कोरोना की चेन तभी टूटेगी जब स्क्रीनिंग में कोई घर नहीं छूटेगा : नीतीश - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 17 अप्रैल 2020

कोरोना की चेन तभी टूटेगी जब स्क्रीनिंग में कोई घर नहीं छूटेगा : नीतीश

screening-will-break-chain
पटना,16 अप्रैल। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि जो लोग बिहार से बाहर या देश से बाहर की यात्रा करके आए हैैं, वे अपनी ट्रैवल हिस्ट्री न छिपाएं। इससे उन्हें तो खतरा है ही, साथ में उनके संपर्क में आने वाले लोगों को भी खतरा है। मुख्यंमंत्री नीतीश कुमार ने कहा, कोरोना संक्रमण की चेन तभी टूटेगी जब प्रभावित जिले की स्क्रीनिंग में कोई घर नहीं छूटेगा। लॉकडाउन के दौरान 20 अप्रैल के बाद जिन रियायतों के तहत विभिन्न क्षेत्रों में काम आरंभ होना है उनकी समीक्षा के क्रम में मुख्यमंत्री ने ये बातें कहीं। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण से निपटने को किए जा रहे कार्यों में डॉक्टर, हेल्थ वर्कर, प्रशासन, पुलिस, सफाईकर्मी तथा फ्रंटलाइन वर्कर की महत्वपूर्ण भूमिका है।मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने गुरुवार को यह निर्देश दिया कि रोजगार सृजन के क्रम में गाइडलाइन के अनुरूप स्थानीय मजदूरों की सेवा ली जाए। प्रधान सचिव व सचिव खुद इसकी मॉनीटङ्क्षरग करें और इंजीनियर व श्रमिकों को प्रेरित भी करते रहें। सात निश्चय के कार्यक्रम हर घर नल का जल, पक्की गली-नाली तथा शौचालय निर्माण आदि, जल-जीवन-हरियाली व मनरेगा के तहत होने वाले काम को तेजी से आरंभ कराएं। उन्होंने वित्त विभाग के प्रधान सचिव को यह निर्देश दिया कि संबंधित योजनाओं के लिए राशि की कमी नहीं होने दी जाए।

आज से बिहार में डोर टू डोर स्क्रींनिग कार्यक्रम शुरू हो गया है। प्रथम फेज में सीवान, नालंदा, बेगूसराय और नवादा में किया जाएगा। बिहार में नावेल कोरोना पाॅजिटिव की संख्या 80 तक पहुंच गयी है। 37 ठीक हो गये हैं। केवल 1 व्यक्ति की मौत हो गयी है।तक बिहार में कुल 11 जिले में कोरोना वायरस का कदम पड़ा था। आज 2 नये जिले में भी प्रसार कर गया है। इस तरह अब कुल 13 जिले में घुस गया है। 13 जिले में 4 जिले हाॅटस्पाॅट जिले के रूप में चिन्हित किया गया हैं। यह है सीवान,  बेगूसराय,मुंगेर और गया। अब 9 जिले नाॅन हाॅटस्पाॅट जिले हैं। वहीं नाॅन हाॅटस्पाॅट जिले है गोपालगंज, नवादा, भागलपुर, सारण, लखीसराय, नालंदा और पटना, बक्सर और वैशाली है। बिहार के 25 कोरोना फ्री जिले है पश्चिम चंपारण,पूवीं चंपारण,सीतामढ़ी, शिवहर, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, दरभंगा, मधुबनी,सहरसा, सुपौल, मधेपुरा, खगड़िया, अररिया, किशनगंज, कटिहार, पूर्णिया, बांका, जमुई, शेखपुरा, अरवल, जहानाबाद, औरंगाबाद, रोहतास, कैमूर और आरा। अब तक सीवान में सबसे अधिक 29 मामले, बेगुसराय में 08, मुंगेर में 14 , गया में 05, पटना में 05, गोपालगंज में 03, नालंदा 06,नवादा में 03 , सारण 01, लखीसराय में 01 भागलपुर में 01,वैशाली में 01 भागलपुर 01 और बक्सर में 2 मामला सामने आया है।  गौरतलब है कि ओमान से लौटे सीवान निवासी एक मरीज के संपर्क में बीते दिनों आने से अब तक 24 लोगों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। इस बीच पटना के जिला पदाधिकारी कुमार रवि ने कहा कि महताब आलम, बिहारशरीफ,जिला-नालंदा कोरोना वायरस से संक्रमित पाये गये हैं। महताब आलम दिनांक 22.03.2020 को विमान संख्या-6 इ-738 द्वारा दिल्ली से पटना तक यात्रा किये,जिसमें उनका सीट नम्बर- 20 डी था। उक्त विमान के अन्य यात्रियों से सम्पक करने में अबतक कुल 69 यात्री पाये गये हैं, जो वर्तमान समय में बिहार राज्य के अन्दर विभिन्न जिलों में आवासित है। इस पत्र के साथ संबंधित सभी 69 यात्रियों की सूची प्रेषित है। जिला पदाधिकारी कुमार रवि ने 19 जिले के पदाधिकारी को पत्र लिखा है। भागलपुर के 11, समस्तीपुर के 03, मुजफ्फरपुर के 07, नवादा के 01,सीवान के 03, सुपौल के 01, मोतिहारी के 15, भोजपुर के 04,सीतामढ़ी के 06, बेगुसराय के 03, सहरसा के 04, दरभंगा के 03, गया के 01,नालंदा के 01,रोहतास के 01,औरंगाबाद के 01, छपरा के 02,बांका के 01 और पश्चिमी चम्पारण के 01 सहयात्री थे। 

कोई टिप्पणी नहीं: