झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 24 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 26 अप्रैल 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 24 अप्रैल

लकडी चोरो ने वन विभाग के गश्ती दल पर किया हमलां 
तीन वन रक्षक घायल , रात मे जंगल से लकडीया कांट कर लेजा रहे थे चोर
पारा । बिति रात ग्राम धमोई के समीप चुडेली के जंगल से लकडीया चुराकर लेजा रहे चोरो ने वन विभाग के गस्ती दल पर प्राण घातक हमला कर दिया जिससे तीन वन रक्षक घायल होगए। जिन्हे ग्रामीणो ने बिच बचाव कर छुडवाया व पुलिस चोकि पारा पर घटना कि सुचना दी।  प्राप्त जानकारी अनुसार बिति रात वन विभाग का तीन सदस्य गश्ती दल  धुमसिंह डामोर वनपाल, दिलप चैहान वनरक्षक व दिलीप मावी वनरक्षक पिथनपुर के समीप ग्राम धमोई चुडेली के जंगल बिट नम्बर 331 में गश्ती कर रहा था । तभी अचानक गश्ती दल का जंगल से लकडीया काट कर लेजाते हुए 30 से 40 लोगो से सामना होगाया उन्होंने वन विभाग के अमले पर लाठी पत्थर व धारदार हथियार से हमला कर दिया व बुरी तरह पीटने लगे हंगामे कि आवाज सुनकर पिथनपुर के कुछ ग्राम वासियों वहां पहुंचे उन्होंने बीच-बचाव कर हमलावरो से वन रक्षको को छुडाया व पारा पुलिस चैकी को घटना कि सूचना दि । पारा पुलिस चोकी प्रभारी केशव पाडव तत्काल मोके पर पहुँचे व विभाग के घायल कर्मचारीयो को पारा ले कर आए जहां उनका उपचार सामुदायीक स्वास्थ्य केन्द्र पर किया गाया। देर रात वन विभाग के आला अधिकारी पियुष प्रसाद चोधरी सहीत वन विभाग के अन्य अधिकारी घटना कि जानकारी लेने पारा पहुचे व पुरी जानकारी लेकर पुलिस चोकि पर प्रकरण दर्ज करवाया। चैकी प्रभारी केशव पाडव ने बताया कि वन विभाग के कर्मचारी ने सुनिल, दिलीप कालु व कमला सहीत 25 से अधिक अन्य लोगो के विरुद्ध नाम जद रिर्पोट दर्ज करवाई हे। पुलिस  धारा 353,332,147,149,294 व 506 मे प्रकरण दर्ज कर मामले को विवेचना मे लेलीया हे। पुलिस मोके पर से 3 लोगो को गीरफतार किया हे जो कि मारपीट कर रहे थे। उनसे पुछताछ कि जा रही हे।  चोकि प्रभारी श्री पाडव ने यह भी बताया कि आज गुरुवार कि दोपहर को हमला करने वाले ग्रामीण जनो मे सेे पुलिस चैकि पर दुर्गा नामक युवती ने एक अवोदन दिया हे। जिसमे उसने वन रक्षको पर उसके साथ अभ्रदता करने का आरोप लगाया हे। युवती अपने आवेदन मे लिखा हे वन रक्षक ने उसका हाथ पकड कर मारा भी है जिससे ग्रामीणो ने वन रक्षको पर हमला किया हे। पुलिस ने युवती से उक्त आवेदन लेकर मामले को जांच मे लिया हे। लाठी से जंगल कि रक्षा कर रहे वन रक्षक -- देर रात ग्राम धमोई के जंगलो मे वन रक्षको पर हुए हमले के बाद इस प्रतिनिधि ने जब घायल वन रक्षक से बात कि तो पता चला कि वनरक्षको के पास अपनी अत्मरक्षा के लिए कोई भी हथियार नही हे ओर न ही सरकार ने इन वनरक्षको को किसी भी प्रकार का कोई आग्नेय अश्त्र दिया हे। ऐसे मे निहथ्थे वन रक्षक केवल लाठीयो के भरोसे दिन रात जगंल कि रक्षा कर रहे। भले ही इसमे उनकी जान ही क्यो न चली जाए। सरकार को चाहिए कि वनरक्षक को भी पुलिस तरह शस्त्रो से लेस किया जावे। ताकि आगामी दिनो मे किसी वनरक्षक के साथ काई दुर्घटना नही घटें। 
          
आंगनवाडी कार्यकर्ताओ शहिद कोरोना योद्धा को दि श्रद्धांजली 

पारा । भारतीय मजदुर संघ के बेनर तले ग्राम पारा के नयापुरा आंगनवाड़ी केंद्र पर बखतपुरा राती माली की सभी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सहायिका, मैंने आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, एएनएम आशा कार्यकर्ताओं ने एकत्रीत होकर कोरोना वायरस योद्धा टीम के कार्यकर्ताओं का सम्मान किया । तथा कोरोना वायरस नियंत्रण अभियान के अंतर्गत शहीद योद्धाओं की आत्मा की शांति के लिए 2 मिनट का मौन रख कर श्रद्धांजलि दी । इस अवसर पर भारतीय मजदूर संघ के जिला संयोजक गोपाल  शर्मा,आंगनवाड़ी कार्यकर्ता सहायिका संघ की प्रदेश सदस्य श्रीमती गंगा गोयल, जिला कार्यकारिणी सदस्य श्रीमती लीला शैतन, श्रीमती अफसाना बी, आदि मुख्य रूप से उपस्थित थे।

रिपब्लिक भारत के एडिटर इन चिफ अर्नब गोस्वामी पर हुए हमले की भाजपा ने निंदा कर सरकार से कठोरतम कार्यवाही की मांग की

झाबुआ । प्रजातंत्र के चैथे स्तंभ मीडिया पर कांग्रेस द्वारा  मुंबई में किये गये हमले को लेकर भारतीय जनता पार्टी से कठोरतम शब्दांे में कांग्रेस पार्टी के गुण्डा तत्वांें की निंदा करते हुए महाराष्ट्र सरकार सेे आपराधिक प्रकरण कायम कर कठोर दण्डात्मक कार्यवाही करने की मांग की है । रतलाम झाबुआ के सांसद गुमानसिंह डामोेेर अपने वक्तव्य में बताया कि बिती रात को रिपब्लिक भारत के एडिटर इन चिफ अर्नब गोस्वामी जब स्टूडियों से मध्यरात्री के बाद अपनी पत्नी के साथ घर लौट रहे थे, तब उनकी कार पर कांग्रेस पार्टी के इन गुण्डों द्वारा उनकी कार पर जानलेवा हमला किया गया । संयोग से कार का दरवाजा नही खुल पाया जिससे उन्हे शारीरिक चोंट नही पहूंच पाई । श्री डामोर  ने बताया कि रात के 10 बजे के शो के बाद की एडिट कॉल निपटा कर लौटते हुए अर्नब गोस्वामी और उनकी पत्नी पर कॉंग्रेस के दो मोटरसाइकिल सवार गुंडों ने हमला कर दिया। यह घटना 22 और 23 अप्रैल के बीच की रात्रि को हुई। बाइक सवार गुंडों ने रिपब्लिक टीवी एंकर अर्नब गोस्वामी की कार के आगे अपनी मोटरसाइकिल खड़ी कर दी और फिर हमला किया। इस घटना की कडे शब्दों में निंदा करते हुए श्री डामोर ने मीडिया के चैथे स्तंभ पर योजनाबद्ध तरिके से हमला करने वाले दोनों कांग्रेसी गुण्डों पर कठोरतम कार्रवाही की मांग करते हुए कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गांधी को आडे हाथ लिया । जिला भाजपा अध्यक्ष ओम प्रकाश शर्मा ने अर्नब गोस्वामी पर हुए हमले की निंदा करते हुए कहा है कि रिपब्लिक भारत न्यूज चैनल के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी और उनकी पत्नी सामिया पर बीती रात 2 अज्ञात लोगों ने हमला किया। इन बदमाशों ने अर्नब पर उस समय हमला किया जब देर रात करीब सवा 12 बजे वे दफ्तर से घर लौट रहे थे। उस समय अर्नब की पत्नी सामिया भी उनके साथ थीं। हालांकि हमले में अर्नब और उनकी पत्नी को कोई चोट नहीं आई है। इस तरह कांग्रेस पार्टी अब पूरी तरह बोखला कर इस प्रकार के निम्न स्तर के कृत्यों पर उतर आई है श्री शर्मा ने अर्नब ने हमले के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार ठहराया है। श्री शर्मा ने बताया कि  मुंबई के पालघर में 16 अप्रैल को हुई मॉब लिंचिंग की घटना पर डिबेट के दौरान अर्नब गोस्वामी ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी पर टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था कि सोनिया गांधी कई बातें करती हैं, लेकिन इस घटना पर वो चुप हैं और शायद अंदर ही अंदर खुश हैं। कांग्रेस के कई नेताओं ने इस टिप्पणी को लेकर अर्नब की जमकर आलोचना की और कई नेताओं ने उनके खिलाफ मामला तक दर्ज कराने की बात कही। श्री शर्मा ने अर्नब गोस्वामी पर हुए इस हमले के लिए सीधे तौर पर कांग्रेस और सोनिया गांधी को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने ये तक कहा कि सोनिया गांधी सवाल पूछने से इतना घबरा गई कि उन्होंने अपने गुंडे भेज दिए। भारतीय जनता पार्टी के जिले के पदाधिकारियो के अलावा पूर्व विधायक शांतिलाल बिलवाल, कलसिंह भाबर, सुश्री निर्मला भूरिया, प्रदेश कार्यसमिति के सदस्य दौेलत भावसार, नगर मंडल अध्यक्षबबलु सकलेचा, अंकुर पाठक, मनोज अरोडा आदि ने भी टीव्ही एंकर अर्नब गोस्वामी पर कांग्रेस द्वारा किये गये हमले की भत्र्सना करते हुए इसे कांग्रेस पार्टी की गुण्डागर्दी बताते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से कांग्रेस के गुण्डों पर प्रभावी कार्यवाही करने की मांग की है ।

अन्य राज्यों में फंसे हुए मजदुरों का उनके गांव पहुंचावे सरकार- कांतिलाल भूरिया
राज्यपाल के नाम ज्ञापन देकर की गई मांग, एक ही राज्य में दो तरह की व्यवस्था क्यों
झाबुआ । आज क्षेत्रिय विधायक कांतिलाल भूरिया के नेतृत्व में जिला कांग्रेस ने गुजरात ,महाराष्ट्र ,राजस्थान, सहित अन्य राज्यों के विभिन्न शहरों में फंस गये है म0प्र0 के मजुदरों को अपने घर पहुंचाने के लिए महामहिम राज्यपाल के नाम कलेक्टर प्रबंल सिपाहा को ज्ञापन सौपा ।ज्ञापन का वाचन करते हुए विधायक कांतिलाल भूरिया ने कहा कि  वर्तमान में कोरोना महामारी के कारण लाॅकडाउन आगामी 3 मई तक बढाया गया है। इस सबंध में आपकों अवगत कराना चाहूगा कि झाबुआ जिले सहित अलीराजपुर,धार,बडवानी एवं रतलाम जिले अनेक मजदुर लाॅकडाउन के कारण विगत 1 माह अधिक समय से गुजरात ,महाराष्ट्र ,राजस्थान, सहित अन्य राज्यों के विभिन्न शहरों में फंस गये है। ये मजदुर वहां पर दिहाडी मजदुरी करते थे तथा वर्तमान बेराजगार है। उक्त मजदुरों के परिवार एवं उनके द्वारा दूरभाष एवं विडियों बनाकर भेजकर अवगत कराया गया है कि उन्हे वहां खाना व राशन प्राप्त नहीं हो रहा है । बच्चों को लेकर भी वे वहां पर अत्यन्त परेशानी में अपना जीवन यापन कर रहे है उन्हे वहां न खाने को है न वहां उन्हे मूलभूत सुविधा प्राप्त हो रही है,न मेडिकल सुविधा प्राप्त हो रही है। वहां पर उनके भूखे मरने की नोबत आ रही है, ऐसे में उन्हे अपने निवास स्थान पर पहुंचाना अत्यन्त आवश्यक है। श्री भूरिया ने कहा कि म0प्र0 सहित राज्य सरकारों द्वारा अपने क्षेत्र के निवासीयों ,पढने वाले बच्चों  को उनके निवास पर पहुंचाने हेतु पहल की गईएवं उन्हे सकुशल अपने घर भी पहुंचाया गया है, वह स्वागत योग्य है,। श्री भूरिया ने शिवराज सरकार पर दौहरी नीति का आरोप लगाते हुए कहा कि मजदुरों को उनके निवास तक लाने हेतु  म0प्र0शासन द्वारा किसी प्रकार की पहल नहीं की जा रही है। एक ही राज्य में दो तरह की व्यवस्था हो रही है एक ओर जहां राजस्थान से बच्चों को शासन द्वारा पहल कर बच्चों को लाया जा रहा है वहीं गरीब ,आदिवासी मजदुरों कों अन्य राज्यों में उनके हाल पर छोड दिया गया है, जिससे वहां पर उनके परिवार एवं बच्चों को भूख मरी की हालत में छोड दिया गया है उन्हे वहां न भोजन प्राप्त हो रहा है ओर न मूलभूत सुविधा प्राप्त हो रही है। वर्तमान में उक्त मजदुरों के निवास पर भी केवल उनके बुजुर्ग परिवार के सदस्य ही निवास कर रहे है जो कि उनका बेसब्री से इन्तजार कर के उनकी चिन्ता में है। इसी प्रकार जिले की जनपद पंचायतों के माध्यम से पलायन कर गये मजदुरों की जानकारी प्राप्त कर उन्हे अपने गृह निवास तक पहुंचाया जा सकता है। ऐसी स्थिति में भूरिया ने राज्यपाल महोदय से अनुरोध किया है कि झाबुआ एवं अन्य जिलों के अजजा वर्ग के गरीब मजदुरों को को लाने के पूर्व उनकी सम्पूर्ण जांच भी कर ली जावे तथा यदि कोई संक्रमित पाया जाता है तो उन्हे अन्य शासकीय किसी नजदीकी स्थान पर क्वारेंटन किया जावे । साथ यह भी राज्यपाल से यह आग्रह किया गया है कि प्रदेश में दो तरह की वय्वस्था को समाप्त कर गरीब मजदुरों को उनके गृह निवास तक पहुंचाने हेतु आप निरंकुश एवं मानवता खो चुकी म0प्र0सरकार को निर्देशित करें कि वे उन गरीबों को अपने घर निवास तक पहुंचावे । इस अवसर पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता,युवक कांग्रेस अध्यक्ष डाॅ  विक्रान्त भूरिया, जिला कांग्रेस प्रवक्ता हर्ष भटट शहर कांग्रेस अध्यक्ष गौरव सक्सेना , कांग्रेस पदाधिकारी आशिष भूरिया ,सलेल पठान, जिला आईटीसेल अध्यक्ष हर्ष जैन ,विजय शाह नितेश डामोर सहित पदाधिकारी उपस्थित थे।

अवैध शराब  के संग्रहण एवं परिवहन के विरूद्ध आबकारी विभाग थांदला ने की कार्यवाही

थांदला । जिला कलेक्टर झाबुआ प्रबल सिपाहा के दिशा निर्देश और जिला आबकारी अधिकारी डॉ. शादाब अहमद सिद्दीकी के मार्गदर्शन में आज दिनांक 22.04. 2020 को आबकारी विभाग थांदला द्वारा गश्त के दौरान ग्राम छायन में मसूल ेध्व दल्लू मुनिया के रिहायशी मकान एवं किराना दुकान से ढाई पेटी अवैध विदेशी मदिरा बीयर एवं व्हिस्की मदिरा जब्त कर  म. प्र आबकारी अधिनियम 1915 कि धारा 34(1)क के तहत प्रकरण पंजीबद्ध किया गया, शराब की अनुमानित किमत लगभग 5000ध्- रूपये हैं। आबकारी उपनिरीक्षक सुश्री किरण निनामा ने बताया कि देशीध्विदेशी मदिरा दुकानो के आसपास गश्त एवं अवैध मदिरा विक्रय करने वालो पर कार्यवाही निरंतर जारी है कार्यवाही में मुख्य आरक्षक प्रकाश भाबोर एवं थॉमस गणावा का योगदान रहा।

पत्रकार मिलकर कर रहे जनसेवा - भोजन पैकेट में आज बनाई आदिवासी खास डिश

थांदला। आज जहाँ सकल विश्व कोविड - 19 से लड़ रहा है वही मध्यप्रदेश के झाबुआ जिले की थांदला तहसील के पत्रकार नगर व आसपास के गरीब लोगों को भोजन पैकेट पहुँचा रहे है। उनका कहना है इस समय अनेक परिवार  के पास काम नही है व आर्थिक तंगी के चलते भूखे न रहे इसलिए यह कार्य कर रहे है। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्रमोदी ने लॉक डाउन की घोषणा की तब से लेकर आज तक थांदला के पत्रकार निरन्तर सेवा कार्य मे लगे हुए है। नगर की समस्याओं के साथ शासन प्रशासन की गतिविधियों को प्रमुखता से प्रकाशित करते हुए पत्रकार नगर व आसपास के लोगो को भोजन पैकेट पहुँचाने का कार्य कर रहे है। नेचरल गोल्ड व अन्य जनप्रतिनिधियों के विशेष सहयोग से चलने वाले भोजन पैकेट वितरण से नगर में कोई भूखा नही रहेगा। नगर परिषद उपाध्यक्ष मनीष बघेल के भागीरथी प्रयासों से स्वल्पाहार के रूप में शुरू इस अभियान में आज उन्ही कि तरफ से आदिवासी खास डिश मक्का रोटी व बैंगन का भर्ता बनाया गया है।

