मधुबनी : विडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से दिये गये निदेश - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 23 अप्रैल 2020

मधुबनी : विडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से दिये गये निदेश

government-direction-by-vc-madhubani
मधुबनी 22, अप्रैल (आर्यावर्त संवाददाता) मुख्य सचिव, बिहार के द्वारा विडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बुधवार को राशन उपलब्धता एवं अन्य बिंदुओं पर समीक्षा की गयी। समीक्षा के क्रम में उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में राशन कार्ड से वंचित वैसे व्यक्ति जो राशन कार्ड हेतु पात्रता रखते है, उसका सर्वेक्षण जीविका की दीदीयों के द्वारा किया जा रहा है। सर्वेक्षण कार्य की निगरानी डी0पी0एम0, जीविका के द्वारा किया जायेगा। तत्पश्चात सर्वेक्षण के दौरान प्राप्त आवेदनों को अनुमंडल पदाधिकारी डाटा इंट्री कराकर राशन कार्ड तथा राशन उपलब्ध कराने की कार्रवाई करेंगे। शहरी क्षेत्र में भी एन0यू0एल0एम0 के द्वारा शहरी क्षेत्र में पात्रता रखने वाले बिना राशन कार्ड वाले व्यक्तियों का सर्वेक्षण कर डाटा संग्रह करेंगे। इसकी माॅनिटरिंग सिटी मैनेजर एवं कार्यपालक पदाधिकारी के द्वारा किया जायेगा। इसके साथ ही वैसे राशन कार्डधारी का डाटा जिसका आधार नंबर बैंक खाता से लिंक नहीं है, अथवा आधार कार्ड/बैंक पासबुक तथा राशन कार्ड में नाम अथवा अन्य जानकारी भिन्न है, उससे संबंधित सही डाटा भी संग्रहित कर विभाग के वेवसाइट पर अपलोड करने हेतु निदेश दिया गया। इस हेतु सभी अनुमंडल पदाधिकारी को अपने-अपने क्षेत्र के विकास मित्र, ग्रामीण आवास सहायक को प्रति डीलरवार प्रतिनियुक्ति करने का निदेश दिया गया। साथ ही वैसे राशन कार्ड धारी का डाटा भी संग्रहित करने हेतु निदेश दिया गया है, जिसका आधार नंबर उपलब्ध नहीं है। आर0टी0पी0एस0 पर जितने आवेदन स्वीकृत हुए है, उसका ऑफलाईन मोड में आधार एवं बैंक खाता का इंट्री कराने हेतु सभी अनुमंडल पदाधिकारियों को निदेश दिया गया।

कोई टिप्पणी नहीं: