बेगूसराय : 11 मौलवी को प्रशासन ने ढूंढ निकाला है - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 2 अप्रैल 2020

बेगूसराय : 11 मौलवी को प्रशासन ने ढूंढ निकाला है

धरमपुर के डॉ इश्तेयाक के घर में छुपे 9 बांग्लादेशी और 2 झारखंड से
11-maulvi-arrested-begusarai
अरुण शाण्डिल्य (बेगूसराय) जब भारतीय होते हुए भी विदेशियों को परिश्रय देने से बाज नहीं आ रहे हैं तो भला सरकार या स्थानीय प्रशासन ही कितना कुछ करने में सक्षम हो सकता है।ऐसे ही में एक घर में छिपे 9 बांग्लादेशी मौलाना समेत 11 को पुलिस ने पकड़ा है।सभी एक घर में छिपे हुए थे,और वह घर था एक डॉक्टर का।जब पुलिस ने यह कार्रवाई धरमपुर में डॉ.इश्तेयाक के घर पर की तो मामला सामने आया इन सबों पर यह आशंका किया जा रहा है कि ये कोरोना पॉजिटिव हैं,इन सभी को क्वॉरेंटाइ किया गया है। सदर अस्पताल में इनका जांच काराय गया। सभी को पुलिस ने सदर अस्पताल जांच के लिए लाया।इसके बाद उनलोगों को होटल डबल ट्री में बनाये गए क्वॉरेंटाइन सेंटर में रखा गया है।इस संबंध में रेस्क्यू कर रहे चिकित्सक ने बताया कि शहर के घनी आवादी वाले इलाके में डॉ इश्तेयाक ने सरकार के लॉक डाउन के आदेश का उल्लघंन करते हुए तबलीगी जमात के 11 लोगों को छुपा कर रखा था।जिसमें 9 लोग बांग्लादेशी हैं और 2 लोग झारखंड के हैं।इन विदेशियों के मिलने की खबर से इलाके के लोग आश्चर्य के साथ दहशत में आ गए है।हालांकि इसमें कोई भी संदिग्ध कोरोना मरीज है या नहीं इसका खुलासा जांच रिपोर्ट आने के बाद ही हो पाएगा।आपको बता दें कि निजामुद्दीन जमात तबलीगी में हजारों लोग शामिल हुए थे,इस जमात में शामिल हुए कई लोगों की मौत कोरोना के कारण देश में हो गई है।और कई पॉजिटिव पाए गए है।जहां भी इनलोगों की जाने की सूचना मिल रही है वहां पर प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा बड़ी सख्ती से छापेमारी हो की कार्यवाही चल रही है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...