दिशा-निर्देशों के बीच कोरोना संक्रमितों की संख्या 12 हजार के करीब - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 16 अप्रैल 2020

दिशा-निर्देशों के बीच कोरोना संक्रमितों की संख्या 12 हजार के करीब

12-thousand-corona-affected-in-india
नयी दिल्ली, 15 अप्रैल, कोरोना वायरस ‘कोविड-19’ के प्रकोप के कारण देश में दूसरी बार लागू लॉकडाउन के पहले ही दिन देशभर में इस जानलेवा वायरस के 1118 नये मामले दर्ज किये गये और अब तक 377 संक्रमितों की मौत हो गयी है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने हालांकि कहा है कि देश में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या में बढ़ोत्तरी तो हो रही है लेकिन अभी तक हम सामुदायिक संक्रमण की स्टेज में नहीं आये हैं और यह सब पहले से की गई तैयारी और पहले चरण के लाॅकडाउन तथा सामाजिक दूरी (सोशल डिस्टेंसिंग) का ही नतीजा है। मंत्रालय के अनुसार देश के कुछ हिस्सों में कोरोना के काफी मरीज मिल रहे हैं और इनसे निपटने के लिए 170 जिलों को हॉटस्पॉट चिह्नित किया गया है और 270 जिले ऐसे हैं जो गैर हॉटस्पॉट श्रेणी में हैं। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि कोरोना वायरस से निपटने के लिए आने वाले दो-तीन सप्ताह बेहद नाजुक हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा लॉकडाउन की अवधि 21 दिनों और तीन मई तक बढ़ाये जाने के बाद गृह मंत्रालय ने दिशा-निर्देश जारी किये हैं जिनमें कहा गया है कि सभी सार्वजनिक परिवहन पर प्रतिबंध पहले की तरह जारी रहेंगे। गृह मंत्रालय ने बुधवार को एक आदेश जारी कर कहा है कि कोरोना महामारी के कारण आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 के तहत गत 14 अप्रैल तक लागू किये गये सभी दिशा-निर्देशों की अवधि आगामी तीन मई तक बढ़ायी जा रही है। नये दिशा-निर्देशों में भी लॉकडाउन के दौरान देश भर में रेल, हवाई, मेट्रो और अन्य सार्वजनिक परिवहन के साधन बंद रहेंगे। सभी तरह के शिक्षण और कोचिंग संस्थान भी पहले की तरह बंद रहेंगे। औद्योगिक और व्यावसायिक इकाइयां भी बंद रहेंगी हालांकि जिन इकाइयों को पहले छूट हासिल थी, वह अभी भी जारी रहेगी तथा सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर आपदा प्रबंधन अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया जाएगा। स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता लव अग्रवाल ने बुधवार को यहां संवाददाता सम्मेलन में बताया कि देश में अभी सामुदायिक संक्रमण का दौर शुरू नहीं हुआ है और कई क्षेत्रों में यह स्थानीय स्तर पर देखने को मिला है। नये दिशा-निर्देशों में सरकार ने सभी केंद्र शासित प्रदेशों और राज्यों से लॉकडाउन का सख्ती से पालन करने के लिए कहा है। कोरोना वायरस का प्रभाव सबसे अधिक महाराष्ट्र में दर्ज किया गया है जहां 117 नये मामलों के बाद राज्य में कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 2687 हो गयी है तथा 178 लोगों की मौत हो गयी है। संक्रमितों की संख्या के मामले में दूसरे स्थान पर दिल्ली है, जहां अब तक कुल 1561 लोग इस महामारी से संक्रमित हुए हैं। इस दौरान दो और लोगों की मौत के बाद मृतकों की संख्या बढ़कर 30 हो गयी है। पिछले 24 घंटों में दिल्ली में 51 नये मामले सामने आये हैं जबकि तमिलनाडु में भी मामले बढ़कर 1204 हो गए है और अब तक 12 लोगों की जान जा चुकी है। मंत्रालय ने महामारी के मद्देनजर देश भर में पूर्णबंदी की अवधि तीन मई तक बढ़ाने के बाद इससे संबंधित संशोधित दिशा निर्देशों में 20 अप्रैल के बाद कृषि और उद्योग क्षेत्र के साथ साथ कुछ सेवाओं से जुड़े निजी कामगारों को रियायत देने की घोषणा की है। इसके अलावा रेलवे ने 30 हजार से अधिक व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण (पीपीई) का उत्पादन शुरू कर दिया है और अगले माह तक एक लाख पीपीई का उत्पाद करने की योजना बनाई है। रेलवे ने हालांकि प्रवासियों के कोई भी विशेष ट्रेन चलाने से इन्कार कर दिया है। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने राज्य के संक्रमित विधायक से संपर्क में आने के बाद स्वयं को 14 दिन के लिए अलग-थलग कर लिया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...