विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 16 अप्रैल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 16 अप्रैल 2020

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 16 अप्रैल

राशन वितरण 

vidisha news
विदिशा। दिनाँक 16 अप्रैल को साईं परिसर में विनायक पैकजिंगस एवं सर्वोदय आनंद क्लब के सहयोग साईं मंदिर के दोनों पंडित जी को सुखा राशन दिया गया ।इस अवसर पर सर्वोदय आनंद क्लब के अध्यक्ष एवं जिलाआनंदम सहयोगी विजय श्रीवास्तव,प्रेरक आनंदक डॉ हेमन्त बिस्वास, सचिव राजीव भार्गव एवं मधुसुदन पचौरी,उपस्थित थे। मेरे घर मे कार्यरत कर्मचारियों को भी विनायक पैकजिंगस की प्रोपाइटर एवं आनंदक श्रीमती संध्या भार्गव द्वारा पान बाई एवं शांति बाई को सूखा राशन दिया गया।

पशु पक्षियों की प्यास बुझाने हेतु अनुकरणीय पहल

vidisha news
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री डीपीएस गौर ने बताया कि पैरालीगल वालिटियर्सो द्वारा पशु पक्षियों की प्यास बुझाने के लिए अनुकरणीय पहल की है। उन्होंने कहा कि पशु पक्षी को दाना चारा देना तथा पानी पिलाना भारतीय संस्कृति का अभिन्न अंग है। वर्तमान में कोरोना महामारी एवं ग्रीष्मकाल के संकट के कारण पशु पक्षियों के लिए भी दाना पानी का संकट उत्पन्न हो गया है। ऐसे समय कोई भी मुक पशु पक्षी प्यासा ना रहे इसके लिए उनके द्वारा सभी नागरिकों से अपील की गई है कि अपने स्तर पर पशु-पक्षियों की प्यास बुझाने की पहल का अनुकरण किया जाए। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव श्री गौर ने बताया कि जिला विधिक सेवा प्राधिकरण विदिशा के समाजसेवी पैरालीगल वालिटियर्स श्री रामबाबू कुशवाह एवं श्री राजेन्द्र रघुवंशी के द्वारा अपने-अपने ग्रामीण क्षेत्रों में पशुओं को पानी पिलाने के लिए पानी की टंकी (हौदी) का स्वंय निर्माण किया है तथा पक्षियों की प्यास बुझाने के लिए स्वंय के व्यय पर पानी के सकोरे लगाए जा रहे है। जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री प्रदीप सिंह ठाकुर ने बताया कि यदि किसी सामाजिक संस्था एवं व्यक्तिगत स्तर पर किसी भी व्यक्ति के द्वारा इस दिशा में सराहनीय तथा अभिनव प्रयास किया जा रहा हो तो अपने प्रयास की संक्षिप्त जानकारी फोटो सहित जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के ईमेल dlsavidisha@gmail.com पर भी भेज सकते है। उन्होंने यह भी अनुरोध किया है कि किसी भी व्यक्ति को किसी समस्या होने पर नेशनल टोल फ्री नम्बर 15100 पर समस्या दर्ज कराई जा सकती है। 

