झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 21 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 22 अप्रैल 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 21 अप्रैल

झाबुआ के लक्ष्मीबाई मार्ग मित्र मंडल द्वारा सफाईकर्मी, स्वास्थ्यकर्मी और पुलिसकर्मियों का पुष्प वर्षा कर किया गया स्वागत
देष में अब तक कोरोना से मृत हुए लोगों को दी श्रद्धांजलि
jhabua news
झाबुआ। शहर के वार्ड क्र. 5 स्थित लक्ष्मीबाई मार्ग में लक्ष्मीबाई मार्ग मित्र मंडल द्वारा कोरोना वायरस जैसी महामारी के बीच लगे संपूर्ण लाॅकडाउन के बीच कोरोना यौद्धाओं और कर्मवीरांे के रूप में अपनी दिन-रात सेवाएं दे रहे सफाईकर्मियों, स्वास्थ्यकर्मियों और पुलिसकर्मियो का 20 अप्रेल, सोमवार शाम 5 बजे पुष्पमाला पहनाकर एवं पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया एवं उनकी सेवाओं के लिए उन्हें सैल्यूट किया गया। साथ ही देष में अब तक कोरोना से संक्रमित सभी मृतकों को भी भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गई। वार्ड क्र. 5 के पार्षद नरेन्द्र संघवी एवं लक्ष्मीबाई मार्ग मित्र मंडल के गजेन्द्रसिंह शक्तावत, विषाल व्यास, संजय छाजेड़, राणाजी कटकानी, विजय चैहान, श्रीमती चेतना चैहान सहित लक्ष्मीबाई मार्ग के समस्त रहवासियों ने मिलकर सफाईकर्मियों, स्वास्थ्यकर्मियों, पुलिसकर्मियों को मुंह पर मास्क पहनाकर एवं सोषल डिस्टेनसिंग में खड़े कर उनका पुष्पमाला पहनाकर एवं उन पर पुष्प वर्षा कर स्वागत किया गया। इस अवसर पर विषेष रूप से नगरपालिका झाबुआ के सुपर हीरो, कर्मवीर सेनेट्री प्रभारी कमलेष जायसवाल, जिनके नेतृत्व में शहरभर में सेनेटाईजेषन का कार्य धुआंधार तरीके से चल रहा है। साथ ही प्रतिदिन सड़कों की सफाई, नाले-नालियों की सफाई, कूड़ा-कचरे की सफाई का नियमित कार्य हो रहा है, ऐसे श्री जायसवाल का पार्षद श्री संघवी ने विषेष स्वागत कर उपस्थितजनों ने एक साथ कर्तल ध्वनि कर सम्मान किया।

इंदौर के थाना प्रभारी को सैल्यूट कर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि दी
बाद देष में अब तक कोरोना से संक्रमित मरीज, जिनकी मृत्यु हो चुकी है। उन्हें एवं विषेषकर इंदौर के थाना प्रभारी की कोरोना वायरस से मृत्यु होने पर ं सलामी देते हुए भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। वर्तमान में जो कोरोना से संक्रमित मरीज है, उनके जल्द स्वस्थ होने की भी कामना की।

विधायक कांतिलाल भूरिया ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चैहान को पत्र लिखकर गुजरात सहित अन्य राज्यो लॉक डॉउन के कारण फसेें जिले के मजदूरों को अपने घर पहुंचाने हेतु की मांग

