विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 14 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 14 अप्रैल 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 14 अप्रैल

लॉकडाउन अवधि में मजदूरो को वापिस जाने की अनुमति नही
कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने बताया कि लॉक डाउन अवधि तीन मई तक के लिए बढ़ाई गई है अतः विदिशा जिले में अन्य जिलो के काफी मजदूर कटाई कार्यो के लिए आए हुए है। अतः विदित हो कि लॉकडाउन अवधि में अन्यत्र जिलो से आए मजदूरो को वापिस जाने की अनुमति नही रहेगी।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने अन्यत्र जिलो से आए मजदूरो को राहत शिविरों में ठहराने तथा भोजन सहित अन्य प्रबंध सुनिश्चित कराने के निर्देश संबंधितों को दिए है। उन्होंने राजस्व अधिकारियों सहित अन्य को स्पष्ट निर्देश दिए है कि लॉकडाउन में अब तक किसी भी मजदूर को उनके वापिस जाने की परमिशन नही दी गई है अतः यथावत बनाए रखें। जो मजदूर विदिशा जिले में रूके हुए है उन्हें अच्छे से रहने एवं खाने के प्रबंध सुनिश्चित कराए जाएं।

आमजनों से आरोग्य सेतु ऐप उपयोग  की अपील
भारत सरकार द्वारा कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए आरोग्य सेतुनाम का एक स्मार्टफोन ऐप लॉन्च किया गया है, जो कोरोना वायरस (कोविड-19) संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने पर उपयोग कर्ता को सतर्क करता हैं। आरोग्य सेतु ऐप ऐंड्रॉयड स्मार्टफोन्स और आईफोन दोनों के लिए उपलब्ध है। यह ऐप ब्लूटूथ, लोकेशन और मोबाइल नंबर की मदद से चेक करता है कि आप किसी ऐसे व्यक्ति के संपर्क में तो नहीं आए, जिसमें कोरोना संक्रमण मिला हो। ऐप में और भी महत्वपूर्ण जानकारी जैसे कोविड-19 हेल्प सेंटर्स और सेल्फ असेसमेंट टेस्ट शामिल हैं, जिससे आप चेक कर सकते हैं कि आप पर इस संक्रमण का खतरा तो नहीं है।
उपार्जन के प्रयोजन सम्बन्धी गतिविधियों के पास जारी करेंगे कलेक्टर कमिश्नर ने दिए निर्देश
कमिश्नर श्रीमती कल्पना श्रीवास्तव ने सम्भाग के सभी कलेक्टर को निर्देश दिए है कि वे अपने जिलों में उपार्जन एवं संबद्ध गतिविधियों हेतु किसी अन्य जिले से श्रमिकों को लाने की आवश्यकता होने पर मूवमेंट पास  जारी करेंगे। उल्लेखनीय है कि श्री एसएन मिश्रा, प्रमुख सचिव ,गृह विभाग द्वारा आज जारी आदेश में सभी कलेक्टर्स को उनके जिले में उपार्जन एवं संबद्ध गतिविधियों हेतु अन्य जिलों से श्रमिक को लाने की आवश्यकता होने पर आवश्यक मूवमेंट पास जारी करने के लिए अधिकृत किया गया है। शासन ने पूर्व में समर्थन मूल्य पर खाद्यान्न उपार्जन की गतिविधियों को कोविड 19 के लॉक डाउन से छूट प्रदान की है। सभी कलेक्टर्स को यह निर्देश दिए गए हैं कि अन्य जिलों से श्रमिक मूवमेंट की स्थिति में सोशल डिस्टेंसिंग के मापदंडों का पालन ,सैनिटाइजेशन और मास्क की व्यवस्था सुनिश्चित करें।
एस एम एस मिलने पर ही किसानों से खरीदी केंद्र पहुंचने की अपील
