बेबी डॉल और चिट्टियां कलाइयां गाने वाली कनिका अस्पताल से घर गयी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 7 अप्रैल 2020

बेबी डॉल और चिट्टियां कलाइयां गाने वाली कनिका अस्पताल से घर गयी

कनिका मूल रूप से लखनऊ की रहने वाली हैं और 1997 में शादी करके लंदन गयी थीं। हालांकि, 2012 में उनका तलाक़ हो गया और वो मुंबई आ गयीं, जहां सिंगिंग में करियर आज़माने लगीं। कनिका ने बॉलीवुड में बेबी डॉल और चिट्टियां कलाइयां वे जैसे कई हिट गाने गये हैं....
kanika-kapoor-sent-home
लखनऊ,06 मार्च। कोरोना वायरस कोविड 19 पॉज़िटिव बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर को आख़िरकार अस्पताल से छुट्टी मिल गयी है। कनिका का छठा टेस्ट निगेटिव आने के बाद उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है। कोरोना वायरस से संक्रमण की पुष्टि होने के बाद से कनिका लगभग 20 दिनों से लखनऊ के संजय गांधी पीजीआई अस्पताल में भर्ती थीं। कनिका का यह लगातार दूसरा टेस्ट है, जो निगेटिव आया है, जिसके बाद ही उन्हें छुट्टी देने का फ़ैसला किया गया था। कोरोना वायरस संक्रमित बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर की छठी रिपोर्ट निगेटिव आई है। कनिका कपूर को पीजीआई से डिस्चार्ज कर दिया गया है। वह कोरोना वायरस से संक्रमित थीं और पीजीआई में उनका इलाज चल रहा था। घर में अभी 14 दिन तक क्वारंटाइन में रहेगी। चिकित्सकों ने उन्हें आराम करने की सलाह दी है। वह क्वारंटाइन में ही रहेंगी। हालांकि उनके आवास शालीमार गैलेंट अपार्टमेंट के लोगों ने उन्हें यहां रहने से मना कर दिया है। इस पर अब वह अपने किसी रिश्तेदार के घर गई हैं। संक्रमण फैलाने के आरोप में कनिका के खिलाफ पुलिस ने मुकदमा दर्ज किया था। अब कनिका की हालात में और सुधार होने पर पुलिस उनके बयान दर्ज करेगी। कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद 20 मार्च को लखनऊ के संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएशन इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस (पीजीएम) अस्पताल में भर्ती हुईं कनिका कपूर अब पूरी तरह से ठीक हो गई हैं। कनिका की लगातार दूसरी रिपोर्ट कोरोना निगेटिव आई है। इसके बाद उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है।  डॉक्टर्स की सलाह पर कनिका कपूर को अपने घर में 14 दिनों तक क्वारंटाइन में रहना पड़ेगा।  कनिका कपूर की लगातार चार रिपोर्ट्स कोरोना पॉजिटिव आई थीं। जिसके बाद उनके परिवारवाले काफी परेशान हो गए थे। डॉक्टर्स का कहना था कि कनिका एकदम ठीक हैं। उनमें कोरोना के कोई लक्षण नहीं हैं। पांचवीं के बाद कनिका कपूर की अब छठी रिपोर्ट भी निगेटिव आई है, इसलिए उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है। मशहूर गायिका कनिका कपूर की पांचवीं और छठी रिपोर्ट निगेटिव आई है अब उनको पीजीआई से डिस्चार्ज कर दिया गया है। वह लगातार 14 दिन अपने घर में क्वारंटाइन में रहेंगी। लखनऊ में अलग-अलग पार्टियों में उत्तर प्रदेश ही नहीं, देश के तमाम लोग शामिल हुए थे। उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह स्वास्थ्य मंत्री भी इसमें शामिल हुए थे और उन लोगों ने अपनी कोरोना वायरस जांच कराई थी। हालांकि, ज्यादातर लोगों की रिपोर्ट निगेटिव आई थी।  अस्पताल से छु्ट्टी मिलने के बाद कनिका की परेशानी और बढ़ने की संभावना है। कोरोनो वायरस से संक्रमित होने और शहर में खुद को आइसोलेट करने के अधिकारियों द्वारा दिए गए निर्देश के बावजूद शहर में विभिन्न सामाजिक कार्यक्रमों में भाग लेने को लेकर और लापरवाही बरतने के आरोप में कनिका के खिलाफ तीन प्राथमिकी दर्ज की गई हैं। उनके खिलाफ शहर के सरोजनी नगर पुलिस स्टेशन में भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की धारा 188, 269 और 270 के तहत मामला दर्ज किया गया है। यह प्राथमिकी लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) द्वारा दर्ज की गई शिकायत के आधार पर दर्ज की गई थी। वह देश की पहली बॉलीवुड सेलिब्रिटी हैं, जिन्हें यह घातक संक्रमण हुआ है।  पुलिस बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर का बयान दर्ज करने की तैयारी कर रही है। कनिका के खिलाफ दर्ज एफआइआर में सात साल से कम की सजा है। ऐसे में उन्हें फौरन गिरफ्तार नहीं किया जा सकता। डॉक्टरों ने कनिका को कुछ दिन आराम करने और उन्हें क्वारंटाइन रहने के लिए कहा है। बयान दर्ज करने के बाद पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी। लखनऊ के पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडे ने बताया कि 14 दिनों का क्‍वारंटाइन खत्म होने के बाद कनिका कपूर से लखनऊ पुलिस पूछताछ करेगी। उन्होंने बताया कि कनिका के खिलाफ लखनऊ के थाना सरोजिनी नगर में आईपीसी की धारा- 188, 269 और 270 के तहत एफआईआर दर्ज है। ऐसे में पुलिस की टीम उनसे पूछताछ करेगी। जानकारी के मुताबिक, लखनऊ के मुख्य चिकित्सा अधिकारी की शिकायत पर सरोजनी नगर थाने में कनिका पर आईपीसी की धारा 188, 269 और 270 के तहत केस दर्ज हुआ था। दो अन्य एफआईआर हजरतगंज और महानगर थाने में दर्ज की गई थी। इनमें कनिका पर सरकार के दिशानिर्देशों का उल्लंघन करने और जानबूझकर लोगों की जान खतरे में डालने का आरोप है। कनिका मूल रूप से लखनऊ की रहने वाली हैं और 1997 में शादी करके लंदन गयी थीं। हालांकि, 2012 में उनका तलाक़ हो गया और वो मुंबई आ गयीं, जहां सिंगिंग में करियर आज़माने लगीं। कनिका ने बॉलीवुड में बेबी डॉल और चिट्टियां कलाइयां वे जैसे कई हिट गाने गये हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...