बिहार में मौलवियों ने लॉक डाउन की धज्जियाँ उड़ाते हुए पढ़ा सामूहिक नमाज। - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 4 अप्रैल 2020

बिहार में मौलवियों ने लॉक डाउन की धज्जियाँ उड़ाते हुए पढ़ा सामूहिक नमाज।

namaz-not-maintain-lock-downअरुण शाण्डिल्य (बेगूसराय) कोरोना के खिलाफ जंग के लिए देशभर में लागू लोक डाउन का बिहार में पृरी तरह पालन नहीं हो रहा है और प्रशासन महज खानापूरी तक सीमित है। लॉकडाउन में सामूहिक पूजा और नमाज पर रोक है, लेकिन शुक्रवार को भभुआ, सिवान और मधुबनी में इसका खुलेआम उल्लंघन हुआ।वहींभभुआ में तो मस्जिद में जुटकर सामूहिक नमाज से मना करने पर दो पक्षों में मारपीट हुई और पथराव हुआ।मधुबनी के एक गांव में मस्जिद में पुरुष नमाज पढ़ रहे थे और महिलाएं बाहर लाठी लेकर खड़ी थीं। 

भभुआ में तो हंगामा ही खड़ा हो गया नमाज पढ़ने को लेकर
भभुआ जिले के मोहनियां थाना क्षेत्र के अहिनौरा गांव में स्थित मस्जिद में दोपहर में लोग सामूहिक नमाज पढऩे पहुंचे। कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए शारीरिक दूरी का पालन नहीं हो रहा था। स्थानीय कुछ लोगों ने विरोध किया। खबर पाकर थानाध्यक्ष उदय भानु सिंह ने पहुंचकर मस्जिद में सामूहिक रूप से नमाज नहीं पढऩे की हिदायत देकर घर भेजा।इसके बाद सभी लोग घर चले गए। पुन: शाम को बड़ी संख्या में लोग मस्जिद में नमाज पढऩे पहुंच गए। इसपर गांव के कई लोगों ने विरोध किया।और  हंगामा शुरू हुआ तो दोनों पक्षों न में पथराव होना शुरु हो गया।डीएसपी मोहनियां रघुनाथ सिंह के अनुसार पथराव करने वाले दोनों पक्षों के लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर कड़ी कार्रवाई करने की बात कही गई।

सीवान में इमाम के खिलाफ थाने में प्राथमिकी दर्ज।
सिवान के महाराजगंज के सिकटिया पंचायत के खानपुरा गांव की मस्जिद में शुक्रवार की दोपहर एक बजे लगभग 50 की संख्या में लोगों ने एकत्रित होकर जुम्मे की नमाज पढ़ने की एय्यारी में थे।मामले की जानकारी होते ही मजिस्ट्रेट मनीष कुमार ने आवेदन देकर इमाम के खिलाफ थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई।मनीष कुमार ने कहा कि वहां जाकर देखा तो मस्जिद में 40-50 की संख्या में लोग एक साथ नमाज अदा करने की तैयारी कर रहे थे।

मधुबनी में तो महिलाओं ने लाठी लेकर दिया पहरा।
मधुबनी के हरना गांव में सामूहिक रूप से नमाज पढ़ी गई। ग्रामीणों ने बताया कि रात में जिन 11 जमातियों को क्वारंटाइन में भेजा गया था वह भी नमाज में शरीक होने के लिए पहुंच गए थे।इस नमाज के दौरान पुरुष मस्जिद के अंदर नमाज पढ़ने में लगे थे थे,और महिलाएं लाठी एवं मिर्च पाउडर लेकर बाहर में खड़ी होकर पहरा दे रही थी।पुलिस प्रशासन बेखबर रहा। थानाध्यक्ष ने इस तरह की सूचना से साफ इन्कार किया। डीएसपी अमित शरण ने भी किसी तरह की कार्रवाई से इन्कार कर दिया।कहा कि लोगों को समझाने की कोशिश जारी है।वहीं सीओ विष्णुदेव सिंह ने कहा कि सूचना मिली है,मौलवीयों से पूछताछ करेंगे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...