जेनरिक दवाइयों के प्रति लोगों को जागरूक करना जरूरी: रवि किशन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 4 मार्च 2020

जेनरिक दवाइयों के प्रति लोगों को जागरूक करना जरूरी: रवि किशन

स्वास्थ्य कार्यकर्ता आशुतोष कुमार सिंह ने भेंट की अपनी पुस्तक जेनिरिकोनॉमिक्स
need-awareness-for-generic-medicine-ravi-kishan
नई दिल्ली (आर्यावर्त संवाददाता) हिंदी, भोजपुरी एवं साउथ के फिल्मो के दमदार नायक एवं गोरखपुर के सांसद रवि किशन ने लोगों को जेनरिक दवाइयों के प्रति जागरूक करने पर जोर देते हुए कहा कि, भारत सरकार ने लोगों को सस्ती दवा मिले इसके लिए पूरे देश में 6000 से ज्यादा जनऔषधि केंद्र खोला है। इन केंद्रों से लोगों को सस्ती दवा मिल रही है। इस बावत स्वास्थ्य कार्यकर्ता आशुतोष कुमार सिंह द्वारा स्वास्थ्य जागरूकता का किये जा रहे काम की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि आशुतोष की किताब जेनेरिकोनॉमिक्स लोगो में जेनरिक के प्रति फैले भ्रम को दूर करने में सहायक सिद्ध होगी।  ध्यान देने वाली बात यह है की साउथ की कई फिल्मो में जेनरिक दवाईयों का मुद्दा उठाया गया है। खासतौर से हेबबुली फ़िल्म में इस मुद्दे को संहिदगी से उठाया गया है। अपनी किताब भेंट करते हुए स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवं स्वस्थ भारत न्यास के चेयरमैन आशुतोष कुमार सिंह ने कहा कि रवि किशन ऐसे पहले उत्तर भारतीय अभिनेता हैं जिन्होंने जेनरिक के मसले को अपनी फ़िल्म में जगह दी है। उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर और फ़िल्म बनाए जाने की जरूरत है। श्री आशुतोष की पुस्तक  जेनेरिकोनॉमिक्स का लोकार्पण इसी महीने मीडिया महोत्सव में केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने किया था।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...