राज्यों को एक लाख करोड़ रुपये का आर्थिक पैकेज दे केंद्र : कांग्रेस - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 4 अप्रैल 2020

राज्यों को एक लाख करोड़ रुपये का आर्थिक पैकेज दे केंद्र : कांग्रेस

congress-demand-one-lakhs-crore-help-to-state
नयी दिल्ली, चार अप्रैल, कांग्रेस ने शनिवार को केंद्र सरकार से आग्रह किया कि कोरोना संकट से निपटने के लिए राज्यों के लिए एक लाख करोड़ रुपये के आर्थिक पैकेज की घोषणा की जाए और उन्हें जीएसटी के बकाये का भुगतान भी किया जाए। पार्टी प्रवक्ता सुप्रिया श्रीनेत ने यह भी कहा कि केंद्र सरकार कोरोना के खिलाफ लड़ाई में राज्य सरकारों एवं राजनीतिक दलों को साथ ले और आम सहमति बनाए। उन्होंने वीडियो लिंक के माध्यम से संवाददाताओं से कहा, ''कोरोना के खिलाफ जंग में राज्य सरकारें अग्रिम पंक्ति में खड़ी हैं। इस संदर्भ में नीति एवं निर्णयों का क्रियान्वयन उनके द्वारा किया जा रहा है। हम केंद्र सरकार से आग्रह करते हैं कि राज्य सरकारों को इस लड़ाई में और मजबूत बनाया जाए।'' सुप्रिया ने कहा, ''राज्य सरकारों के पास धन और संसाधन की कमी है। हमारी मांग है कि केंद्र सरकार राज्य सरकारों के लिए एक लाख करोड़ रूपये के कोरोना आर्थिक पैकेज की घोषणा करे।'' उन्होंने केंद्र से यह आग्रह भी किया कि राज्यों को जीएसटी के बकाये के 42 हजार करोड़ रुपये तत्काल जारी किये जाए। कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, '' राज्यों के पास कर्ज देने की क्षमता बहुत समिति है। रिजर्व बैंक राज्य सरकारों के लिए ऐसी व्यवस्था करे ताकि उन्हें कम दर अथवा शून्य प्रतिशत की ब्याज पर कर्ज मिल सके।'' उन्होंने यह आग्रह किया, ''इस लड़ाई को कोई सरकार या दल अकेले नहीं लड़ सकता। केंद्र सरकार कोरोना के खिलाफ लड़ाई में राज्य सरकारों एवं राजनीतिक दलों को साथ ले और आम सहमति बनाए।''

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...