झाबुआ। करोना संक्रमण के कारण देश व्यापी लॉक डॉउन के चलते  राज्य के बाहर झाबुआ जिले के मजदूरों को उनके निवास पर पहुंचाने की व्यवस्था के लिए क्षेत्रीय विधायक कांतिलाल भूरिया ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान को पत्र लिखा है भूरिया ने अपने पत्र में मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया की वर्तमान में करोना संक्रमण महामारी के कारण लाक डॉउन आगामी 3 मई तक बढ़ाया गया है झाबुआ अलीराजपुर रतलाम जिले के कई मजदूर लॉक डॉउनं के कारण विगत 1 माह से गुजरात राज्य एवं अन्य राज्यों के विभिन्न जिलों में फंस गए हैं यह मजदूर वहां पर दिहाड़ी मजदूरी करते थे वर्तमान में बेरोजगार हैं सामान खरीदने के लिए उनके पास पैसा भी खत्म हो गया है उनकी हालत खस्ता हो गई है मजबुर हो कर इन मजदूरों के परिवार एवं उनके साथियों द्वारा फोन कर एवं वीडियो बनाकर मुझे अवगत कराया गया कि उन्हें वहां पर खाना व राशन प्राप्त नहीं हो रहा है बच्चों से लेकर बड़े भी  परेशानी में अपना जीवन यापन कर रहे है उन्हें वहां न तो राशन मिल रहा है न ही वहा कोई मूलभूत सुविधा प्राप्त हो रही है ऐसे में उन्हें अपने निवास स्थान पर पहुंचाना अत्यंत आवश्यक हो गया है  भूरिया ने पत्र में आगे कहा कि अन्य राज्यो की सरकारों द्वारा अपने अपने क्षेत्र के निवासियों को उनके  मूल स्थान पर पहुंचाने हेतु सार्थक पहल की गई है एवं उन्हें सकुशल घर  पहुंचाया गया ह! भूरिया ने मंत्री शिवराज सिंह चैहान जिला प्रशासन संपर्क स्थापित कर जिले की जनपद पंचायत के माध्यम से पलायन कर गए मजदूरों की जानकारी प्राप्त कर उन्हें अपने अपने गृह निवास तक  पहुंचाने की मांग की है श्री भूरिया ने मुख्यमंत्री से अनुरोध किया कि अन्य राज्यो की तर्ज पर हमारे जिले के मजदूरों को भी आवश्यक जांच उपरांत अपने घर में पहुंचाने संबंधी आवश्यक कार्य सुनिश्चित कर अपने-अपने परिवारों से मिलाने का कार्य करें ! उक्त जानकारी जिला कांग्रेस प्रवक्ता हर्ष भट्ट ने दी।

लॉक डाउन में ताडी के नशे का चल रहा व्यापार ग्रामीणों ने कि रोक लगाने मांग 

पारा। पारा क्षेत्र की कलमोडा, चूड़ेली  एवं तेजारिया के सामाजिक कार्यकर्ताओं द्वारा गांवों में ताड़ी बेचने वाले व्यक्ति को पकड़ने की मांग की गई। स्थानीय चैकी पर दिए एक आवेदन में चूड़ेली सरपंचपति  बसन्त परमार, कलमोडा सरपंचपति अमरसिंह मेड़ा तथा तेजारिया के उदनसिंह सेंगर ने बताया कि  लॉक डाउन के चलते जहां पूरे देश मे धारा 144 लगी हुई है वहीं उनके ग्रामों और फलियों में कुछ लोग धड़ल्ले से ताड़ी का व्यापार करने के लिए आ रहे हैं। ग्रामीणो व सामाजिक कार्यर्ताओ द्वारा दिए गए नामजद आवेदन में चैकी प्रभारी से मांग की गई हे कि क्षेत्र मे नानकु पिता शेरू बामनिया उम्र 20 वर्ष ग्राम बेहड़िया थाना बोरी जिला अलीराजपुर उनके ग्राम कलमोडा में आकर प्रेमा पिता रावला बामनिया को बेचने हेतु ताड़ी की लगातार सप्लाई कर रहा है। जब ग्रामीणों ने उसे रोक कर समझाने की कोशिश की तो वो अपने 4 भाइयों शांतिलाल, अंगरु, दिलीप तथा पारस के साथ हथियारों जिनमे बंदूक और तलवार लेकर हम आवेदकों को जान से मारने को धमकी दे रहे हैं। चूंकि ये लोग ग्राम के लिए एक प्रतिनिधि के लिए भी काम करते हैं इसलिए पुलिस को दिए आवेदन में इन्होंने ताड़ी सप्लायर भाइयों के साथ ही बेचने वाले कैलाश केनसिंह सिंगाड, प्रेमा रावला बामनिया तथा तौलिया जोगड़िया बामनिया चूड़ेली पर सख्त कार्रवाई की मांग की है।

यह कहना हे इनका--
 ग्रामों में ताड़ी की खरीद - बिक्री सम्बन्ध में एक आवेदन मिला है, पुलिस पूरी  जानकारी निकालने के बाद आरोपियों को धर - दबोचेगी। : केशर सिंह पांडव  : चैकी प्रभारी पारा

कियोस्क संचालक द्वारा ग्रामीणों की राशि हड़प - शिकायत मिलने पर लौटाया पैसा

थांदला। अंचल में कियोस्क सेंटर संचालक द्वारा ग्रामीणों की राशि हड़प करने के अनेक मामले सामने आ रहे है। देश वैश्विक महामारी के चलते लॉक डाउन की स्थिति में है। ऐसे समय में शासन प्रशासन देश की हर जनता के लिए समुचित प्रबन्ध करने की कोशिश कर रहे है। केंद्र व मध्यप्रदेश शासन द्वारा ग्रामीणों को तीन माह का राशन उपलब्ध कराया जा रहा है तो उन्हें आर्थिक सहायता प्रदान करने के लिये प्रधानमंत्री जनधन खातें में 500 रुपये की राशि व उज्ज्वला योजनांतर्गत गैस सिलेंडर के लिये 800 रुपये की राशि जमा करा रहा है। जिसे निकालने के लिये ग्रामीण अंचल व नगर में अनेक बैंकों द्वारा कियोस्क संचालकों की नियुक्तियां की गई है। जो कियोस्क एप के जरिये थम्ब प्रक्रिया द्वारा ग्रामीणों के खातों की राशि निकालकर उन्हें देने का काम करते है। यह कार्य पूर्णतः निःशुल्क है जिसके लिये सम्बंधित बैंक आदि से उन्हें कमीशन भी मिलता है बावजूद इसके ये कियोस्क संचालक ग्रामीणों के हक की राशि पर डाका डालने से बाज नही आ रहे है। वर्तमान में जिलें सहित अनेक स्थानों पर कियोस्क संचालक भोलें अनपढ़ ग्रामीणों की राशि को कम बताकर उनके खातों से 100 रुपये से लगाकर 1000 रुपये से भी ज्यादा की राशि हड़प करने में भी नही डरते है। ऐसा ही एक मामला खवासा के निकट ग्राम कुकडिपाड़ा में सामने आया है। यहाँ के कुछ ग्रामीण ने शिकायत की है कि उनके यहाँ के कियोस्क संचालक ने उनकी पूरी राशि हड़प कर ली है तब मामला प्रकाश में आया। बताया जाता है कि यहाँ के कुछ ग्रामीण बामनिया बैंक में अपनी राशि लेने गए तब उन्हें पता चला कि उनके खाते से दो दिन पूर्व ही 1300 रुपये की राशि निकाल ली गई है तब उन्हें कियोस्क संचालक की बेईमानी का पता चला जिसने दो दिन पूर्व ही उनके खातें को थम्ब प्रक्रिया से चेक कर उन्हें उनके खातों में राशि नही है यह कहा गया था जबकि उनके खाते से 1300ध्- रुपये का आहरण कर लिया गया था। जब इसकी शिकायत स्थानीय एसडीएम सहित जिला कलेक्टर को की गई तो उक्त शिकायत पर थांदला तहसीलदार ललिता मैडम जाँच के लिये उस गाँव मे पहुँची तो पता चला कि कियोस्क संचालक ने शिकायत कर्ता को उक्त राशि लौटा दी है इसलिये शिकायत कर्ता ने अपनी शिकायत वापस ले ली है। कियोस्क संचालक ने शिकायत होने के बाद शिकायत कर्ता को राशि लौटाई इसका मतलब साफ था कि उसने ग्रामीणों की राशि पर डाका डाला बावजूद इसके कियोस्क संचालक आदि के कथन लेकर उसे छोड़ देना प्रशासनिक नाकामी को साबित करते हुए कियोस्क संचालकों के हौसलें बुलन्द करता है। यदि आज उसे सजा नही मिलती है तो वनांचल में ऐसा अनैतिक धोखाधड़ी का कार्य अनेक कियोस्क संचालक करेंगे क्योंकि उन्हें पता रहेगा कि पकड़े जाने पर सम्बंधित शिकायत कर्ता की राशि लौटा कर उसका मुँह बन्द कर देने से कार्यवाही भी नही होगी। तहसीलदार ललिता गडरिया का कहना है कि उन्होंने शिकायत कर्ता व कियोस्क संचालक के साथ ग्रामीणों के कथन ले लिए है वर्तमान में ग्रामीणों के लिये कियोस्क की आवश्यकता को देखते हुए उसे नसीहत देकर छोड़ दिया गया है। वही उस उचित कार्यवाही के लिये थांदला एसडीएम महोदय की संज्ञान में मामला लाया जा रहा है, जिसके बाद उनके द्वारा ही कोई कार्यवाही की जाएगी।

जिले के सभी कियोस्क बन्द हो - रेखा निनामा

jhabua news
उधर ग्राम कुकडिपाड़ा की युवा नारी शक्ति का परिचायक जयस की रेखा निनामा ने ग्रामीणों के हक की आवाज बुलंद करते हुए कहा है कि जिले के अधिकांश कियोस्क सेंटर ग्रामीणों के साथ धोखा करते हुए उनकी राशि को हजम कर रहे है जिसको लेकर उचित कार्यवाही होना जरूरी है। इन कियोस्क संचालक के कारण बैंकों की छवि भी धूमिल हो रही है जिसके लिये बैंकों को सोचना चाहिए कि वे ऐसे कियोस्क सेंटर के खिलाफ क्या कार्यवाही करें। वही स्थानीय प्रशासन को भी चाहिए कि या तो वे कियोस्क सेंटर को ही बन्द कर दे अथवा उन्हें ग्रामीणों को उनके खातों की पूरी जानकारी स्लिप के माध्यम से अथवा सेंटर के नाम से प्रिंट पर्ची पर लिखित में दे जिसमें खाता धारक के खातों की राशि व आहरण की राशि व बैलेंस की जानकारी स्पष्ट रूप से हो। यदि प्रशासन धोखा करने वाले कियोस्क सेंटर पर कार्यवाही नही कर सकता तो उन्हें ऐसे कियोस्क सेंटरों को बंद कर देना चाहिए।

फांसी के फंदे पर झूले युवा मामला प्रेम का या कोई साजिश

jhabua news
थांदला। तहसील के निकट ग्राम उदयपुरिया में मुख्य सड़क से करीब 100 मीटर अंदर खेत मे बबूल के पेड़ से लड़की के दुपट्टे से युगल युवा ने फांसी लगा कर खुदकुशी कर ली। प्राप्त जानकारी के अनुसार गाँव मे रहने  वाली कु परमथा मोहन वसुनिया (18 वर्ष) व अनिल भोदरा पार्गी (18 वर्ष) ने एक ही दुपट्टे से बबूल के पेड़ पर लटक कर अपनी जान दे दी। उक्त घटना की सूचना मिलते ही पुकिस थाना प्रभारी बी एल मीणा के निर्देश पर प्रधान आरक्षक आर डी बोरसी अपने सहयोगी आरक्षक बलिराम अचले के साथ मौके पर पहुँचे तब तक दोनों की लाश दुपट्टे के फटजाने से नीचे गिर चुकी थी । थांदला पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया है। उनके अनुसार मामला प्रथम दृष्टया प्रेम प्रसंग का लग रहा है बाकी विवेचना के बाद ही पता चलेगा।