देर रात आये मजदुर का पता नही - शासन प्रशासन अनभिज्ञ

jhabua news
थांदला। निकट ग्राम खवासा में देर रात आये मजदूर गए तो कहां गए .३..? यह विचारणीय प्रश्न है। प्रशासन के कहे अनुसार 7 बसों द्वारा पेटलावद कि ओर से थांदला क्षेत्र की ग्राम पंचायतों के बड़ी संख्या में मजदूर पहुंचे लेकिन सरपंच सचिव तक को उनके बारे में कुछ भी पता नही है। जबकि खवासा चैकी प्रभारी ने 7 बसों में कई मजदूरों को नामजद एंट्री करवाई व संबंधित पंचायत को भी अवगत करवाया बावजूद इसके सचिव व सरपंच कह रहे हैं कि हमें मजदूरों का अता पता ही नहीं तो यह ढिलाई कब तक काम करेगी समझ से परे है। एक तरफ जहां देश में कोरोना की कहर है तो वहीं कई मजदूर अधर स्टेट या जिले में फंसे हुए हैं इसको लाने के लिए प्रशासन हर संभव प्रयास कर रहा है लेकिन कहीं ना कहीं मजदूरों को आज भी भूख और प्यास से पीड़ित होकर अपने गांव की ओर रुख करने के लिए बहता सी हो रही है तो वहीं राज्य की सभी सीमाएं सील करके इन मजदूरों को एक राज्य से दूसरे राज्य व जिले में आने में काफी परेशानी हो रही है लेकिन फिर भी प्रशासन इनको लाने का प्रयास कर रहा है कई बार यह मजदूर भूखे पेट सोने को भी मजबूर हो रहे हैं तो वही इन मजदूरों को भी काफी परेशानी से गुजरना पड़ रहा है  कुछ ऐसा ही मामला थांदला पेटलावद विधानसभा के संबंधित ग्राम पंचायत में बाहरी मजदूरी करने के लिए गय मजदूरों को अदर जिले में फंसे लाने का प्रयास 7 बसों के माध्यम से किया गया इसमें पेटलावद की बामनिया पंचायत अमरगढ़ तो वहीं खवासा की बड़ी पंचायत के परवाड़ा कुकडीपाडा आदि पंचायतों में रात के समय में बसों के माध्यम से लाना का प्रयास सफल हुआ तो वहीं संबंधित चैकी प्रभारी ने भी पूरी जानकारी लेकर बसों को चेक करके संबंधित पंचायत सचिव को इस मामले में अवगत करवाया जब हमारी टीम को  यह खबर पता चला तो आज समाचार लिखे जाने तक संबंधित ग्राम पंचायत सचिव से जानकारी ली तो उनका का यह कहना है कि हमे नहीं पता कि आये मजदूए  कहां पर है और हम उन्हें  ढूंढने का प्रयास कर रहे हैं साथ ही आंगनवाड़ी कार्यकर्ता भी ढूंढने का प्रयास कर रहे हैं लेकिन अभी तक मिल नही पाए हैं ना ही उनकी स्क्रीनिंग हो पाई है और ना ही उनके रहने खाने की व्यवस्था हो पाई है इस मामले में कुछ जानकारी नहीं मिली अब वही जाने लेकिन कहीं ना कहीं व्यवस्था करेंगे तो क्या करेंगे एक तरफ देश में है मजदूरों को खाने पीने की व्यवस्था करने की जिम्मेदारी प्रशासन की रहती है अब देखना यह है कि ये मजदूर कब और किसके माध्यम से इनकी से इस्केनिग होती है  समाचार लिखने के बाद अभी तक इन मजदूरों की कोई भी सूची संबंधित ग्राम पंचायत को नहीं मिली थी तो परवाडा सचिव का कहना है कि हमारे पास सिर्फ मौखिक जानकारीचैकी प्रभारी के माध्यम से मिली है लेकिन जिनके नाम की लिस्ट में हैं उनको ढूंढने का प्रयास कर रहे हैं लेकिन अभी तक उनके आते ही हमें नहीं मिले हैं देखते है आगे क्या कार्यवाही करते है अधिकारी।

दाऊदी बोहरा समाज के रमजान शुरू  ,शेहरे रमजान मुबारक।

मेघनगर । गुरुवार 23,अप्रैल से दाऊदी बोहरा समाज के रमजान की शुरुआत हो गए है। कोरोना वायरस के संक्रमण काल में महामारी से संपूर्ण विश्व जूझ रहा है,कमोबेश विश्व का हर देश महामारी से छुटकारा पाने के लिए लॉक डाउन का पालन कर रहा है, भारत भी इससे अछूता नहीं है। दाऊदी बोहरा समाज भी अनुशासित तरीके से लॉक डाउन का पालन कर रहा है। समाज के 53 वे ’धर्मगुरू डाॅ.सैयदना आलीकदर मुफद्दल सैफुद्दीन साहब(त.उ.श.)’ के मार्गदर्शन में समाज ने संपूर्ण रूप से अपने आप को घरों में सीमित कर, इंटरनेट के माध्यम से जोङ लिया है, सारी धार्मिक व सामाजिक गतिविधियों का संचालन स्मार्ट फोन पर एप और प्रत्यक्ष जुङाव द्वारा हो रहा है। पांचों वक्त की नमाजो के अरकानो की पाबंदी का निर्धारित प्रारूप के अनुसार संचालन और दुआओं का ओनलाईन प्रस्तुतिकरण लॉक डाउन के प्रावधानों के सुचारू पालन में मदद कर रहा है। प्रति दिन रात को आॅनलाईन मजलिस में विश्व भर के बोहरा जाकेरीन उपलब्ध होते हैं। रमजान के पवित्र माह के महत्व के मद्देनजर सारी तैयारी पूर्ण कर ली गयी है। प्रत्येक बोहरा परिवार को रमजान के रोजे व अन्य जरूरत के मद्देनजर खाद्यान्न सामग्री,सेहरी, इफ्तारी का सामान घरों पर पहुंचा दिया गया है । लॉक डाउन के चलते मस्जिदों मे इकट्ठे होने का प्रावधान समाप्त कर हर बोहरा सदस्य अपने घर पर नमाज पढे और इमामत करें उसकी पूरी व्यवस्था की गयी है । सैमीनार के जरिए रमजान की पाबंदियों,रोजे की पाबंदी व दुआओं के पढ़ने का प्रशिक्षण सभी बोहरा भाईयों को दिया गया है। सैयदना साहब और उनके पूर्वज से प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के परंपरागत संबंध रहै हैं। 24 सितम्बर 2017 को प्रधानमंत्री श्री मोदी मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चैहान के साथ इंदौर के मोहर्रम की हजरत इमाम हुसैन की शहादत की मजलिस में शामिल हुए थे। पीएम केयर फांड मे सैयदना साहब की ओर से 53 करोड़ रुपये का योगदान दिया गया है। दाऊदी बोहरा समाज  जिसमें लगभग शत-प्रतिशत व्यापारी हैं, शत-प्रतिशत साक्षरता व संगठित अनुशासित प्रबंधन है । दाऊदी बोहरा समाज मिश्री कैलेन्डर का अनुसरण करते हैं। सामान्यतः शुक्ल पक्ष की एकम को बोहरा समाज के कैलेंडर की पहली तारीख होती  है,यानी अमावस्या के दुसरे दिन। इस अनुसार गुरुवार रमजान की पहली तारीख है,और  बोहरा समाज का पहला रोजा रखा गया। उक्त जानकारी दाऊदी बोहरा समाज मेघनगर के  अध्यक्ष वाली मुल्ला अली असगर जी ने दी है

