डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ के लिए होटलों में रहने की व्यवस्था, प्रशासन ने की पूरी तैयारी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 5 अप्रैल 2020

डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ के लिए होटलों में रहने की व्यवस्था, प्रशासन ने की पूरी तैयारी

जिला प्रशासन ने कोरोना वायरस संक्रमण से रोकने के लिए इलाज करने वाले डाक्टरों और नर्सिंग स्टाफों के लिए विशेष व्यवस्था की हैं. उनके लिए जिला प्रशासन ने होटलों और गेस्ट हाउस की व्यवस्था की है, क्योंकि कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज के समय डाक्टर या नर्सिंग स्टाफ घर नहीं जा सकते हैं. डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ के लिए होटलों में रहने की व्यवस्था, प्रशासन ने की पूरी तैयारी जिला प्रशासन ने कोरोना वायरस संक्रमण से रोकने के लिए इलाज करने वाले डाक्टरों और नर्सिंग स्टाफों के लिए विशेष व्यवस्था की हैं. उनके लिए जिला प्रशासन ने होटलों और गेस्ट हाउस की व्यवस्था की है, क्योंकि कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज के समय डाक्टर या नर्सिंग स्टाफ घर नहीं जा सकते हैं.

prepration-corona-jamshedpur
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता)  कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए जिला प्रशासन ने व्यापक तैयारियां की है. जहां शहर के अलग-अलग अस्पतालों मे आईसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं. वहीं कोरोना संक्रमण के संदिग्धों के लिए दो हजार से ज्यादा बेड जिले में अलग अलग जगहों में क्वारेंटाइन सेंटर बनाए गए हैं. जिला प्रशासन ने कोरोना वायरस संक्रमण रोकने के लिए इलाज करने वाले डाक्टरों और नर्सिंग स्टाफों के लिए विशेष व्यवस्था की हैं. उनके लिए जिला प्रशासन ने होटलों और गेस्ट हाउस की व्यवस्था की है, क्योंकि कोरोना संक्रमित मरीजों के इलाज के समय डाक्टर या नर्सिंग स्टाफ घर नही जा सकते हैं. कदमा स्थित टाटा का प्रोफेशनल फ्लैट, डीलर्स होस्टल (टाटा मोटर्स), कुलदीप होटल(जूगसलाई), होटल महल इन (मानगो), सुमन होटल (डिमना रोड, मानगो), होटल अंबर (साकची), गुजराती सनातन समाज (बिष्टूपूर), ऋषि भवन (जुगसलाई), खालसा क्लब (बिस्टुपुर), महेश्वरी मंडल (जुगसलाई) और श्री राजस्थान शिव मंदिर परिसर (जुगसलाई )

कोई टिप्पणी नहीं: