प्रतिदिन भण्डारे का आयोजन भी रखा गया हे।  कथा आरंभ करने से पुर्व आज ग्राम झुमका के कलिकुठार हनुमान मंदिर से ढोल मांदल के साथ नाचते गाते हुवे विशाल व भव्य कलश यात्रा आरंभ हुई। इससे पुर्व पण्डित कमलकिशोर नागर जी ने मंदिर मे दर्शन के साथ पुजन अर्चन किया । करिब एक किलो मीटर से भी ज्यादा बडी कलश यात्रा मे  सैकडो कि तादाद मे महिलाए अपने सिर पर कलश लिए चल रही थी। वही अंचल कि परंपरा अनुसार पुरष वर्ग भी एक जेसी डे्रस कोड मे पगडी बांधे तिर कमान लेकर आगे आगे चल रहे थे। साथ ही नागर जी भी बेल गाडी मे सवार होकर चल रहे थै। कथा स्थल पर पहुचने के बाद नागरजी ने उपस्थित श्रद्धालुओ को भजन व प्रवचन के माध्यम से कथा का श्रवण करवाया । कथा के समापन के बाद मे आरती कि गई। इस अवसर पर क्षेत्र के गणमान्य नगारीक सहीत दुरदाराज से आए हुए हजारो कि तादाद मे श्रद्धालु जन उपस्थित थे।

महिला दिवस पर किया महीलाओ का सम्मान

jhabua news
पारा । गत दिनो जनपद पंचायत रामा के सभाकक्ष में महिला दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया, क्षेत्र में  उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं को इस कार्यक्रम में सम्मानित किया गया, मुख्य कार्यपालन अधिकारी महोदय जनपद पंचायत रामा, ैीतप उ,स, जंसा, परियोजना अधिकारी रामा,श्रीमती साधना चतुर्वेदी, पर्यवेक्षक श्रीमती रामली डाबर, श्रीमती कमला पवार, श्रीमती संगीता भाबोर, श्रीमती कविता बेनल, स्वास्थ्य विभाग से श्री बामनिया जी, और रामा परियोजना से आंगनवाड़ी कार्यकर्ता श्रीमती गंगा गोयल , के साथ अनेक आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने वह इस कार्यक्रम में भाग  लिया, इस कार्यक्रम में रामा परियोजना की परियोजना अधिकारी श्रीमती साधना चतुर्वेदी का स्वागत किया गया उत्कृष्ट कार्य करने वाली आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं को मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत रामा द्वारा सम्मानित किया गया।

ज्योतिरादित्य के भाजपा मे प्रवेश से भाजपा होगी मजबुत - दौलत भावसार

झाबुआ। भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य पूर्व जिलाध्यक्ष दौलत भावसार सी सी बी बैंक के पूर्व चेयरमेन गोरसिंह वसुनिया भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष सुरेन्द्रसिंहजी मोटापाला ने संयुक्त बयान मे बताया कि श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया का भाजपा मे प्रवेश मध्यप्रदेश सहित राजस्थान उत्तरप्रदेश महाराष्ट्र मे भाजपा को मजबुती प्रदान करने वाला सिद्व होगा।  सिंधिया का भाजपा प्रवेश पर भावसार ने कहा कि सिंधिया एक सुलझे हुए नेता है जिसका तिरस्कार कांग्रेस ने दिग्विजयसिंह एवं कमलनाथ द्वारा बार बार किया जा रहा था। जिसके चलते उन्होने यह कदम उठाया है। कांग्रेस के वंशवाद के चलते उनकी आवाज को दबाया जा रहा था। सिंधिया के साथ उनके साथ आ रहे 22 विधायको का भी भावसार ने स्वागत अभिनंदन करते हुए कहा कि इन सबके सहयोग से प्रदेश मे कांग्रेस रुपी कमलनाथ की अंतताई सरकार का नाश होगा निश्चित मध्यप्रदेश की राजनीति मे सिंधिया का यह ऐतिहासिक कदम है जिसका सम्पूर्ण भाजपा के कार्यकर्ता आदिवासी अंचल मे स्वागत कर उन्हे बधाईयाॅ देेते है। उक्त जानकारी जिला भाजपा मिडिया प्रभारी ने दी।

श्री केशरिनाथ (आदिनाथ) भगवान का जन्म कल्याणक महोत्सव एवं दीक्षा कल्याणक महोत्सव 16 मार्च को मनाया जाएगा

झाबुआ। पेटलावद तहसील के प्रसिद्ध चमत्कारिक श्री केशरियानाथ जैन मंदिर झकनावदा में प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी पुण्य सम्राट, राष्ट्रसंत, जैनाचार्य वचनसिद्ध श्रीमद् विजय जयंतसेन सूरीश्वरजी मसा, वर्तमान आचार्यद्वय श्री नित्यसेन सूरीश्वरजी मसा एवं श्रीमद विजय जयरत्न सूरीश्वरजी मसा तथा श्रीमद विजय ऋषभचंद्र सूरीश्वरजी मसा. की पावन प्रेरणा से मिति चैत्र विदी अष्टमी, विक्रम संवत .2076, 16 मार्च, सोमवार  को प्रथम तीर्थंकर श्री केशरियानाथजी (आदिनाथ) भगवान का जन्म कल्याणक एवं दीक्षा कल्याणक महोत्सव उत्साहपूर्वक धूमधाम से मनाया जाएगा।

यह होंगे आयोजन
प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी राजगढ़ एवं रायपुरिया से पैदल संघ का भव्य रूप से आगमन होगा। झकनावदा श्री संघ की ओर से पैदल संघ आयोजक का स्वागत एवं बहुमान किया जाएगा। नगर में बैंड-बाजो के साथ प्रमुख मार्गों से वरघोड़़ा निकाला जाएगा। प्रातः स्नात्र पूजा, चैत्य प्रवाड़ी, साधर्मिक वात्सल्य एवं दोपहर में पूजा का आयोजन श्री केशरियानाथ जैन मंदिर झकनावदा पर होंगे। श्री सौधर्म ब्रहत्तपोगच्छिय जैन श्रीसंघ झकनावदा ने समस्त सकल श्री संघों से विनती की है कि उक्त आयोजन में सपरिवार ईष्ट मित्रों के साथ पधारकर जिन शासन की शोभा में अभिवृद्धि करें एवं साधर्मी भक्ति का भरपूर लाभ ले।

मानवता के मसीहा थे मालव भूषण नवरत्न सागरजी -ः राष्ट्रीय प्रवक्ता यषवंत भंडारी,
 नवरत्न परिवार की ओर से मदर टेरेसा आश्रम में गुणानुवाद सभा का किया गया आयोजन, दिव्यांग एवं निराश्रितजनों को करवाया स्वल्पाहार
jhabua news
झाबुआ। मालव भूषण, तप सम्राट, सरल स्वभावी, परम् पूज्य तारक गुरूदेव आचार्य श्री नवरत्न सागर सूरीष्वरजी की 77वीं जयंती स्थानीय एलआईसी स्थित मदर टेरेसा आश्रम में दिव्यांग एवं निराश्रितजनों के बीच नवरत्न परिवार शाखा झाबुआ द्वारा मनाई गई। प्रारंभ में सभी को ओम एवं श्री नमस्कार महामंत्र के जाप करवाने के साथ आचार्य नवरत्न सागरजी गुणांे का गुणगान अतिथियों द्वारा किया गया। पश्चात् सभी कोे मिष्ठान एवं लड्डूओं से मुंह मीठा करवाकर स्वल्पाहार करवाया।  आचार्य नवरत्न सूरीष्वरजी के 77वें अवतरण दिवस पर आयोजित कार्यक्रम में मालवा जैन श्वेतांबर महासंघ के राष्ट्रीय प्रवक्ता यषवंत भंडारी ने गुरू के गुणों का बखान करते हुए कहा कि आचार्य नवरत्न सागरजी मानवता के मसीहा थे, जिन्होंने अपना सारा जीवन संसार के प्राणी मात्र के लिए समर्पित कर पूरे विष्व को सत्य, अहिंसा एवं तप मार्ग की ओर प्रषस्त करने की ओर सदैव प्रेरित किया। जैन पंरपरा में आप एक अजोड़ तपस्वी रहे, जिन्होंने अपना पूरा संयममयी जीवन आयमिल तप के साथ पूर्ण किया। आचार्य भगवंत बहुत ही सरल एवं सहज प्रवृत्ति के संत थे एवं उनकी वाणी में मां सरस्वतीजी विराजमान रहती थी। वे एक वचन सिद्ध आचार्य थे।

नवरत्न सागरजी ने पूरे देष में जिन धर्म का लहराया परचम
मालवा जैन महासंघ के जिला प्रभारी योगेन्द्र नाहर ने कहा कि नवरत्न सागरजी मसा मालवा माटी की शान एवं पहचान थे, जिन्होंने राजगढ़ में जन्म लेकर पूरे देष में जिन धर्म का परचम लहराया। इस अवसर पर भारतीय जैन संघटना के जिला महामंत्री राजेन्द्र आर भंडारी ने कहा जिन शासन की परंपरा में जो महान आचार्य हुए है, उनमें एक आचार्य नवरत्न सागर सूरीष्वरजी मसा भी एक है। जीवनभर शुद्ध चारित्र का पालन करते हुए अपनी तप एवं कर्म स्थली भोपावर महातीर्थ का आपकी निश्रा में जीर्णोद्धार कार्य होने से पूरे भारत में ख्याति अर्जित की। आज इसी महातीर्थ पर आपका समाधि मंदिर स्थापित है। आप भले ही आज हमारे बीच नहीं है, परन्तु आपकी दिव्य कृपा दृष्टि हम पर बरसती रहेगी।

स्वल्पाहार का किया वितरण
गुणानुवाद सभा के पश्चात् आचार्य श्रीजी के 77वें जन्मदिवस निर्मित्त सभी दिव्यांग एवं निराश्रित का मुंह मीठा कर सभी को स्वल्पाहार करवाया गया। अंत में आभार नवरत्न परिवार के युवा सदस्य अर्पित चैधरी ने माना। इस अवसर पर बीजेएस के जिलाध्यक्ष सुनिल संघवी, आषीष जैन, शार्दुल भंडारी सहित मदर टेरेसा आश्रम के सभी दिव्यांगजन एवं वृद्धजन उपस्थित थे।

प्रवर्तक देव ने की धर्मदास सम्प्रदाय के सन्त सतियों के 2020 वर्षावास की घोषणा प्रवर्तक देव जिनेन्द्रमुनिजी का वर्षावास उज्जैन में

झाबुआ कल्याणपुरा। भर दो झोली मेरी मेरे गुरुवर दर से तेरे न जाऊंगा खाली कुछ इस तरह का नजारा झाबुआ जिले के कल्याणपुरा नगर में दिखा जब जैन जगत के धर्मदास गण प्रमुख जिन शासन गौरव आचार्य भगवंत पूज्य श्रीउमेशमुनिजी के प्रशिष्य आंगन विशारद बुद्धपुत्र प्रवर्तक गुरुदेव पूज्य श्रीजिनेन्द्रमुनिजी के पास वर्ष 2020 के चातुर्मास काल में सन्त सतियों के वर्षावास की विनन्ति लेकर महाराष्ट्र, गुजरात, राजस्थान व मध्यप्रदेश के अनेक स्थानों के श्रीसंघ पदाधिकारीगण, श्रावक - श्राविकाएं उपस्थित हुए। पूज्यश्री ने सभी को धर्म सन्देश देते हुए फरमाया कि जिनेश्वर देवों ने धर्म आराधना की दृष्टि से कल्प की व्यवस्था की है। सतियों के 8 तो सन्तों के 9 कल्प होते है। जिनमें से वर्षावास सबसे बड़ा कल्प होता है। अतः धर्माराधना की दृष्टि से इसका महत्व बढ़ जाता है, इसलिए सभी की इच्छा रहती है कि उनके यहाँ किसी न किसी सन्त अथवा सतियों का चातुर्मास मिलें लेकिन सन्त सतियों की कमी के कारण सभी की इच्छा पूरी करना सम्भव नही है इसलिये जिन्हें वर्षावास मिलता है उन्हें रत्नत्रय की आराधना से दीपाना चाहिए वही जिन्हें चतुर्मास नही मिले वह नाराज न होते हुए भावना भाते रहे व धर्म आराधना करते रहे। पूज्यश्री ने कहा कि आचार्य भगवंत श्रीउमेशमुनिजी के उपकार से यह धर्मदासगण फल फूल रहा है सभी धर्माराधना करते हुए उनके उपकारों को याद करते रहते है। संघ पर गण की सतियों का भी अधिक उपकार है, क्योंकि वह संख्या में ज्यादा है व सभी को धर्म आराधना में प्रेरणा देने का विशेष पुरुषार्थ भी करती है इसलिये जिन्हें उनका चातुर्मास मिलें वह पूरी जिम्मेदारी से उनकी वैयावच्च का लाभ लेकर धर्म आराधना करें।

गुरुदेव ने की सभी सन्त सतियों के चातुर्मास की घोषणा
आगम विशारद बुद्धपुत्र पूज्य प्रवर्तक गुरुदेव श्री जिनेंद्रमुनिजी म.सा. आदि ठाणा-  नमक मंडी उज्जैन(मप्र),अणु वत्स पूज्य श्री संयतमुनिजी मुनिजी म सा आदि ठाणा - नागदा(धार)मप्र,तत्व मनीषी पूज्य श्री धर्मेन्द्रमुनिजी म सा आदि - हाटपिपल्या (मप्र),मधुर व्याख्यानी पूज्य श्री संदीपमुनिजी म सा आदि -बड़वाह (मप्र),मधुर व्याख्यानि पूज्य दिलीप मुनीजी म सा आदि ठाणा - दाहोद(गुजरात),स्थविरा महासती पूज्या श्री पुष्पालताजी म सा आदि ठाणा - खाचरोद(मप्र),प्रवचन प्रभाविका महासती पूज्या श्री प्रविणाजी म सा- 4 धार (मप्र)शासन प्रभाविका महासती पूज्या श्री संयमप्रभाजी म सा -7 घोटी (महारष्ट्र),वात्सल्यमूर्ति महासती पूज्या श्री मधुबालाजी म सा -6 रतलाम (मप्र), महासती पूज्या श्री आदर्श ज्योति जी म सा आदि-ठाणा राजमोहल्ला इंदौर (मप्र),महासती पूज्या श्री मुक्तिप्रभाजी म सा आदि ठाणा - 4 रतलाम (मप्र),पुण्यपुंज  महासती पूज्या श्री पुण्यशीलाजी म. सा. आदि ठाणा के वर्षावास स्थल - क्रमशःमेघनगर, बदनावर, मुलथान व देवास (मप्र) में होंगे।महासती पूज्या श्री धर्मलताजी आदि ठाणा- नागपुर (महाराष्ट्र),महासती पूज्या श्री निखिलशीलाजी आदि ठाणा- 4   - थांदला (मप्र) द्रव्य क्षेत्र काल आदि की मर्यादा रखते हुए घोषित किये गए।  सभी संघों में बहुत ही हर्ष का माहौल है तथा सभी संघों ने प्रवर्तक श्री को कृतज्ञता प्रेषित की व कल्याणपुरा संघ को आतिथ्य सत्कार व सुंदर व्यवस्था के लिए हार्दिक धन्यवाद दिया गया।

आवेदन पत्र आमंत्रित

झाबुआ। महिला षक्ति केन्द्र योजना भारत सरकार ने महिलाओं के सामाजिक एवं आर्थिक सषक्तिकरण को दु्रत गति देने के उद्देष्य से राष्ट्रीय महिला षक्तिकरण मिषन के अंतर्गत महिलाओं के संर्पूण विकास को बढावा देने वाली सभी प्रक्रियाओं को मजबुत बनाने के लक्ष्य से ‘‘महिला षक्ति केन्द्र‘‘ योजना प्रारंभ की गई है। योजना अन्तर्गत विकास खण्डस्तर पर ग्रामीण महिलाओं को सामुदायिक भागीदारी के माध्यम से प्रषिक्षण और क्षमता का निर्माण के द्वारा उन्हें सषक्त बनाया जायेगा, ताकि वे अपनी पूरी क्षमता का अनुभव एवं उपयोग कर सके, जिसमें कौषल विकास, रोजगार, डिजिटल साक्षरता, स्वास्थ्य एवं पोषण के लिए अवसर तथा सुविधा उपलब्घ करवाना सम्मिलित है। ‘‘महिला षक्ति केन्द्र‘‘ योजना का भारत सरकार के यथा निर्धारित मापदण्ड तथा 20 दिसम्बर 2018 के परिषिष्ट अनुसार क्रियान्वयन व संचालन करने के इच्छुक अषासकीय संस्थाओं का प्रस्ताव अन्तिम तिथि 20 मार्च 2020 तक आमंत्रित किए गए है। इसके पष्चात आवेदन स्वीकार नहीं किए जाएगे। अधिक जानकारी के लिये वेबसाईट www.mpwcd.gov.in जिला महिला एवं बाल विकास कलेक्टर कार्यालय जिला झाबुआ में संपर्क कर सकते है।

म्हिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस एवं भगौरिया पर्व हर्षोउल्लांस के साथ मनाया गया

झाबुआ,। अंतर्राष्ट्र्रªीय महिला दिवस के अवसर पर महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा जिला पंचायत सभा कक्ष में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें सहायक संचालक श्रीमती वर्षा चैहान, सहायक संचालक, श्री अजय चैहान एवं सहायक संचालक श्री बालुसिह सस्तिया, के मार्गदर्षन में महिला दिवस का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में अतिथि नगरपालिका उपाध्यक्ष श्रीमती रोषनी डोडियार, श्रीमती अर्चना राठौर व एम.एल. फुल पगारे द्वारा महिलाओं को संबोधित किया गया। कार्यक्रम में पर्यवेक्षक, आंगनवाडी कार्यकर्ता एवं स्वयं सहायता समूह की 200 से अधिक महिलाओं ने जिले की पांरम्परिक वेषभूषा में सम्मिलित हुए। सहायक संचालक श्रीमती वर्षा चैहान, द्वारा महिला दिवस के विषय पर महिला दिवस का महत्व समझाया। समाज में महिलाओं का योगदान, सफल महिलाओं की कहानियाॅ और आगामी जीवन में लक्ष्य व उद्देष्य में निर्धारित कर महिला अपने जीवन को कैसे सफल बनाएं। सहायक संचालक श्री अजय चैहान द्वारा विभागीय स्तर की उत्कृष्ट कार्य करने वाली महिलाओं की लद्युकथा सुना कर प्रेरित किया गया और सहायक संचालक श्री बालुसिंह सस्तिया द्वारा षासन के निर्देषानुसार कोरोना वायरस से बचाव व सुरक्षा के मामले में विस्तृत जानकारी दी गई है। वन स्टाॅप सेन्टर के प्रषासक  श्रीमती लीला परमार द्वारा म.प्र. में 1 मार्च से षुरू की गई महिला हेल्पलाईन 181 जिसमें महिला संबंधित सभी प्रकार की षिकायतों एवं प्रकरणो के समाधान किया गया है। साथ ही पोषण पखवाडा 2020 का षुभारंभ पोषण मेला आयोजित कर किया गया। जिसमें महिलाओं द्वारा विभिन्न पोष्टिक व्यंजन का सटाल लगाकर पोषण जागरूकता का प्रसार-प्रचार किया। कार्यक्रम में ढोल की थाप पर महिलाओं द्वारा भगौरिया नृत्य किया गया। कार्यक्रम का संचालन श्री जिमी निर्मल ने किया व आभार श्रीमती लक्ष्मी तिवारी ने माना।

पोषण पखवाडा के तहत रैली निकाली गई

झाबुआ । भारत सरकार के निर्देष पर राष्ट्रीय पोषण मिषन के अंतर्गत पोषण जागरूकता के लिये 8 मार्च से 22 मार्च 2020 तक पोषण पखवाडा जिला परियोजना एवं समस्त आंगनवाडी केन्द्रो पर आयोजित किया जा रहा है। इसी क्रम में 8 मार्च को जिला एवं परियोजना स्तर पर पोषण पखवाडा षुभारंभ कार्यक्रम में पोषण मेला व आंगनाडी स्तर पर पोषण संबंधित रेलियाॅ निकाली गई। पोषण पखवाडे में पोषण के परिप्रेक्ष्य में जीवन के प्रथम एक हजार दिवस के दौरान स्वास्थ्य एवं पोषण आवष्यकता पर जागरूकता, गर्भावस्था देखभाल एवं जन्म के दो वर्ष के दौरान सतत् स्तनपान एवं सही समय पर उपरी आहार एवं उसकी निरन्तरता, एनिमिया या षरीर में खून की कमी को दूर करने के लिए एनिमिया मुक्त भारत के दिषा-निर्देष तथा आयरन सेवन एवं खाद्य विविधता, पाॅच वर्ष तक के बच्चों की षारीरिक वृद्धि पर निगरानी, किषोरी षिक्षा, पोषण, षिक्षा का अधिकार, सही उम्र में विवाह, सफाई एवं स्वच्छता एवं पोषण जागरूकता पर आधारित कार्यक्रम चलाने के लिए निर्देष दिये गये है।

जिला विकास समन्वय एवं मूल्यांकन समिति की बैठक 27 मार्च को होगी

झाबुआ,। जिला विकास समन्वय एवं मूल्यांकन समिति की बैठक 27 मार्च को दोपहर 12 बजे कलेक्टर कार्यालय सभा कक्ष में आयोजत की जावेगी। यह बैठक सांसद श्री गुमानसिंह डामोर की अध्यक्षता में होगी। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने अवगत कराया  कि इस बैठक में प्रधानमंत्री ग्राम सडक योजना कृषि विभाग लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, ग्रामीण विकास विभाग सामाजिक न्याय विभाग खाद्य विभाग, भू-अभिलेख में डिजिटल भारत भू-अभिलेख आधुनिकीकरण कार्यक्रम तथा विद्युत विभाग, दूरसंचाार डिजिटल इंडिया पब्लिक इंटरनेट एक्सेस प्रोग्राम रेल्वे विभाग, खनिज विभाग उद्योग विभाग, षिक्षा विभाग, स्वास्थ्य विभाग, षहरी विकास विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, आदिम जाति एवं पिछडा वर्ग कल्याण विभाग, लीड बैंक, लोक निर्माण विभाग, जल संसाधन तथा पषु चिकित्सा विभाग की योजनाओं की प्रगति की समीक्षा की जावेगी।

स्थानीय अवकाष घोषित
     
झाबुआ, । कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने जिले में 16 मार्च को षीतला सप्तमी तथा 28 अगस्त को गणेष चतुर्थी का स्थानीय अवकाष घोषित किया है। यह स्थानीय अवकाष कोषालय, उप कोषालय व बैंको के लिए प्रभावषील नहीं रहेगा। इसके साथ ही जिन षैक्षणिक संस्थाओ की इन दिनांको को परिक्षाएं नियत है। इन पर भी यह अवकाष प्रभावषील नही रहेगा। परीक्षाएं निर्धारित कार्यक्रम अनुसार यथावत रहेगी।

वृत्तिकर जमा करने की अंतिम तिथि 31 मार्च
      
झाबुआ। मध्यप्रदेश वृत्तिकर संशोधन अधिनियम 2018 के अंतर्गत वर्ष 2019-20 के लिये वृत्तिकर जमा करने की अंतिम तिथि 31 मार्च 2020 है। जीएसटी से पंजीयत व्यवसायी, निजी विद्यालय, चिकित्सक, चिकित्सा व्यवसायी, चार्टड एकाउण्टेंट , वकील, बीमा एजेंट, मदिरा दुकान संचालक, चिटफण्ड संचालित वाली संस्थायें या व्यक्ति सहकारी सोसायटी, ट्रांसपोर्टर, कोचिंग संस्थान, निजी चिकित्सालय, जिमसेंटर, धर्मकांटा, होटल, लाज, विवाह, मंडप, वीडियो पार्लर, फाईनेंस, कम्पनी, क्लीनिक, लैब, पैथोलॉजी, कियोस्क सेंटर से जुड़े व्यवसाईयों को 31 मार्च 2020 तक अनिवार्यतः वृत्तिकर जमा कराना होगा।

प्रदेश में जनगणना कार्य एक मई से 14 जून तक ह¨गा
मकान सूचीकरण ब्लाॅक बनाने अ©र मकान¨ं क¨ नम्बर देने संबंधी निर्देश जारी
झाबुआ,। प्रदेश में राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर क¨ अद्यतन करने का कार्य एक मई से 14 जून, 2020 तक ह¨गा। जनगणना-2021 के कार्य क¨ मद्देनजर रखते हुए जनगणना कार्य निदेशालय ने राज्य शासन से एक जनवरी, 2020 से 31 मार्च, 2021 तक प्रशासनिक इकाइय¨ं की सीमा में क¨ई परिवर्तन न करने का अनुर¨ध किया है। ग्रामीण अ©र नगरीय द¨न¨ं क्षेत्र¨ं के लिये मकान सूचीकरण ब्लाॅक का आदर्श आकार 650-800 की जनसंख्या या 150-180 जनगणना मकान, इनमें से ज¨ भी अधिक ह¨, निश्चित किया गया है। जनगणना-2021 के कार्य जनगणना-2011 के द्वितीय चरण के गणना ब्लाॅक¨ं क¨ मूल रूप से उपय¨ग में लाते हुए किये जायेंगे। जनगणना कार्य निर्देशालय द्वारा मकान सूचीकरण कार्य के द©रान मकान सूचीकरण ब्लाॅक बनाने अ©र मकान¨ं क¨ नम्बर देने के लिये विस्तृत दिशा-निर्देश जारी किये गये हैं। निर्देश¨ं में कहा गया है कि जनगणना-2021 के मकान सूचीकरण ब्लाॅक तैयार करते समय जनगणना-2011 के गणना ब्लाॅक की सीमाअ¨ं क¨ ज्य¨ं का त्य¨ं रखा जाये। प्रत्येक गाँव चाहें वह जनसंख्या की दृष्टि से छ¨टा ह¨ अथवा गैर-आबाद ह¨, फिर भी उसमें कम से कम एक मकान सूचीकरण ब्लाॅक ह¨गा। प्रत्येक ब्लाॅक की सीमाएँ स्पष्ट रूप से निर्धारित की जायें अ©र उनकी पहचान की जाये। मकान सूचीकरण ब्लाॅक गाँव अथवा ग्राम पंचायत तहसील की सीमाअ¨ं क¨ पार न करे। ग्रामीण अ©र नगरीय द¨न¨ं क्षेत्र¨ं में जहाँ तक ह¨ सके मतदाता-सूची भाग (प¨लिंग बूथ की सीमा) क¨ अक्षुण्ण बनाये रखें। जनगणना-2021 के द©रान जनगणना-2011 के सेम्पल रजिस्ट्रीकरण प्रणाली ब्लाॅक¨ं की पहचान बनी रहे। सभी सांवधिक नगर¨ं में, चाहें उनकी जनसंख्या का आकार कुछ भी क्य¨ं न ह¨, स्लम ब्लाॅक का निर्धारण किया जाये। छ¨टे आकार के किन्तु साथ-साथ लगने वाले गाँव के मामले में एक प्रगणक क¨ एक से अधिक मकान सूचीकरण ब्लाॅक¨ं का कार्य दिया जायेगा। साथ-साथ लगने वाले कम से कम 6 मकान सूचीकरण ब्लाॅक से मिलकर एक पर्यवेक्षीय सर्किल बनेगा। चार्ज अधिकारी प्रत्येक मकान सूचीकरण ब्लाॅक की सीमाअ¨ं क¨ चार्ज रजिस्टर में स्पष्ट रूप से लिखेंगे। जनगणना-2011 के गणना ब्लाॅक एवं जनगणना-2021 के मकान सूचीकरण ब्लाॅक¨ं के बीच संबंध दिखाते हुए चार्ज अधिकारी एक सामंजस्य विवरण तैयार करेंगे।

डायवर्सन की राशि 31 मार्च तक जमा कराने के निर्देश

झाबुआ,। मध्यप्रदेश शासन द्वारा भू-राजस्व संहिता में गत 25 सितम्बर, 2018 से कई संशोधन किये गये हैं। भूमि के व्यपवर्तन के पश्चात प्रति वर्ष व्यपवर्तित भूमि पर भू-भाटक एवं पंचायत उपकर शासन के खाते में जमा करना होता है। नवीन संशोधन के पूर्व भू-भाटक एवं पंचायत की बकाया  राशि पर ब्याज नहीं देना पडता था, किन्तु म.प्र. शासन के पत्र द्वारा नवीन संशोधन के पश्चात संहिता की धारा- 143 के प्रावधानों के अनुसार यदि भू-राजस्व का भुगतान नियत कालावधि में नहीं किया जाता है तो बकाया पर प्रथम बारह मास के लिये 12 प्रतिशत और उसके पश्चात् की अवधि के लिये 15 प्रतिशत वार्षिक की दर से साधारण ब्याज भुगतान की तिथि 31 मार्च, 2020 तक  देय होगा। राज्य शासन द्वारा दिये गये लक्ष्य की पूर्ति करने हेतु कलेक्टर के निर्देशन में सभी अनुविभागीय दण्डाधिकारी, तहसीलदार एवं नायब तहसीलदार प्रयासरत हैं। डायवर्सन की बकाया राशि शासन हित में जमा करने हेतु प्रशासन के साथ ही व्यक्तिगत जिम्मेदारी भी व्यपवर्तित भूमिधारकों की है कि वह समय-सीमा 31 मार्च के पूर्व भू-भाटक एवं पंचायत की राशि शासन के खाते में जमा करायें और अनावश्यक बकाया की राशि पर ब्याज देने से बचें।

विष्व उपभोक्ता दिवस के अवसर पर 15 मार्च को रायपुरिया में कार्यक्रम का अयोजन होगा

झाबुआ,। विष्व उपभोक्ता दिवस के अवसर पर रायपुरिया में स्थित खेल मैदान पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया है। यह कार्यक्रम 15 मार्च को प्रातः 11 बजे आरंभ होगा। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने उपायुक्त सहकारिता, उप संचालक कृषि, कार्यपालन यंत्री मध्यप्रदेष पष्चिम क्षैत्र विद्युत वितरण कम्पनी महाप्रबंधक जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक संचिव कृषि उपज मण्डी झाबुआ खाद्य सुरक्षा अधिकारी नाप तोल निरीक्षक कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी, को  प्रदर्षनी लगाने के निर्देष दिये है। साथ ही उपभोक्ताओं को उपभोक्ता सर्वरक्षण से संबंधित प्रावधानो से अवगत कराने के भी निर्देष दिये है।

ई-टेडर के माध्यम से मदिरा समूह का निष्पादन के लिये कार्यक्रम निर्धारित

झाबुआ । झाबुआ जिले में ई-टेंडर्रिग एवं आॅक्षन के द्वितीय चरण में निष्पादन के लिये 6 देषी मंदिरा की दुकानो, एवं 4 विदेषी मदिरा की दुकानो को 3 एकल समूह में पृथक-पृथक वर्ष 2020-21 अर्थात एक अप्रैल 2020 से 31 मार्च 2021 तक की अवधि के लिये मध्यप्रदेष राज्य पत्र असाधारण क्रमांक 77 दिनांक 25 फरवरी 2020 में प्रकाषित प्रावधानो के अन्तर्गत तथा आबकारी आयुक्त मध्यप्रदेष ग्वालियर द्वारा दिये गये निर्देषो एवं व्यवस्था के अधिन निष्पादन के लिये कार्यक्रम निर्धारित किया गया है। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने अवगत कराया कि ई-टेडर (क्लोज बिड) के लिये आॅन लाईन टेन्डर पपत्र डाउन लोड एवं ई-टेडर आफर समिट करने की तिथि 14 मार्च 2020 को प्रातः 10 बजे से 19 मार्च 2020 अपरान्ह 1 बजे तक, ई-टेडर (क्लोज बिड) के लिये आॅन लाईन टेडर पपत्र खोलने की तिथि 19 मार्च 2020 दोपहर 2 बजे से, ई-टेडर (आॅक्षन) प्रारंभ एवं बंद होने  की तिथि 20 मार्च 2020 को दोपहर 2 बजे तक (तत्पष्चात 15 मिनिट के अन्तराल में बोली दिये जाने पर आगामी 15 मिनिट के लिये समयावधि में वृद्धि) जिला समिति द्वारा ई-टेडर  (क्लोज बिड एवं आॅक्षन) के माध्यम से निराकरण किये जाने की तिथि व समय आॅक्षन पूर्ण होने पर कार्यक्रम अनुसार किया जावेगा। निष्पादित की जाने वाली मदिरा दुकानो, एकल समूह, को लेने के लिये इच्छुक व्यक्ति ूूूण्उचजमदकमेण्हवअण्पद पर ई-टेडर (क्लोज बिड एवं आॅक्षन) की प्रक्रिया में भाग ले सकते है। ई-टेडर से संबंधित नियमों, दुकानो का विवरण, मादक द्रव्यो की खपत, ड्यूटी दर एवं अन्य आनुषांगिक षर्तो की जानकारी ूूूण्उचजमदकमेण्हवअण्पद पर एवं कार्यालय जिला आबकारी अधिकारी जिला झाबुआ से किसी भी दिवस अवकाष के दिनो सहित कार्यालयीन समय में प्राप्त किये जा सकते है। इच्छुक टेडर दाता को ई-टेडर की कार्यवाही में भाग लेने के लिये अपना रजिस्ट्रेषन वेवसाईड  www.mptendes.gov.in  पर कराना अनिर्वाय होगा। अधिक जानकारी उक्त वेवसाईड से प्राप्त की जा सकती है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...