गा्रमीण बैंक के अधिकारियों एवं कर्मचारियों ने गौषाला में गायों को दल एवं हरी सब्जियों खिलाई ।

jhabua news
झाबुआ । जीव सेवा  ही शिव सेवा है इस महामंत्र को  साकार करते हुए पूज्य आचार्य राष्ट्रसंत परमपूज्य लेखेन्द्रसूरिश्वरजी मसा. कोंकण केशरी शंखेश्वर तीर्थ प्रभावक एवं श्री पाश्र्वपद्मावती ट्रस्ट की प्रेरणा से स्थानीय मध्यप्रदेश गा्रमीण बेंक नगर शाखा झाबुआ के अधिकारियों एवं कर्मचारियों द्वारा स्थानीय श्री सदगुरू गौशाला झाबुआ में गोसेवा कार्य के तहत 40 किलो मिश्रित दाल के साथ ही करीब 2 क्विंटल हरी सब्जियां गायों को खीलाई गई । इस कार्य में ओम प्रकाश पाटीदार, यतिन्द्र नवलखा, अखिल त्रिवेदी, लीना परमार, दिनकर त्रिवेदी, एवं ममता गामड का सराहनीय सहयोग प्राप्त हुआ । बैंक अधिकारी ओम प्रकाश पाटीदार ने सेवा के इस प्रकल्प की कडी में बताया कि जीव सेवा कार्य के तहत गौशाला की सभी गायो के लिये  करीब 10 क्विंटल से अधिक सूखला घास का प्रदाय भी यथा शीघ्र किया जावेगा । गा्रमीण बैंक के अधिकारियो एवं कर्मचारियों द्वारा किये गये  इस गौ सेवा के कार्य की नगरवासियों एवं प्रबुद्धजनों द्वारा प्रसंशा करते हुए इसे अनुकरणीय उदाहरण बताया है ।

हे ईष्वर सुन लो इन नन्हें-मुन्हे बच्चों की पुकार .... देष को जल्दी से करो कोरोना मुक्त
  • झाबुआ के बालक-बालिकाओं ने ईष्वर से की आॅनलाईन प्रार्थना-वंदना, मुस्लिम बालिका अरूषा खान ने भी भाग लेकर सर्वधर्म सद्भाव एवं भाईचारे का दिया संदेष
  • श्री संकट हनुमान मंदिर सेवा समिति हनुमान टेकरी ने किया घर बैठे आॅनलाईन गायन प्रतियोगिता का आयोजन
jhabua news
झाबुआ। कोरोना वायरस (कोविड-19) से रोकथाम हेतु देष में लगे लाॅकडाउन के बीच झाबुआ शहर में भी संपूर्ण लाॅकडाउन लगा हुआ है। इस दौरान श्री संकट मोचन हनुमान मंदिर सेवा समिति हनुमान टेकरी झाबुआ की ओर से शहर के स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं (बालक-बालिकाओं) के लिए घर बैठे आॅनलाईन गायन प्रतियोगिता का 22 अप्रेल, बुधवार को आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में अधिकांषतः शहर के नन्हें-मुन्हें बालक-बालिकाओं ने सहभागिता कर कोरोना वायरस से देष को मुक्ति दिलाने के लिए ईष्वर से प्रार्थना एवं वंदना की। एक प्रतियोगी स्थानीय कैलाष मार्ग की मुस्लिम बालिका भी रहीं, जिसने भी ईष्वर से प्रार्थना कर देष को कोरोना से मुक्त करवाने के लिए वंदना की। हे ईष्वर .... सुन लो इन नन्हें-मुन्हे बच्चों की पुकार .... कोरोना से देष को जल्दी से दिलाओ निजात। जानकारी देते हुए समिति अध्यक्ष अरूण भावसार एवं वरिष्ठ सदस्य गजेन्द्रसिंह चंद्रावत ने बताया कि श्री संकट मोचन हनुमान मंदिर सेवा समिति द्वारा 22 अप्रेल, बुधवार को दोपहर 3 से रात्रि 9 बजे तक शहर में कक्षा प्रथम से लेकर 12वीं तक के विद्यार्थियों के लिए दो वर्गों जूनियर एवं सीनियर वर्ग में प्रतियोगिता का आयोजन किया गया था। जिसमें शहर के कुल 40 बालक-बालिकाओं ने, जिसमें अधिकांष छोटे बालक-बालिकाओं ने हिस्सा लेकर अपने घर पर बैठकर ही वीडियों बनाकर अपने अपना नाम, माता-पिता का नाम, पता, स्कूल, कक्षा, आयु आदि की जानकारी देने के बाद दोनो हाथ जोड़कर एवं अलग-अलग मु्रद्राआंे में ईष्वर से प्रार्थना करते हुए वीडियों बनाकर भेजे। जिसमें किसी बालक-बालिका ने हनुमान चालीसा का पाठ, किसी ने षिव स्तुति, किसी ने कृष्ण वंदना तो किसी ने ‘‘इतनी शक्ति हमे देना दाता ... मन का विष्वास कमजोर ना होना .... ’’ प्रस्तुत किया।