रबी उपार्जन के तहत गेहूँ ,चना, मसूर एवं सरसों की खरीदी का कार्य 15 अप्रैल से 30 मई तक किया जायेगा। कलेक्टर डॉॅ पंकज जैन ने बताया है कि जिले में 15 अपै्रल से समर्थन मूल्य पर खरीदी कार्य शुरू हो जाएगा। उक्त कार्य हेतु 199 उपार्जन केन्द्रो पर सम्पादित किया जाएगा। प्रत्येक दिन अधिकतम छह किसानो को एसएमएस एनआईसी भोपाल के माध्यम से प्रेषित किए जाएंगे।  कलेक्टर डॉ जैन ने किसानो से अपील की है कि एसएमएस प्राप्ति के उपरांत उल्लेखित तिथि को ही उपार्जन केन्द्र पर पर फसल लेकर आए। ताकि नियमानुसार तुलाई कार्य उपार्जन केन्द्रों पर सम्पादित हो सकें। उन्होंने बिना एसएमएस सूचना के फसल विक्रय हेतु किसानबंधु उपार्जन केन्द्रों पर नही आए।  कलेक्टर डॉ जैन ने उपार्जन केन्द्रों पर सोशल डिस्टेन्स का अक्षरशः पालन कराया जाना सुनिश्चित हो। बिना एसएमएस प्राप्ति के केन्द्रों पर तुलाई संबंधी कार्य नही किया जाएगा।  खरीदी के लिये जिले में तैयारियां लगभग पूरी कर ली गयीं हैं। नोवेल कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए किसानों, अधिकारियों और कर्मचारियों से रबी उपार्जन के कार्य के दौरान पूर्ण सावधानी बरतने के लिये कहा गया है । कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने उपार्जन कार्यो को सम्पादित करने हेतु जिन विभागों के अधिकारियों को दायित्व सौपें गए है उन सभी को निर्देशित किया है कि सभी उपार्जन केन्द्रो पर हाथ धोने की व्यवस्था, सैनिटाइजर, सोशल डिस्टेंसिंग व केंद्रों पर आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग की दुरुस्त व्यवस्था बनाई जा रही है।
विदिशा शहर में 1739 घरों में होम डिलीवरी की
कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा लॉक डाउन अवधि में उपभोक्ताओं के घर तक राशन पहुंचाने की सहूलियत का अनुविभागीय अधिकारी के द्वारा क्रियान्वयन किया गया है।  विदिशा अनुविभागीय राजस्व अधिकारी श्री संजय कुमार जैन ने बताया कि विदिशा शहर के 2790 आर्डर बुक हुए थे जिसमें से सभी 1739 घरो में राशन सामग्री पहुंचाई गई है। ज्ञातव्य हो कि राशन दुकानो के काउंटरो से प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष रूप से सामग्री प्रदाय नही की जा रही है।
21886 छात्र-छात्राओं को  बांटा गया मध्यान्ह भोजन का खाद्यान्न
जनपद शिक्षा केन्द्र विदिशा की तीन सौ प्राथमिक एवं 122 माध्यमिक शालाओं में मार्च माह के 11 दिवस व अपै्रल माह के 22 दिवस कुल 33 दिवस का खाद्यान्न (गेंहू, चावल) का वितरण शाला स्तर पर शिक्षकों, स्वसहायता समूह तथा शाला प्रबंधन समिति के सहयोग से वितरित किया जा चुका है। कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन होने के कारण मार्च एवं अपै्रल माह में स्कूल अवकाश घोषित हो जाने के कारण मध्यान्ह भोजन परिषद भोपाल एवं श्री मयंक अग्रवाल मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत विदिशा के मार्गदर्शन में जनपद शिक्षा केन्द्र विदिशा की तीन सौ प्राथमिक शालाओं में 12621 विद्यार्थियों को दोनो माह के 33 दिवस का खाद्यान्न 416.5 कि्ंवटल जिसमें 340.7 कि्ंवटल गेंहू तथा 75.8 कि्ंवटल चावल प्रदान किया गया। इसी प्रकार कुल 122 माध्यमिक शालाओं में अध्ययनरत 9265 विद्यार्थियों को कुल 458.6 कि्ंवटल खाद्यान्न जिसमें 375.2 कि्ंवटल गेंहू तथा 83.4 कि्ंवटल चावल प्रदाय किया गया। मध्यान्ह भोजन पकाने की राशि भी विद्यार्थियों के खाते में एक अपै्रल को वन क्लिक के माध्यम से प्रदेश के मुख्यमंत्री जी द्वारा जारी की जा चुकी है। विद्यार्थियों के खातो में राशि पहुंचने की जानकारी जनशिक्षकों के माध्यम से संबंधित शाला शिक्षक के द्वारा संकलित कराई जा रही है। यदि किसी विद्यार्थी का खाता त्रुटिपूर्ण है तो उसमें राशि जारी नहीं हो सकी है। इस प्रकार के विद्यार्थियों के सही खाता नम्बर लेकर मांग जिला पंचायत विदिशा में प्रस्तुत कर राशि जारी कराई जायेगी। छात्र-छात्राओं को खाद्यान्न वितरण एवं राशि की जांच एवं निगरानी श्रीमती कीर्ति चौहान टास्क मैनेजर मध्यान्ह भोजन जिला पंचायत विदिशा द्वारा भी प्रतिदिन की जाती रही। जनपद शिक्षा केन्द्र विदिशा के बीएसी, जन शिक्षकों के साथ ही बीआरसी श्री लक्ष्मण सिंह यादव द्वारा भी प्रतिदिन इस कार्य की समीक्षा की गई जिसके परिणामस्वरूप समयावधि में खाद्यान्न का वितरण सम्पन्न हो सका।
दानदाताओं से 4278327 की राशि संग्रहित हुई
कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने हेतु हर स्तर पर जनजागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन विदिशा जिले में किया गया है। कलेक्टर की अपील पर जिले के दानदाताओं के द्वारा स्वेच्छा से खाद्य सामग्री, भोजन पैकेट के अलावा नगद राशि प्रधानमंत्री तथा मुख्यमंत्री के राहत कोषो में जमा कराई है।  कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा दानदाताओं से प्राप्त होने वाली सामग्री एवं राशि की समुचित जानकारियां संकलित कर रिकार्ड संधारण करने हेतु कॉ-आपरेटिव बैंक के सीईओ श्री विनय प्रकाश सिंह को नोडल अधिकारी नियुक्त किया है जिले में अब तक विभिन्न राहत कोषो में जिले के दानदाताओं द्वारा 42 लाख 78 हजार 327 रूपए की राशि जमा कराई गई है।  जिला कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार सीएम रिलिफ फंड में 13 लाख 85 हजार 164 रूपए, पीएम केयर्स में दो लाख 27 हजार एक सौ रूपए, प्रधानमंत्री रिलिफ फंड में एक लाख दो हजार, रेडक्रास में 32 हजार रूपए तथा रोगी कल्याण समिति में एक लाख 88 हजार रूपए दानदाताओं द्वारा जमा किए गए है जबकि 577 सरपंचो के द्वारा एक दिन का वेतन की कुल राशि दस लाख नौ हजार 750 रूपए तथा 577 पंचायत सचिवों के द्वारा तीन दिन की वेतन राशि कुल 13 लाख 34 हजार 313 रूपए राहत कोष में जमा की है।
सफलता की कहानी :कोरोना वायरस संक्रमण के प्रभाव को रोकने में सरपंच व सचिव की अनोखी पहल
vidisha news
विदिशा जिले की सिरोंज जनपद पंचायत की ग्राम पंचायत बडौदाताल में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने हेतु स्थानीय सरपंच श्रीमती रचना तिवारी और सचिव श्री महेन्द्र शर्मा के द्वारा अपनी सूझबूझ एवं सजगता से किए गए प्रयासों की चहुंओर प्रशंसा हो रही है। सिरोंज जनपद पंचायत मुख्यालय से लगभग 35 किलोमीटर दूर करीला जानकी माता मंदिर मार्ग पर स्थित उक्त ग्राम पंचायत 15 वार्डा में विभाजित है। ग्राम पंचायत की आबादी 1750 है जिसमें सभी समुदाय के लोग प्रेम व भाईचारे से निवास कर रहे है। ग्राम पंचायत बडौदाताल के लोगो का जीवनयापन कृषि एवं मेला में दुकानो पर आधारित व्यवसाय से होती है।  
