लॉकडाउन के अलावा कोरोना को हराने की रणनीति पर मोदी रहे मौन : कांग्रेस - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 15 अप्रैल 2020

लॉकडाउन के अलावा कोरोना को हराने की रणनीति पर मोदी रहे मौन : कांग्रेस

modi-scilent-on-policy-congress
नयी दिल्ली 14 अप्रैल, कांग्रेस ने प्रधाममंत्री नरेंद्र मोदी कि लॉकडाउन बढ़ाने की घोषणा का समर्थन किया लेकिन कहा कि यह आश्चर्य की बात है कि गरीबों की समस्या को कम करने तथा कोरोना को हराने के लिए सरकार की अन्य रणनीति के बारे में कुछ नही कहा गया है। कांग्रेस प्रवक्ता मनीष तिवारी ने मंगलवार को यहां पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि इस महामारी के खिलाफ लड़ने के लिए लॉकडाउन बढ़ाना अनिवार्य है लेकिन महामारी से निपटने के लिए लॉक डाउन के अलावा और क्या कदम उठाये जा रहे है इसकी कोई जानकारी श्री मोदी ने नहीं दी। उन्होंने कहा कि जब प्रधानमंत्री राष्ट्र को सम्बोधित करते है तो अपेक्षा रहती है कि देश को यह भी बताया जाना चाहिए कि सरकार देशवासियों के लिए क्या कर रही है लेकिन श्री मोदी ने इस पर चुप्पी साधी है। प्रवक्ता ने कहा कि 21 दिन के लॉकडाउन की सबसे भयानक तस्वीर उन लाखों लोगो की थी जो अपने घर जाने के लिए पैदल चल पड़े थे। उनमें बड़ी तादाद में इन लोगो को प्रदेशों की सरहदों पर रोका गया और लोगो को क्वारंटीन किया गया और कैंपों में रखा गया। इनमें से जिन लोगों के 14 दिन पूरे हो गए है उन सबको उनके घर भेजने की क्या व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि इस महामारी के खिलाफ कोई दवाई नहीं है और एकमात्र सामाजिक दूरी बचाव का तरीका है। इसमें टेस्टिंग बहुत जरुरी है इसलिए सरकार को बताना चाहिए कि पिछले 21 दिन में टेस्टिंग क्षमता कितनी बढ़ायी गयी है और आगे टेस्टिंग को लेकर उसकी क्या रणनीति है।

कोई टिप्पणी नहीं: