विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 24 मार्च - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 24 मार्च 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 24 मार्च

अपने-अपने घरो में रहने की पुनः अपील  

कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने विदिशा जिले के सभी नागरिकों से आव्हान किया है कि लॉकडाउन अवधि में अपने-अपने घरो में रहें। नोबल कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के प्रभाव को कम करने के लिए कलेक्टर ने नागरिकों से अपील की है कि मानव कल्याण हेतु आपसी समन्वय स्थापित कर हम नियत अवधि में अपने घर में रहकर मानव कल्याण के कार्य में अपना योगदान दें। कलेक्टर डॉ जैन ने कहा है कि अब यदि अनावश्यक घूमते पाए जाने पर पुलिस द्वारा सख्ती बरती जाएगी और आवश्यकता पड़ी तो जेल भेजने की भी कार्यवाही संबंधितो के खिलाफ की जाएगी। कलेक्टर ने लॉकडाउन अवधि में पुनः संबंधितों को अपने-अपने घर में रहने की बात से अवगत कराया है। 

जिले में अब 31 मार्च तक लॉकडाउन की अवधि बढ़ी

vidisha news
कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी डॉ पंकज जैन ने कोरोना वायरस के संक्रमण से जानमाल को सुरक्षित रखने हेतु भारत सरकार एवं मध्यप्रदेश शासन के स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण द्वारा जारी एडवायजरी के अनुसरण तदानुसार विदिशा जिले की समस्त राजस्व सीमाओं को पहले पच्चीस मार्च तक के लिए सम्पूर्ण लॉकडाउन घोषित करने का आदेश जारी किया गया था। कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी डॉ पंकज जैन ने पूर्व में जारी लॉकडाउन आदेश में संशोधन करते हुए अवधि बढ़ाए जाने का नया आदेश जारी कर दिया है। जारी नवीन आदेशानुसार अब विदिशा जिले में 31 मार्च तक लॉकडाउन प्रभावशील रहेगा। लॉकडाउन अवधि के जारी नवीन आदेश में पूर्वानुसार छूट एवं प्रतिबंध यथावत् प्रभावशील रहेंगे। 

कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक द्वारा भ्रमण कर जायजा  एसएटीआई के हॉल, हॉस्टल एवं कक्ष अधिग्रहण 

vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन, पुलिस अधीक्षक श्री विनायक वर्मा ने मंगलवार को संयुक्त रूप से भ्रमण कर विषम परिस्थितियों में आवश्यकता पड़ने पर लोगो को सुरक्षित ठहराने के लिए एसएटीआई की डिग्री एवं पॉलिटेक्निक के हॉल हॉस्टल कक्षो का भ्रमण कर जायजा लिया। ज्ञातव्य हो कि लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा जारी अधिसूचना अनुसार संकुल मध्यप्रदेश राज्य के लिए नोबल कोरोना (कोविड-19) अधिसूचित संक्रमण रोग घोषित किया गया है। इसके अलावा विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा कोरोना वायरस रोग के फैलने की गंभीर स्थिति को देखते हुए इसे महामारी घोषित किया है। वर्तमान में यह वायरस भारत के कई राज्यों में तेजी से फैल रहा है जिससे बचने हेतु प्रत्येक स्तर पर हर प्रकार के प्रयास सुनिश्चित किए जा रहे है। विदिशा जिले में भी आकस्मिक रूप से यदि वायरस फैलता है तो लोगो को सुरक्षित ठहरने हेतु स्थलों का चिन्हांकन कर भवनों को अधिग्रहण करने की कार्यवाही की जा रही है। विदिशा अनुविभागीय दण्डाधिकारी श्री संजय कुमार जैन ने बताया कि कलेक्टर सर के द्वारा दिए गए निर्देशो के अनुपालन में एसएटीआई के पॉलिटेक्निक एवं डिग्री के कुल 15 हॉल, हॉस्टल कक्ष एवं विश्राम गृह को आगामी आदेश पर्यन्त के लिए अधिग्रहण किया गया है अधिग्रहण किए गए कक्षो हॉलो सहित अन्य में कुल 1110 नागरिकों को सुरक्षित ठहराने के प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। 

कोरोना वायरस से निपटान संबंधी कार्यो का युद्वगति से क्रियान्वयन करें

नोबल कोरोना वायरस (कोविड-19) की रोकथाम के लिए जिले में विशेष प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा व्यवस्थाओं के मद्देनजर 15 प्रकोष्ठों का गठन कर जिलाधिकारियों को नोडल एवं सहायक नोडल नियुक्त किया गया है। जिला पंचायत सीईओ श्री मयंक अग्रवाल ने मंगलवार को नोडल अधिकारियों की बैठक आहूत कर उन्हें कोरोना वायरस से निपटान संबंधी कार्यो का युद्वगति से क्रियान्वयन करने के निर्देश दिए है। श्री अग्रवाल ने कहा कि प्रकोष्ठों के अधिकारी आपसी समन्वयक, ताल-मेल से सौंपे गए कार्य का समय सीमा पूर्व क्रियान्वयन कर मानव कल्याण के हितार्थ को प्रतिपादित करें।  अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने स्वास्थ्य विभाग सहित अन्य विभागों के प्रकोष्ठों के नोडल अधिकारियों को निर्देश दिए है कि कोरोना वायरस के संबंध में शासन स्तर से अथवा विभाग प्रमुख के द्वारा यदि कोई दिशा निर्देश जारी किए जाते है तो उसकी जानकारी कलेक्टर सर के संज्ञान में अविलम्ब लाई जाएं वही उक्त कार्य हेतु गठित सेल में आदेश की प्रति समय सीमा में उपलब्ध कराई जाए ताकि जारी आदेश से सर्वसंबंधित विदित हो सकें।  अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह ने मरीजो की व्यवस्था हेतु वैकल्पिक व्यवस्था अंतर्गत टेन्टो के प्रबंध, सब्जी मंडी में भीड-भाड ना हो इसके लिए एक दुकान से दूसरी दुकान के बीच निर्धारित गेप के प्रबंध सुनिश्चित किए जाए। उन्होंने कहा कि मरीजो की व्यवस्था हेतु वर्तमान में दो से तीन सौ बैड सुनिश्चित किए गए है जिसे अब एक हजार बेड के हिसाब से प्लान तैयार किया जाए। और इसके लिए आवश्यक बुनियादी सुविधाओं को ध्यानगत रखते हुए प्लान को मूर्तरूप दिया जाए। उन्होंने कहा कि भवनों का चिन्हांकन किया जा चुका है आवश्यकता की पूर्ति हेतु बजट ना हो तो डिमांड बनाकर बैठक में बताया गया कि स्वास्थ्य संबंधी गतिविधियों के क्रियान्वयन हेतु जिला मुख्यालय के साथ-साथ सभी विकासखण्ड पर रैपिड रिस्पांस टीम का गठन किया गया है बीमारियों संबंधी जानकारी प्राप्ति के लिए तथा मरीजो को समय पर चिकित्सा सुविधाएं मिले इसके लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा पृथक से कंट्रोल रूम का गठन किया गया है। जिला चिकित्सालय में सामान्य ओपीडी बंद की गई है उसकी जगह अब सर्दी, खांसी, बुखार के लिए पृथक से ओपीडी का संचालन किया जा रहा है। कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए जिला चिकित्सालय मे किए गए प्रबंधो की जानकारी मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी के द्वारा दी गई। इस दौरान बताया गया कि चार मरीजो को क्यूरेन्टाइन सेन्टर में रखा गया है। इसके अलावा होम आइसोलेशन में 18 मरीजो पर नजर रखी जा रही है। तीन प्रभावितो का परीक्षण हेतु नमूने भोपाल एम्स भेजे गए है।  जिला स्तरीय कंट्रोल रूम के प्रभारी डिप्टी कलेक्टर श्री प्रवीण प्रजापति को सभी प्रकोष्ठों की जानकारियां संकलित करने के निर्देश दिए गए है। जिपं सीईओ के द्वारा आकस्मिक रूप से आवश्यक वस्तुओं की पूर्ति हेतु किए जाने वाले प्रबंधो की भी समीक्षा की गई। उन्होंने वैकल्पिक प्रावधानों की सूची तैयार करने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि जिले में आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति में किसी भी प्रकार की दिक्कते ना हो का पूरा ध्यान रखा जाए। इसी प्रकार सब्जी, फल,फूल के प्रबंध सुनिश्चित किए जाए और मांग पूर्ति के दरम्यिन कीमतों की दरे अत्यधिक ना बढे पर पूरी नजर रखी जाए। बैठक में मीडिया सेल, कोरोना वायरस के संदिग्ध व्यक्तियों की क्यूरेन्टाइन एवं कोरोना मरीज के उपचार हेतु किए गए प्रबंधो, आवश्यकता पड़ने पर एम्बुलेंसो की पूर्ति तथा वाहनों की उपलब्धता सुनिश्चित कराने संबंधी कार्यो की समीक्षा की गई है। 

समर्थन मूल्य पर गेंहू उपार्जन कार्य एक अपै्रल से

उपार्जन निजी 2020-21 में समर्थन मूल्य पर रबी उपार्जन संबंधी कार्य पूर्व में 25 मार्च से 22 मई तक की अवधि में क्रियान्वित किया जाना था। कोरोना वायरस के विश्वयापी प्रकोप संक्रमण को रोकने के दृष्टिगत 31 मार्च तक प्रदेश के कई जिलो में लॉकडाउन घोषित किया गया है उक्त स्थिति को दृष्टिगत रखते हुए खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग के उप सचिव द्वारा समर्थन मूल्य पर गेंहू उपार्जन संबंधी कार्य अब एक अपै्रल से शुरू करने का आदेश जारी कर दिया गया है। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने उप सचिव के द्वारा जारी आदेश के परिपालन में उपार्जन संबंधी कार्य जिले में एक अपै्रल से शुरू करने के निर्देश संबंधित विभागों एवं उपार्जन कार्यो को क्रियान्वयन करने वाले अधिकारी तथा विभागों को दिए है। 

कलेक्टर ने सफाई कामगारों का हौंसला अफजाई किया

कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आज विदिशा नगरपालिका के सफाई कामगारो से संवाद स्थापित कर उनका हौंसला अफजाई किया हैं कलेक्टर ने नीमताल तथा दुर्गानगर चौराहे पर सफाई कामगारो से पृथक-पृथक चर्चा कर उनसे कहा है कि उनकी जो भी समस्या हो से सीधे अवगत करा सकते है।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने कहा कि कोरोना वायरस को देखते हुए साफ सफाई का अत्यधिक महत्व है अतः सभी सफाई कामगार अपने स्वास्थ्य का भी ध्यान रखते हुए सफाई कार्यो को अंजाम दें। उन्होंने इस संकंट के दरम्यिन निर्धारित गेप बनाए रखने पर बल देते हुए कहा कि यदि कोई आश्वस्त होता है तो मुझे अथवा अस्पताल में जानकारी दें ताकि स्वास्थ्य में सुधार हेतु चिकित्सीय व्यवस्था के प्रबंध सुनिश्चित किए जा सकें। मुख्य नगरपालिका अधिकारी श्री सुधीर सिंह ने सफाई कामगारो को निकाय की ओर से सुरक्षा को ध्यानगत रखते हुए उपलब्ध कराए गए संसाधनो से अवगत कराया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...