आंगनवाड़ी कार्यकर्ता ने घर घर जाकर वितरित किए पोषण आहार के पैकेट

jhabua news
झकनावदा । मध्य प्रदेश शासन द्वारा चलाई जा रही पोषण आहार योजना अंतर्गत झकनावदा स्थित आंगनवाड़ी केंद्र क्रमांक 2 की कार्यकर्ता  कलावती सोलंकी साहिका ललिता कटारा ने घर घर जाकर 3 से 6 वर्ष के कुल 43 बच्चों को को पोषण आहार के पैकेट वितरित किए साथ ही घर घर जाकर बच्चों के परिवार को वैश्विक महामारी कोरोनावायरस कोविड-19 से बचने के उपाय भी बताएं  कलावती सोलंकी ने बताया कि  आप व आपके बच्चों को बेवजह अपने घरों के बाहर ना भेजें व ना  स्वयं निकले  मुंह पर मास्क लगाएं व हर 2 घंटे में साबुन से अपने हाथों को अच्छे से  धोए यदि इस बीमारी से लड़ना है तो हमें अपने परिवार के साथ अपने घर में सुरक्षित रहना है एवं कहा कि सरकारी हमें सुरक्षित रखने के लिए कई प्रयास कर रही है हम में उनके दिए गए निर्देशों का पूर्णतपूर्णतः पालन करना होगा!

सेन समाज ने सेनजी महाराज का जन्मोत्सव अपने घरों पर मनाया, पूजन-आरती कर लगाया नैवेद्य, शाम को घरों पर किए दीपक प्रज्जवलित

jhabua news
झाबुआ। सेन समाज झाबुआ द्वारा प्रतिवर्षानुसार इस वर्ष भी सेनजी महाराज की जयंती 19 अप्रेल, रविवार को मनाई गई। इस बार कोरोना वायरस (कोविड-19) से रोकथाम हेतु शहर में लगे संपूर्ण लाॅकडाउन के कारण समाजजनों ने घरों पर ही अपने धर्मगुरू की पूजन-आरती कर उन्हें नैवेद्य लगाया। शाम को घरों के दरवाजे और बालकनी में दीपक प्रज्जवलित किए।  जानकारी देते हुए समाज अध्यक्ष घनष्याम भाटी ने बताया कि कोरोना वायरस से रोकथाम हेतु शहर में लगे संपूर्ण लाॅकडाउन के कारण शासन-प्रषासन के निर्देषों का पूर्णतः पालन करते हुए सेन समाज झाबुआ ने रविवार को प्रातःकाल अपने घरों पर सेनजी महाराज का चित्र विराजमान किया। जिन समाजजनों के घरों में धर्मगुरू का चित्र नहीं होने से उन्होंने मोबाईल पर इंटरनेट पर गूगल से सेनजी का महाराज का चित्र निकालकर मोबाईल के माध्यम से धर्मगुरू की पूजन-आरती कर उन्हें नैवेद्य आदि लगाया। बाद सभी को प्रसादी के रूप के रूप में यह वितरण किया।

घरों पर की रोषनाई
समाजजनों ने इस दिन संध्या को अपने घरों पर रोषनाई करते हुए घरों के दरवाजे और बालकनी पर 5-5 एवं 11-11 दीपक प्रज्जवलित करते हुए सेनजी महाराज से प्रार्थना की कि आज देष जिन विषम पकरस्थितियों से गुजर रहा है। देष में कोरोना वायरस जैसी महामारी तेजी से फैल रहीं है, उससे जल्द ही देषवासियों का निजात मिले। देष में सुख और शांति बनी रहे। ज्ञातव्य रहे है कि 19 अप्रेल को प्रषासन के निर्देष पर ही समाजजनों ने इस दिन निकाले जाने वाली शोभायात्रा, महाकालिका माता मंदिर पर की जाने वाली महाआरती और महाप्रसादी के कार्यक्रम को पूरी तरह निरस्त किया।

जिला आपदा प्रंबंधन समिति की बैठक आयोजित हुई

jhabua news
झाबुआ। कोविड-19 को दृष्टिगत रखते हुवे जिला आपदा प्रंबंधन समिति की बैठक सोमवार को यहां कलेक्ट्रेड सभा कक्ष में कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री प्रबल सिपाहा की अध्यक्षता में आयोजित हुई। इस बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री विनित जैन, वन मण्डला अधिकारी श्री हरित अनुविभागीय दण्डाधिकारी डाॅ. अभयसिंह खराडी, डिप्टी कलेक्टर श्री एल.एन.गर्ग, विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी गणमान्य नागरिक उपस्थित थे। कलेक्टर श्री सिपाहा ने अवगत कराया कि कोविड-19 के संक्रमण की रोक थाम के लिये जिले में 3 मई 2020 तक संपूर्ण लाॅेक डाउन रहेगा। इस बैठक में यह तय किया गया कि पेट्रोल पम्प प्रति दिन प्रातः 8 बजे से दोपहर 2 बजे तक खुले रहेगें। लाॅक डाउन के दौरान बैंकें भी प्रति दिन सुबह 8 बजे से दोपहर 2 बजे तक खुली रहेगी। श्री सिपाहा ने बतलाया कि जिले में स्थापित 15 उद्योगों को चालू रखने कि अनुमती प्रदान की गई है। उद्योगों में कार्य करने वाले श्रमिकों को भोजन तथा मास्क प्रदाय करने की व्यवस्था सुनिष्चित कि जावेगी। श्री सिपाहा ने अनुभागीय दण्डाधिकारी को निर्देष दिये है कि इन उद्योगों का समय- समय पर निरीक्षण करें तथा श्रमिकों को दी जाने वाली सुविधा का भी अवलोकन करे। श्री सिपाहा ने कहा कि संपूर्ण लाॅक डाउन का कडाई से पालन किया जाए। मेडिकल दुकान को छोडकर कोई भी दुकानें खुली न रहें इस बात का व्यापारी वर्ग विषेष ध्यान रखे।  सामग्री का आॅन लाइन सफलाई करें। होम डिलेवरी की सेवाओं का विस्तार करें।श्री सिपाहा ने अवगत कराया कि  इलेक्ट्रानिक, दुकान,जैसे कूलर,पखें, फ्रिज की दुकाने कुछ समय के लिये खोलने की छुट दी जावेगी।कलेक्टर श्री सिपाहा ने  आपदा प्रंबंधन में लगे विभिन्न विभागों द्वारा किये जा रहे कार्यो की समीक्षा की और अधिकारियों को निर्देष दिये हैं कि वे सौपे गये दायित्व का अच्छी तरह से निर्वहन करे।  सांसद श्री जी.एस.डामोर ने जिला प्रषासन पुलिस प्रषासन तथा स्वास्थ्य विभाग के चिकित्सा अधिकारीयों और पेरामेडिकल स्टाप की सराहना करते हुए कहा कि कोरोना वायरस की रोकथाम के लिये लगन व निष्ठा पूर्वक कार्य कर रहे है और आगे भी इसी तरह अपने दायित्व का बेहतर ढंग से निर्वहन करेगें और कोरोना वायरस पर विजय प्राप्त करेगें। श्री डामोर ने जिला प्रषासन से अनुरोध किया की जिले में गरीब वर्ग के लोग है वे मजदूरी करके अपना जीवन यापन करते है उनके लिये भोजन व अन्य खाद्य  सामग्री उपलब्ध कराने के लिये षासन को प्रस्ताव भेजा जाए। मैं भी प्रस्ताव को स्वीकृत कराने को प्रयास करूगां। क्षेेेत्रीय विधायक श्री कांतीलाल भुरिया ने इस बैठक को संबोधित करते हुए कहां कि जिला प्रषासन द्वारा पिछली बैठक में प्राप्त सुझावों और निर्णयों का प्रभावी एवं कारगर क्रियानवयन किया है। इसके लिये जिला प्रषासन धन्यवाद का पात्र है। श्री भुरिया ने अपेक्षा करते हुए कहा कि जिला प्रषासन द्वारा वर्तमान व्यवस्था की तरह आगे भी व्यवस्थाएं सुनिष्चित की जावेगी। म्ुाख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री संदीप षर्मा ने अवगत कराया कि जिले में नरेगा योजना के तहत लग-भग 25 कार्य किये जावेगें। इस दौरान मास्क का उपयोग करने तथा सोसल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा जावेगा। जिले में 1 लाख 98 हजार जाॅब कार्ड धारी है। जिले में 3 लाख श्रमिक है। इन श्रमिकों के लिये जिले में 17 हजार कार्य चिन्हीत किये गए है। प्रत्येक पंचायत में एक-एक राहत कार्य स्वीकृत किये जावेगें। इस बैठक में गणमान्य नागरिकों द्वारा आवष्यक सुझाव भी रखे गए।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...