सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 31 मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 31 मार्च 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 31 मार्च

लॉक डाउन के चलते शहर में फंसे घुमंतु जड़ी बूटी बेचने वाले  परिवारों के डेरे में पहुंचकर शिवसेना कार्यकर्ताओं ने बांटा खाना 

sehore news
सीहोर। फुटपाथों पर जड़ी बूटी बेचने वाले पंद्रह घुमंतू जाति के परिवारों को शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने भोजन के पेकेट बांटे। बुलंदशहर यूपी के लोग महिलाओं बच्चों के साथ जनता कफ्र्यु के कारण शहर में फस गए है। घुमंतु परिवार गणेश मंदिर रोड स्थित जगमानक प्लांट दीवार के पास अस्थाई झोपडिय़ां बनाकर रह रहे है।  शिवसेना युवासेना जिलाध्यक्ष सुनील राय और जिला प्रवक्कता मयंक जोशी ने तिरपाल डेरे में पहुंचकर सभी परिवारों को पके चावल रोटियों और दाल का वितरण किया। जिलाध्यक्ष श्री राय ने बताया की बीते दिनों शहर के फुटपाथों पर  दर्द निवारक आयूवेदिक तेल और जड़ी बूटी बेचने का कार्य बुलुंंदशहर से पहुंचे घुमंतू जाति के लोग कर रहे थे लेकिन अचानक कोरोना वायरस के चलते देश के साथ शहर में भी जनता कफ्र्यु लग गया और उक्त परिवार घर वापस नहीं जा सकें। मंगलवार को पहुंचकर भोजन की व्यवस्था की गई है। शिवसेना प्रशासन से उक्त गरीबों को भोजना सामगी्र उपलब्ध कराने की अपील करती है। 

सीईओ जिला पंचायत ने किया  बुदनी क्षैत्र का औचक  दौरा - लाॅक डाउन की स्थिती का लिया जायजा 

sehore news
आज जिला पंचायत सीईओ श्री अरूण कुमार विश्वकर्मा ने बुदनी क्षेत्र की विभिन्न ग्राम पंचायतो का ओचक निरीक्षण  कर लाॅक डाउन में ग्रामीण क्षेत्रों में की गयी व्यवस्थाओं का मुआयना किया । श्री विश्वकर्मा ने इस दौरान बुदनी और शाहगंज क्षेत्र की  लगभग 20 ग्राम पंचायतो  यथा खटपुरा अकोला, नीनोर , पहाड़खेड़ी  जैत, सरदार नगर डोबी मछवाइ सरदार नगर  आदि ंका दौरा किया । यहां उन्होने बाहर से आये हुए व्वक्तियों ओर उनके आश्रय हेतु तैयार किये गये आश्रय कक्षों का निरीक्षण किया ओर साथ ही ग्राम पंचायत द्वारा बाहर से आये व्यक्तियों भोजन ओर रहवास की व्यवस्थाओं का जायजा लिया । निरीक्षण के समय उन्होने बाहर से आये हुए व्यक्तियों  का लेखा जोखा रखने हेतु तैयार की गई पंजी का निरीक्षण भी किया साथ हीे आश्रय स्थलों में रूके हुए  व्यक्तियों से चर्चा कर उन्है  कोरोना बीमारी ओर इसके बचाव के उपायों पर समझाइस दी एवं  सभी को अपनी सामजिक जिम्मेदारी का निर्वाह करते हुए एक दूसरे से 3 मीटर की सोशल डिस्टेंसिंग बनाये रखने की अपील की । उन्होंने उपस्थित शासकीय अमले को भी अपनी सेहत का ख्याल रखते हुए लाॅक डाउन हेतु जारी शासकीय निर्देशों का पालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। श्री विश्वकर्मा के निरीक्षण के दौरान उनके साथ बुदनी विकास खण्ड के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री धर्मेन्द्र यादव तथा  ग्रामीण विकास विभाग का मैदानी अमला उपस्थित रहा। 

रेलवे कर्मचारी आईडी कार्ड अनिवार्य रूप से साथ में रखें 

कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए संपूर्ण लोकडाउन के दौरान रेल कर्मचारियों द्वारा उनके घर से कार्यस्थल तक एवं घर पर जाने में होने वाली परेशानियों को देखते हुए कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने निर्देश जारी किए है कि रेलवे कर्मचारी बंद/लॉकडाउन के दौरान कोरोना वायरस से संबंधित सावधानियों को बरतने के साथ कर्मचारी केवल ड्यूटी के प्रयोजन से संपूर्ण लाकडाउन प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे। कर्मचारियों को अपने साथ आईडी कार्ड रखना अनिवार्य होगा। 

14 अप्रैल तक संपूर्ण जिले में रहेगा लॉकडाउन   

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री अजय गुप्ता द्वारा दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के अन्तर्गत सीहोर जिले की संपूर्ण राजस्व सीमा में लॉकडाउन संबंधी आदेश 23 मार्च से 31 मार्च तक के लिए जारी किया गया था। कोरोना वायरस की रोकथाम आदेश में संशोधन करते हुए यह आदेश 31 मार्च की रात्रि 12 बजे के स्थान पर 14 अप्रैल 2020 तक बढ़ाई गई है। आदेश के समस्त बिन्दु पूर्ववत रहेंगे।

प्रदेश में कोरोना नियंत्रण और बचाव के महत्वपूर्ण नंबर 

प्रदेश में कोरोना नियंत्रण और बचाव कार्य के लिए राज्य स्तर पर संचालित कंट्रोल रूम्स एवं कॉल सेंटर के नंबर जारी किए गए हैं। ये नंबर आम लोगों के लिए बेहद मददगार साबित हो सकते हैं। सी.एम. हेल्पलाईन (वर्तमान में कोरोना के लिए उपयोग) - 181, स्वास्थ्य हेल्पलाईन (पूर्णत: कोरोना के लिए उपयोग) - 104। इसी प्रकार राज्य से बाहर फंसे हुए मध्यप्रदेश के निवासी मदद की जरूरत होने पर फोन नंबर 2411180 पर सम्पर्क कर सकते हैं। 

जिले में कोरोना पॉजिटिव एक भी व्यक्ति नहीं जिला स्तरीय कंट्रोल रुम 9893635076  पर प्राप्त की जा सकती है कोरोना वायरस से संबंधित जानकारी

नोवल कोरोना वायरस (COVID-19) संक्रमण बीमारी के रोकथाम एवं बचाव के लिए जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं एवं राज्य स्तर पर जारी किए गए दिशा निर्देशों का पालन पूर्ण गंभीरता से किए जा रहा है। जिले में नोवल कोरोना वायर की स्थिति के संबंध में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ प्रभाकर तिवारी ने जानकारी देते हुए बताया कि 30 मार्च 2020 तक विदेश भ्रमण कर जिले में आए हुए यात्रियों की संख्या 135 है जिसमें से 115 यात्रियों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया है। इसी प्रकार अन्य राज्यों से आए हुए यात्रियों की संख्या 1333 है जिनमें सभी का परीक्षण किया जा चुका है। उन्होंने बताया कि अन्य जिलों से आए हुए यात्रियों की संख्या 4610 है जिनका सभी का स्वास्थ्य परीक्षण हो चुका है। होम क्वारेंटाईन किए गए व्यक्तियों की संख्या 6058 है। डॉ तिवारी ने बताया कि जांच के लिए कुल 2 सेंपल भेजे गए हैं जबकि आईसोलेशन वार्ड में भर्ती किए गए व्यक्तियों की संख्या, कोरोना पॉजिटिव की संख्या तथा कोरोना नेगेटिव की संख्या शून्य है। उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा टेलीमेडिसिन मो.नंबर 07562-40129 जारी किया गया है जिसमें होम क्वारेंटाअर्न किए गए व्यक्ति व्हाटसएप, ऑडियो काल, वीडियो काल एवं zoom/skype के माध्यम से संपर्क कर चिकित्सीय सलाह ले सकते हैं। जिला स्तरीय कंट्रोल रूम नं. 9893635076 पर संपर्क कर नोवल कोरोना वायरस के संबंध में आवश्यक जानकारी प्राप्त की जा सकती है।    

शादी, विवाह, सगाई या जन्मदिन पार्टी आदि समारोह से दूर रहने की अपील 

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए आम नागरिकों से अपील की गई है कि वे शादी विवाह, सगाई या जन्मदिन की पार्टी आदि समारोह से दूर रहे और यथासंभव प्रयास करें कि इनमें शामिल ना हो। विश्वव्यापी कोरोना महामारी का अब तक कोई कारगर इलाज नहीं है, बचाव ही इसका एकमात्र उपाय है। अतः भीड़भाड़ वाले आयोजन में शामिल होने से बचें और अपने और अपने परिवार की सुरक्षा करें।

कोविड-19 की जानकारी के लिए विकासखण्ड स्तरीय नियंत्रण कक्ष स्थापित 24 घंटे संचालित रहेंगे  सभी नियंत्रण कक्ष

कोविड-19 कोरोना वायरस संक्रमण से संबंधित जानकारी के लिए विकासखण्ड स्तर पर नियंत्रण कक्ष स्थापित किए गए हैं। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.प्रभाकर तिवारी के निर्देश पर संचालित विकासखण्ड स्तरीय नियंत्रण कक्ष में प्रभारी अधिकारियों सहित 24 घंटे के लिए पालीवार कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई है।  सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र श्यामपुर में संचालित नियंत्रण कक्ष का संपर्क नंबर 8959077028 जारी करते हुए प्रभारी डॉ.नीतेश को बनाया गया है। सीएचसी बुदनी नियंत्रण कक्ष का संपर्क नंबर 9479595484 जारी करते हुए डॉ.नरेन्द्र सौंधिया को प्रभारी अधिकारी बनाया गया है। सामु.स्वा.केन्द्र इछावर नियंत्रण कक्ष का संपर्क नंबर 9926319681 जारी करते हुए ब्लाक कम्युनिटी मोबीलाइजर श्री नरेन्द्र मालवीय को प्रभारी अधिकारी बनाया गया है। सिविल अस्पताल आष्टा में प्रभारी अधिकारी डॉ.नेहा अरोरा को बनाया गया है तथा नियंत्रण कक्ष का संपर्क नंबर 9407551874 जारी किया गया है। सिविल अस्पताल नसरूल्लागंज में नियंत्रण कक्ष का संपर्क नंबर 7247704460 जारी करते हुए डॉ.रामकुमार झा को प्रभारी अधिकारी बनाया गया है। विकासखण्ड स्तरीय नियंत्रण कक्ष प्रभारियों तथा ड्यूटी स्टाफ को निर्देशित किया गया है कि जन सामान्य से कोविड-19 से संबंधित किसी भी प्रकार की जानकारी एकत्रित कर प्रभारी अधिकारी को तत्काल अवगत कराएंगे। फिल्ड की रिपोर्ट सीएचसी,पीएचसी से लेकर सेक्टरवार कम्प्यूटर रूम में दिए गए निर्धारित प्रपत्र में दर्ज कराएंगे। सभी हाउस क्वारेंटाईन की सूची तैयार कर उनकी वर्तमान स्थिति की जानकारी प्राप्त कर प्रभारी अधिकारी को अवगत कराने के निर्देश दिए गए है।

पीडीएस में राशन वितरण की शिकायत 181 पर ही करें 

सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अन्तर्गत राशन दुकानों से प्रति माह होने वाले राशन वितरण से संबंधित समस्याओं की शिकायतें पूर्व की भांति सीएम हेल्पलाइन नम्बर 181 पर ही की जा सकती हैं। लॉक डाउन अवधि में जरूरतमंद बेघर, बेसहारा व्यक्ति नि:शुल्क पका हुआ भोजन प्राप्त करने के लिए टोल फ्री नम्बर 18002332797 पर सम्पर्क कर सकते हैं। साथ ही,  ऐसी संस्था अथवा व्यक्ति, जो जरूरतमंदों के लिए रेडी टू, पैक्ड फूड सहायता स्वरूप प्रदान करना चाहते हैं, वे भी इस टोल फ्री नम्बर पर सम्पर्क कर अपना विवरण नोट करा सकते हैं।

कोरोना वायरस के कारण काम पर ना आने वाले मजदूरों को मजदूरी मिलेगी 

श्रम आयुक्त द्वारा एक परिपत्र जारी कर सभी कारखानों और वाणिज्य के संस्थाओं के  नियोजकों को निर्देश दिए हैं कि वर्तमान असाधारण परिस्थितियों में काम पर उपस्थित न हो पाने वाले श्रमिकों का वेतन नहीं काटा जाएगा। वर्तमान असाधारण परिस्थितियों में किसी भी श्रमिक की अनुपस्थिति के कारण उनकी सेवा समाप्ति छटनी एसर्विस ब्रेक नहीं किया जाएगा कारखाना दुकान अथवा वाणिज्यिक संस्थान के बंद रहने की अवधि में कार्यरत कर्मचारियों के वेतन अथवा अन्य देख वैधानिक स्वत्वों में से किसी भी प्रकार की कटौती नहीं की जाएगी। यदि कर्मकार इस अवधि में पूर्व से अवकाश पर है तथा कर्तव्य पर उपस्थित नहीं हो पा रहा है तो ऐसी परिस्थितियों में उन्हें संवेतनिक अवकाश स्वीकृत किया जाएगा। ऐसे कारखाना दुकान एवं वाणिज्यिक संस्थानों में जहां अति आवश्यक सेवाओं एवं वस्तुओं की आपूर्ति हेतु कर्मकार की सेवाएं अपरिहार्य कारणों से आवश्यक है जैसे कि  खाद्य पदार्थ निर्माण, फूड प्रोसेसिंग, दवाए मास्क एसैनिटाइजर निर्माण, पेट्रोल डीजल पंप,सामान्य दैनिक उपयोग संबंधी आपूर्ति होम पार्सलए टिफिन आदि की सेवाएं, तो इन में कार्यरत कर्मचारियों को संक्रमण से बचाने हेतु सभी  सभी सुरक्षा उपकरण एवं उपाय जैसे मास्क हैंड ग्लव्स साबुन और सैनिटाइजर उपलब्ध कराए जाएंगे। किसी भी कर्मकार के बीमार होने पर उसका तत्काल मेडिकल हेल्थ चेकअप कराया जाएगा और उसे निशुल्क चिकित्सा की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी सभी नियोजकों एवं प्रबंधकों द्वारा इस संबंध में जिला कलेक्टर  और लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा जारी समस्त निर्देशों का पालन किया जाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...