16 लोगो के खातो में एक-एक हजार की राशि जमा होगी

आंध्रप्रदेश के आंगुल जिले में स्थित सत्या एक्सपोर्ट मार्बल लिमिटेड कंपनी में विदिशा जिले के 14 एवं दो गुना जिले के मजदूर काम कर रहे थे जो लॉकडाउन होने के कारण वही रूके हुए है। कलेक्टर डॉ पंकज जैन की पहल पर आंध्रप्रदेश के आंगुल जिले में उक्त कंपनी में कार्यरत मजदूरो को चावल एवं अन्य राशन सामग्री उपलब्ध कराई गई है। मुख्यमंत्री जी द्वारा की गई घोषणा के अनुपालन में उक्त सभी 16 मजदूरो के बैंक खातो में एक-एक हजार रूपए की राशि जमा कराने की प्रक्रिया जिला कार्यालय में प्रचलित है। कलेक्टर डॉ जैन के द्वारा उपरोक्त कार्यो की मानिटरिंग एवं सम्पादन के लिए सामाजिक न्याय विभाग के उप संचालक डॉ पीके मिश्रा को अधिकृत किया है। श्री मिश्रा ने बताया कि सभी 16 मजदूरो से मोबाइल पर चर्चा हुई है और उनके बैंक खाते प्राप्त किए गए है। उनका कहना है कि स्थानीय जिला प्रशासन के द्वारा कच्चा खाद्यान्न उपलब्ध कराया गया है। किन्तु अन्य सामग्री के लिए राशि की आवश्यकता है। श्री मिश्रा ने बताया कि विदिशा रायपुरा बस्ती के दस तथा बासौदा के चार और गुना जिले के दो मजदूर उक्त कंपनी में काम कर रहे थे। कोरोना वायरस के चलते पूरे देश में लॉकडाउन हो जाने के कारण उक्त मजदूर मध्यप्रदेश वापिस नही आ सक रहे है। अतः इन मजदूरो को किसी भी प्रकार की खाने, स्वास्थ्य संबंधी समस्या ना हो पर विशेष ध्यान जिला प्रशासन के द्वारा दिया जा रहा है।

केंसर पीड़ित केके शर्मा को इलाज के प्रबंध

vidisha news
कलेक्टर डॉ पंकज जैन के संज्ञान में आने पर लटेरी तहसील के मोहब्बतपुर ग्राम में निवासरत केंसर पीड़ित कृष्णकांत शर्मा के इलाज हेतु वाहन के प्रबंध सुनिश्चित कराने के निर्देश कलेक्टर द्वारा स्वास्थ्य विभाग को दिए गए है। ज्ञातव्य हो कि कृष्णकांत शर्मा के पुत्र अभिषेक शर्मा ने मोबाइल पर कलेक्टर से सम्पर्क कर अपने पिता के अस्वस्थ होने तथा केंसर रोग से पीड़ित होने की जानकारी देते हुए दवाओं की अनुपलब्धता तथा भोपाल के केंसर अस्पताल में इलाज हेतु ले जाने के लिए एम्बुलेंस की मांग की गई थी। कलेक्टर डॉ पंकज जैन ने आवेदक की समस्या को अतिगंभीरता से लेते हुए एम्बुलेंस के प्रबंध सुनिश्चित कराने के निर्देश स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी को दिए है। 

पीडीएस दुकान से एमडीएम का खाद्यान्न

कलेक्टर डॉ पंकज जैन को मोबाइल पर जानकारी दी गई कि विदिशा शहर के किले अन्दर संचालित मदरसा में अध्ययनरत विद्यार्थियों को मध्यान्ह भोजन कार्यक्रम के तहत प्रदाय किए  जाने वाला गेंहू प्राप्त नही हुआ है। ततसंबंध में कलेक्टर द्वारा जिला आपूर्ति अधिकारी को दिए गए निर्देशों के अनुपालन में वार्ड आठ की उचित मूल्य दुकान में एमडीएम का खाद्यान्न भण्डारित कराया गया है ताकि उक्त दुकान से संवंद्व विद्यार्थियों के अभिभावकगण गेंहू का उठाव पीडीएस दुकान से कर सकें। 

कंटेनमेंट एरिया पर सतत नजर रखने के निर्देश

vidisha news
जिन क्षेत्रों में कोरोना वायरस से प्रभावितों का चिन्हांकन किया गया है उन क्षेत्रों को कंटेनमेंट एरिया घोषित किया गया है। कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा घोषित कंटेनमेंट एरिया की सतत मानिटरिंग हेतु अधिकारियों को जबावदेंही सौपी गई है और उन्हें हर रोज सायं छह रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए गए है। कलेक्टर डॉ जैन के द्वारा जारी आदेश के अनुपालन में कंटेनमेंट एरिया बेरीकेटिग एवं अन्य व्यवस्थाएं (पैरीमीटर कंट्रोल) कार्य हेतु जिला खनिज अधिकारी श्री मेहताब सिंह रावत  के द्वारा सतत निगरानी की जा रही है। समय अंतराल अवधि में जिला खनिज अधिकारी श्री रावत स्वंय भ्रमण कर अपना प्रतिवेदन जिला प्रशासन को उपलब्ध करा रहे है। जिसमें मौके पर जो कमियां परलिक्षित हुई है को स्पष्ट रूप से अंकित किया जा रहा है। पैरामीटर कंट्रोल के संबंध में सभी अधिकारी श्री रावत द्वारा जमा कराई गई रिपोर्ट तदानुसार उनके द्वारा गुरूवार को उक्त क्षेत्र का भ्रमण कर आवश्यक प्रबंधो का निरीक्षण किया गया है जिसमें शासन के निर्देशानुसार नोबल कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव एवं रोकथाम के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु जिला मुख्यालय के घोषित कंटेनमेंट एरिया में बेरीकेटस व अन्य व्यवस्थाओं का जायजा लिया गया है। विदिशा शहर के स्वर्णकार कालोनी, लुंगाहीपुरा, खाई चौपडा, मुगलटोला,  सिरोंज में किरी मोहल्ला, को कंटनेमेंट जोन घोषित किया गया है उक्त क्षेत्र का भ्रमण कर निर्धारित मापदण्डों का अनुपालन किया जा रहा है कि नही का जायजा लिया गया। 

सफलता की कहानी : कोरोना से बचना हेतु उपायों को दिनचर्या में शामिल

नोबल कोरोना (कोविड-19) के संक्रमण को रोकने हेतु विदिशा जिले में हर स्तर पर प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा शहरी एवं ग्रामीण रहवासियों को बचाव उपायों से प्रशिक्षित करने के उपरांत बतलाए गए उपायों को दिनचर्चा में शामिल करने की पहल का सभी अनुसरण कर रहे है। विदिशा जिले की सीमावर्ती ग्राम पंचायत आनंदपुर में नाम के अनुरूप ग्रामवासियों को कोरोना वायरस से बचाव के उपायो से अवगत ही नही कराया बल्कि ग्राम के लोग एक दूसरे की मानिटरिंग कर संसाधनो का उपयोग दिनचर्या में शामिल किए है कि नही से बता रहे है। 

सोशल डिस्टेन्स
कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के उपायों तहत प्रभावशील लॉकडाउन एवं सोशल डिस्टेन्स अतिमहत्वपूर्ण कडी है से ग्राम पंचायत आनंदपुर के सभी व्यक्ति भलीभांति अवगत हुए है और उसका पालन कर रहे है। घर में कोई भी बाहरी व्यक्ति बुलाया नही जा रहा है वही ग्राम की सीमा की चौकीदारी ग्राम के युवाजनों ने स्वंय उठाई है। ग्राम में साफ-सफाई की अलख देखने योग्य है। गांव की नालियां हो या सड़क दोनो कचरारहित परलिक्षित हो रही है घरो में रहकर घर की साफ सफाई कर स्वच्छता का संदेश ग्रामवासी पृथक से दे रहे है। ग्राम पंचायत के पदाधिकारियों के द्वारा ग्रामवासियों के लिए मास्क, सेनेटाइजर के महत्व से अवगत कराते हुए समय अंतराल में साबुन से हाथ बीस सेकेण्ड तक कैसे धोएं की प्रायोगिक जानकारी दी गई है। ग्राम में कीटनाशक दवा व सेनेटाइजर का छिड़काव कर पंचायत के सभी वार्ड, गलियों तथा मोहल्लों को कीटनाशक विमुक्त किया गया है। ग्राम पंचायत के अतिगरीब एवं निराश्रित परिवारों को भोजन व राशन के प्रबंध सुनिश्चित किए गए है जन चेतना मंच की ओर से निराश्रित परिवारों व गरीबो को भोजन के पैकेट उपलब्ध कराए जा रहे है। ग्रामवासियों के स्वास्थ्य का परीक्षण भी चिकित्सकों द्वारा किया गया है। वही ग्राम में बाहर से आए व्यक्तियों को उनके घर पर क्यूरेन्टाइन किया गया है।

कंट्रोल रूम का गठन

कलेक्टर डॉ पंकज जैन के द्वारा दिए गए निर्देशो के अनुपालन में खासकर ग्रामीण क्षेत्रों में ग्रीष्मकाल के दौरान किसी भी प्रकार की पेयजल संकट की स्थिति निर्मित ना हो इसके लिए पूर्व में किए जाने वाले प्रबंधों की व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराई गई है तथा सूचनाएं प्राप्ति हेतु कंट्रोल रूमो का गठन किया गया है। कोरोना वायरस के संक्रमण के प्रभाव को रोकने हेतु लागू लॉकडाउन अवधि में ग्रामीण क्षेत्रों में सतत शुद्व पेयजल की आपूर्ति सुनिश्चित कराने हेतु लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के द्वारा विशेष रणनीति तय की गई है। ग्रामीण क्षेत्रों की पेयजल समस्या के संबंध में प्राप्त शिकायतो के त्वरित निराकरण हेतु जिला स्तर पर नियंत्रण कक्ष स्थापित किया गया है। उक्त नियंत्रण कक्ष का प्रभार मानचित्रकार श्री रविन्द्र कुमार चक्रवर्ती 9111525311 को सौंपा गया है। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्यपालन यंत्री श्री एसके जैन ने बताया कि जिला मुख्यालय पर संचालित कंट्रोल रूम प्रातः आठ बजे से रात्रि आठ बजे तक क्रियाशील रहेगा। कंट्रोल रूम में श्री महेन्द्र कुमार विश्वकर्मा 9981026161 प्रातः आठ बजे से दोपहर दो बजे तक तथा श्री राजेन्द्र कुमार कुशवाह 9131206827 दोपहर दो बजे से रात्रि आठ बजे तक मौजूद रहेंगे। कंट्रोल रूम से लेण्डलाइन नम्बर 07592-250663 पर भी सम्पर्क किया जा सकता है। नियंत्रण कक्ष में कार्यरत शासकीय सेवक पेयजल से संबंधित प्राप्त होने वाली शिकायतो का विधिवत् लेखाजोखा, पंजी में संधारित करेंगे। प्राप्त शिकायतों से संबंधित क्षेत्र के अधिकारी को दूरभाष पर सूचित करेंगे तथा शिकायतो के निराकरण कार्यवाही पर प्रतिवेदन संबंधित उपयंत्री उपलब्ध कराएंगे ताकि कार्यवाही से संबंधित शिकायतकर्ता को उनके सम्पर्क नम्बर पर अवगत कराया जा सकें। 

पांच हजार रूपए राजसात करने का आदेश

अपर कलेक्टर न्यायालय में प्रचलित प्रकरण में अपर कलेक्टर के द्वारा पांच हजार रूपए की राशि शासन के पक्ष में राजसात करने का आदेश जारी किया है। ज्ञातव्य हो कि अनावेदक मेसर्स आदर्श पेट्रोल पम्प ग्राम मुरवास तहसील लटेरी में पेट्रोल डीजल का संग्रहण सीमा से कम पाए जाने पर कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी सुश्री अस्मिता गुप्ता के द्वारा प्रकरण दर्ज किया गया था। ज्ञातव्य हो कि उपभोक्ताओं को डीजल, पेट्रोल का विक्रय नही करने तथा कोविड-19 के कारण लॉकडाउन अवधि जैसी आपातकालीन स्थिति में कार्यालयीन आदेशों की अवहेलना करने पर नियमो के तहत प्रकरण पंजीबद्व किया गया था। अपर कलेक्टर न्यायालय में दर्ज मध्यप्रदेश मोटर स्पिं्रट तथा हाई स्पीड़ डीजल आयल के तहत प्रदत्त शक्तियों का उपयोग करते हुए अनावेदक फर्म की जमा प्रतिभूति राशि में से पांच हजार रूपए शासन पक्ष में राजसात करने का आदेश पारित करते हुए भविष्य के लिए सचेत किया गया है। 