अरूषा खान ने गाया ‘‘हे मालिक तेरे बंदे हम’’
प्रतियोगिता में सकल हिन्दू समाज के बालक-बालिकाओं में जैन, वैष्णव समाज, आदिवासी समाज सहित हर समाज के बालक-बालिकाओं ने सहभागिता करने के साथ विषेष रूप से स्थानीय कैलाष मार्ग में रहने वाली एक 6 वर्ष की बालिका अरूषा पिता फिरोज जैन ने देष में कोरोना वायरस के संकट के बीच सर्वधर्म सद्भाव एवं एकता की मिषाल पेष करते हुए एक वीडिया भेजा। जिसमें उक्त नन्हीं एवं मासूम बालिका ने ‘‘सलाम वालिकुम’’ के साथ पहले देषवासियों को लाॅकडाउन के बीच कोरोना वायरस से बचने हेतु अपने घरों पर रहने की अपील करते हुए हाथों को लगातार साबुन से धोने एवं सेनेटाईजर का समय-समय पर उपयोग करने के बाद ‘‘हे मालिक तेरे बंदे हम’’ गीत प्रस्तुत किया, जिसकी काफी सराहना की गई।

निणार्यक समिति करेगी चयन
सभी प्रतियोगियों ने वीडियों समिति के महेन्द्रकुमार खुराना के मोबाईल नंबर 94259-93587, अरूण भावसार 78693-39800, सीमा चैहान 98270-12772, गजेन्द्रसिंह चंद्रावत 94240-64533, राकेष झरबड़े 94250-33788 मोबाईल नंबर पर व्हाट्स-एप पर भेजे। सभी प्रतियोगियों के भेजे गए वीडियों में से विजेताओं के लिए प्रतियोगियों का चयन निर्णायक समिति में महेन्द्रकुमार खुराना, श्रीमती आभा इंदरसिंह तोमर, नितेष तिवारी एवं श्रीमती पूजा मुकेष कोठारी द्वारा किया जाएगा।

सिसौदिया एकेडमी की ओर से प्रदान किए जाएंगे पुरस्कार
समिति की महिला सदस्य श्रीमती सीमा चैहान ने बताया कि प्रतियोगिता में दोनो वर्गों में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय रहने वाले विजेताओं के साथ सभी प्रतियोगियों को भी प्रोत्साहन पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। जिसके प्रायोजक सिसौदिया एकेडमी के जितेन्द्रसिंह सिसौदिया रहेंगे। सभी को पुरस्कार लाॅकडाउन समाप्ति के बाद हनुमान टेकरी पर प्रदान किए जाएंगे। प्रतियोगिता को सफल बनाने में श्री संकट मोचन हनुमान मंदिर सेवा समिति के समस्त पदाधिकारी-सदस्यों, महिला एवं युवा इकाई का सराहनीय सहयोग रहा।

हिन्दू-मुस्लिम एकता की मिसाल, फारूखभाई गौ-माताओं के लिए प्रतिदिन सब्जी की व्यवस्था कर रहे तो हिन्दूभाई गौ-माताओं को सब्जी खिलाने का करे रहे कार्य
  • ये है हमारा अखंड भारत .... अनेकता में एकता की मिसाल
  • सकल व्यापारी संघ द्वारा दानदाताओं के सहयोग से प्रतिदिन श्वान के लिए 50 किलो चावल की व्यवस्था
jhabua news
झाबुआ। भारत देष आज कोरोना वायरस जैसी महामारी का डटकर मुकाबला कर रहा है। भारत अनेकता में भी एकता का देष है। यह सर्व-धर्म सद्भाव का देष है। झाबुआ शहर भी सदैव सर्वधर्म सद्भाव, भाईचारे और एकता की मिसाल पेष करता आया है। यहां के लोग भी हमेषा शांति प्रिय माहौल में रहते आए है। जानकारी देते हुए सकल व्यापारी संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष कमलेष पटेल एवं सह-सचिव हरिष शाह लालाभाई ने बताया कि ताजा उदाहरण प्रस्तुत कर रहे है झाबुआ के थोक सब्जी व्यवसायी फारूख भाई, जो शहर में कोरोना वायरस से रोकथाम हेतु लगे संपूण लाॅकडाउन के बीच गौ-माताओं के लिए प्रतिदिन 5 हजार रू. की राषि की निःषुल्क ताजी हरी-भरी सब्जीयांें की व्यवस्था कर रहे है। जिसे शहर में 25 अलग-अलग पाईंट बनाकर वितरण का कार्य अर्थात यह आहार गौ-माताओं  को करवाने का कार्य शहर के हिन्दूभाई दुर्गेषसिंह पंवार, धर्मेन्द्र सोलंकी, वेदराज, गणेभाई, राहुल राठौर, बहादुर भाटी, सौरभ राठौर, अब्दुल रहीम अब्बू दादा, रविराजसिंह राठौर आदि द्वारा पूरी निष्ठा के साथ किया जा रहा है।    
श्वानों के लिए 50 किलो प्रतिदिन चावल की व्यवस्था
इसके साथ ही शहर में घूमने वाले श्वानों के लिए प्रतिदिन 50 किलो चावल की व्यवस्था दानदाताओं के सहयोग सकल व्यापारी संघ द्वारा की जा रहीं है। इसके अतिरिक्त पक्षियों को भी प्रतिदिन घरों की छतों और आंगनों में दाना-पानी देने की व्यवस्था लोग कर रहे है, यह शहर में आपाताकल और संकट की घड़ी के बीच भी मानव सेवा और जीव सेवा का जीता जागता उदाहरण है।

एक महीन से जारी है सेवा
सकल व्यापारी संघ अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर एवं सचिव पंकज जैन ‘मोगरा’ ने बताया कि शहर में गत 22 मार्च से लाॅकडाउन लगा हुआ है। आज एक महीना पूरा हो चुका है। इन 30 दिनों में सकल व्यापारी संघ ने सत्त मानव सेवा और जीव सेवा के जो कार्य किए है, वह वाकई में अद्भुत, अकल्पनीय, अविस्मरणीय और काफी बेमिसाल है। शहरभर में पिछले दिनों में 50 हजार से अधिक गरीबों और जरूरतमंदों को निःषुल्क भोजन के पैकेट वितरण के बाद पशु-पक्षियों की निःस्वार्थ सेवा का कार्य सत्त जारी रखा जा रहा है। शहर का जो भी गौ-भक्त गौ-माताओं को आहार करवाकर पुण्य लाभ अर्जन करना चाहता है, उनके लिए फारूखभाई सब्जी मंडी की तरफ से मात्र 2 रू. किलो में सब्जी उपलब्ध करवाई जाएगी। इसके लिए लोग उनके मोबाईल नंबर 94066-43105 पर संपर्क कर सब्जीयांें की व्यवस्था करवा सकते है।

झाबुआ जिले में लाॅकडाउन के बीच मानवता की अनूठी मिसाल, युवा आषीष सिंगार ने रक्तदान-महादान का दिया संदेष
10 माह के बच्चें को एनीमिया होने पर रक्त उपलब्ध करवाया

jhabua news
झाबुआ। कोरोना वायरस से रोकथाम हेतु झाबुआ जिले में लगे संपूर्ण लाॅकडाउन के बीच 22 अप्रेल, बुधवार को थांदला निवासी एक ग्रामीण के 10 माह के पुत्र को गंभीर एनीमिया होने पर जिला चिकित्सालय में भर्ती कर उपचार चल रहा था। बालक के स्वास्थ्य में सुधार हेतु उसे तत्काल रक्त चढ़ाने की आवष्यकता थी। इस बीच झाबुआ निवासी युवा आषीष सिंगार ने मानवता का परिचय देते हुए जिला चिकित्सालय पहुंचकर रक्तदान कर बच्चें के स्वास्थ्य सुधार में सहायक बने। जानकारी देते हुए जिला टीकाकरण अधिकारी डाॅ. राहुल गणावा ने बताया कि जिले के थांदला में रहने वाले झीतरभाई के 10 माह का पुत्र गंभीर एनीमिया से पीड़ित होकर उसका उपचार फिलहाल जिला चिकित्सालय में चल रहा है। बालक का चिकित्सक द्वारा उपचार के दौरान परिजनों को तत्काल उसे रक्त चढ़ाने के लिए ब्लड की व्यवस्था करने के लिए कहा गया। जिस पर परिजनों ने ब्लड बैंक में संपर्क करने पर वहां पदस्थ कर्मचारियों में श्रीमती डेल्फीया निनामा, रमेष सोलंकी, नटवरसिंह राठौर आदि ने कई दानदाताओं से मोबाईल पर संपर्क किया, लेकिन लाॅकडाउन के कारण कोई नहीं आ सके।

आषीष सिंगार ने रक्तदान किया, प्रषस्ति पत्र देकर किया सम्मानित
इस बीच स्थानीय चर्च काॅलोनी में रहने वाले युवा आशीष सिंगार, जो भी समय-समय पर ब्लड देते रहते है, उन्हें जब जानकारी मिली, तो तत्काल जिला चिकित्सालय पहुंचकर रक्तदान किया और बालक के स्वास्थ्य सुधार में सहायक बने। जिस पर कोरोना वाॅरियर्स स्टाॅफ ने उन्हें प्रषस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...