स्वंयसेवियों की नियुक्ति ग्राम में ऐसे शिक्षित युवा जो सामाजिक कार्य में हमेशा तत्पर रहते है और जो किसी पार्टी से संबंध नही रखते है ग्राम पंचायत ने ऐसे पांच सेवियों की नियुक्ति जो ग्राम पंचायत अंतर्गत नोबल कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण को फैलने से रोकने के उपायों का ग्राम के डोर-टू-डोर प्रचार-प्रसार करने हेतु पाबंद हुए। 
प्रचार प्रसार ग्राम पंचायत में कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए प्रत्येक ग्राम में व्यापक रूप से पम्पलेट, बैनर, पोस्टर, दीवार लेखन, मुनादी, लाउड स्पीकर से एनाउसमेंट आदि के द्वारा नोबल कोरोना वायरस कैसे फैलता है एवं इसकी रोकथाम कैसे की जाए। इससे कैसे बचाव किया जाए आदि की जानकारियां स्थानीय बोली में ग्रामीणजनों को दी जा रही है। 
साफ सफाई ग्राम पंचायत के अंतर्गत ग्राम के विभिन्न मोहल्ला वार्डो में ग्राम पंचायत द्वारा निरंतर साफ सफाई व्यवस्था सुनिश्चित की गई एवं कचरे आदि के ढेर को ग्राम की मुख्य गलियों, सड़कों से तुरंत हटवाया गया एवं सभी को सजग किया गया है ताकि वे अपने आस-पास व्यापक रूप से साफ सफाई बनाए रखें और स्वच्छता पर पूरा ध्यान दें। 
मास्क एवं सेनेटाइजर नोबल कोरोना वायरस (कोविड-19) के संक्रमण को रोकने के लिए ग्राम पंचायत के लोगो को ग्राम पंचायत की सरपंच व सचिव की पहल पर मास्क वितरण किए गए तथा उनके उपयोग की विधि समझाई गई साथ ही एल्कोहलयुक्त सेनेटाइजर, हेण्डवॉश वितरित किए गए है। जिसका उपयोग स्थानीय ग्रामवासी कर स्वच्छता के संदेश के सहभागी बने है।
खाद्यान्न भोजन वितरण शासन के निर्देशानुसार ग्राम पंचायत में प्रवासी 251 मजदूरो को भोजन व्यवस्था एवं निराश्रित परिवारो को खाद्यान्न (गेंहू एवं चावल) का वितरण सोशल डिस्टेन्स का पालन करते हुए ग्राम पंचायत द्वारा समय-समय पर किया गया है। 
सेनेटाइजर एवं कीटनाशक का छिड़कावकोरोना वायरस के संक्रमण को कम करने हेतु ग्राम में हर स्तर पर प्रयास किए गए है। सरपंच की पहल पर ग्राम पंचायत के विभिन्न मोहल्ला वार्डो एवं गलियो में सेनेटाइजर एवं कीटनाशक का प्रथम चरण का छिड़काव कराया गया है। 
लॉकडाउन सोशल डिस्टेन्सकोरोना वायरस के संक्रमण को निष्प्रभावी बनाए जाने हेतु प्रदेशयापी लॉकडाउन एवं सोशल डिस्टेन्स की अवधारणा को ग्राम बडौदाताल में भी क्रियान्वित किया गया है। ग्रामीणजनो को सोशल डिस्टेन्स के फायदे से अवगत कराया गया साथ ही घर में रहकर स्वंय एवं परिवार को सुरक्षित रख सकते है से अवगत कराकर लॉकडाउन का प्रभावी रूप से क्रियान्वयन किया गया। 
स्वास्थ्य परीक्षणग्राम पंचायत में अभी तक 73 अप्रवासी लोगो को रखा गया था जिनके स्वास्थ्य का परीक्षण थर्मल स्क्रीनिंग कराई जा चुकी है। स्वास्थ्य विभाग के ग्राम स्तरीय अमले द्वारा डोर-टू-डोर सम्पर्क कर सर्दी जुकाम खांसी  व बुखार से कोई पीड़ित है क्या सर्वे किया गया है। चिन्हित व्यक्तियों को रोगोपचार दवाईयां मुहैया कराई गई है। 
जनधन एवं पेंशन राशि का भुगतानग्राम पंचायत बडौदाताल में कोविड-19 को दृष्टिगत एवं सोशल डिस्टेन्स का पालन करते हुए ग्रामवासियों को जनधन एवं पेंशन राशि का भुगतान सिरोंज कियोस्क के माध्यम से ग्राम पंचायत में ही राशि का भुगतान करवाया गया है। इसके अलावा समय-समय पर शासन द्वारा दिए जा रहे निर्देशो के अनुपालन हेतु ग्रामवासियों को अवगत कराया जा रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं: