बेगूसराय : इस प्रलय के घड़ी में भी अपराधियों तांडव जारी। - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 31 मार्च 2020

बेगूसराय : इस प्रलय के घड़ी में भी अपराधियों तांडव जारी।

murder-begusarai
अरुण शाण्डिल्य (बेगूसराय) आज इस प्रलय की घड़ी में भी अपराधी तत्व के बहसी दरिंदे आपराधिक मामलों को अंजाम देने से बाज नहीं आ रहा है।इसको क्या कहा जा सकता है।जी हाँ आपसी विवाद को लेकर मटिहानी क्षेत्रान्तर्गत ग्राम सैदपपुर में एक दोस्त ने ही दोस्त की जान ले ली।इस घटना के बाद इलाके में हड़कंप मच गया है।घटना सैदपुर गांव की है,जहां कुछ दोस्तों ने घर से बुलाकर दोस्त की हत्या कर दी है।मृतक युवक की पहचान सैदपुर निवासी मोहम्मद शमी आलम के पुत्र मोहम्मद परवेज आलम के रूप में की गई है।बताया जा रहा है कि मोहम्मद परवेज आलम बहियार के पास बैठा हुआ था उसी दौरान उसके कुछ दोस्तों ने गोली मारकर हत्या कर दी।अपराधी वारदात को अंजाम देने के बाद मौके से हथियार लहराते हुए फरार हो गए।परिजनों ने बताया कि गांव के ही दोस्त उसे  घर से बुलाकर ले गया  था और  इस घटना को अंजाम दिया।02 दिन पहले भी परवेज और उसके दोस्तों के बीच किसी बात को लेकर आपस मे झड़प हुई थी,जिसके बाद उस झड़प को लेकर  गांव में पंचायत भी बैठाई गई थी,अब इसी बात को अपराधी अपने स्वाभिमान पर लेकर परवेज की हत्या कर दी।अब ऐसे आपराधिक तत्वों को क्या किया जाना चाहिए जिसने इस विश्वव्यापी महामारी को लेकर पूरे विश्व में लॉक डाउन की स्थिति बनी हुई है और ये चन्द अपराधी तबके के लोग जघन्य हत्या जैसी अपराध को अन्जाम देने से बाज नहीं आ रहा है।ऐसे अपराधियों को तो प्रशासन बीच चौराहे पर खड़ा करके गोली मार दे यही सजा माकूल है इन दरिन्दों केलिए। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...