मोदी का भाजपा सांसदों से देश में सांप्रदायिक सौहार्द बनाने में योगदान का आह्वान - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 4 मार्च 2020

मोदी का भाजपा सांसदों से देश में सांप्रदायिक सौहार्द बनाने में योगदान का आह्वान

modi-apeal-to-mp-for-peace
नयी दिल्ली, 03 मार्च, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के सांसदों का देश में सांप्रदायिक सौहार्द बनाने में योगदान देने का मंगलवार को आह्वान करते हुए कहा कि राष्ट्र हित के लिए यह अपरिहार्य है। श्री मोदी ने यहां संसद के पुस्तकालय भवन में आयोजित पार्टी संसदीय दल की बैठक को संबोधित करते हुए यह आह्वान किया। बैठक के बाद संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी ने संवाददाताओं को बताया कि प्रधानमंत्री ने कहा, ‘हम यहां राष्ट्रीय हितों को पूरा करने के लिए आये हैं। हमारे लिए राष्ट्र सर्वोपरि है और विकास हमारा मंत्र है।’ प्रधानमंत्री ने कहा कि विकास के लिये शांति, एकता और सौहार्द का होना अपरिहार्य है। उन्होंने विपक्ष को घेरते हुए कहा कि कुछ राजनीतिक दलों के लिए पार्टी हित देश हित से अधिक महत्वपूर्ण है। इसका परिणाम हमने देखा है। उन्होंने कहा कि सभी सांसदों को समाज में शांति, सौहार्द और एकता सुनिश्चित करने के लिए अग्रणी भूमिका निभानी चाहिए। दिल्ली के दंगों से आहत दिख रहे श्री मोदी अपने भाषण में भावुक हो गए। उन्होंने पूछा कि आजादी के लिए जान देने वालों ने देश के लिए क्या यही सोचा था, आज हम कहां पहुंच गए हैं, देशभक्ति से ज्यादा दल को अहमियत क्यों दे रहे हैं। बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, भाजपा के अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा, केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी और थावरचंद गहलोत मौजूद थे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...