इलाज, परीक्षण में कोताही बरतने पर कार्यवाही 

कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी डॉ पंकज जैन ने आज जिले के निजी चिकित्सकों की बैठक आहूत कर उन सभी से कहा है कि मरीजो के स्वास्थ्य परीक्षण से कोई भी चिकित्सक इंकार नही कर सकता। इसी प्रकार पैरापैथालाजी के संबंध में भी दिशा निर्देश दिए है। कलेक्टर डॉ जैन ने कहा कि कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण की रोकथाम हेतु जारी लॉकडाउन अवधि को राष्ट्रीय आपदा के रूप में क्रियान्वयन किया जा रहा है ऐसे समय सभी शासकीय व प्रायवेट डाक्टरों की नैतिक जिम्मेदारी है कि कोई भी मरीज स्वास्थ्य परीक्षण हेतु आता है तो उसका उपचार अनिवार्य रूप से करें यदि कोई कोरोना वायरस के मापदण्डो एवं लक्षणोंं के अनुसार पाया जाता है तो उसकी सूचना अविलम्ब जिला चिकित्सालय को दें। यदि जिले में कही भी किसी भी चिकित्सक अथवा पैथालॉजी के द्वारा मरीजो के इलाज अथवा टेस्ट में कोताही बरती जाती है तो संबंधित के खिलाफ राष्ट्रीय आपदा अधिनियमों के तहत कार्यवाही की जाएगी। कलेक्टर चेम्बर में हुई उक्त बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ केएस अहिरवार के अलावा निजी चिकित्सकगण मौजूद थे। 

भ्रमण कर जायजा

कलेक्टर डॉ पंकज जैन, पुलिस अधीक्षक श्री विनायक वर्मा ने आज संयुक्त रूप से विदिशा शहर के कंटेनमेंट जोन का भ्रमण कर जायजा लिया है। भ्रमण के दौरान अन्य क्षेत्रों में सोशल डिस्टेन्स का अनुपालन हो रहा है कि नही का बारीकी से संबंधितों के द्वारा अवलोकन किया गया गया है। कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक के द्वारा बालक दास की तलैया, माधवगंज, बडा बाजार, पुरानी मंडी इत्यादि क्षेत्र का मौके पर पहुंचकर जायजा लिया गया है। इस दौरान सोशल डिस्टेन्सिग के अनुपालन हेतु उनके द्वारा अधिकारियो को दिशा निर्देश दिए गए है। 

ग्राहको में सोशल डिस्टेन्स का पूरा ध्यान

लीड़ बैंक आफीसर श्री दिलीप सीरवानी के द्वारा सभी बैंको के मैनेजरो को दिशा निर्देश जारी किए गए है कि कोरोना वायरस कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए जारी लॉकडाउन अवधि में सोशल डिस्टेन्स का अक्षरश पालन किया जाए। लीड़ बैंक आफीसर श्री सीरवानी ने बताया कि बैंको के ओपन स्पेज परिसर में उपभोक्ताओं को रूकने हेतु निर्धारित अवधि में गोल मार्क बनाए गए है। ग्रीष्मकाल को देखते हुए उपभोक्ताओ को छांव के प्रबंध सुनिश्चित किए गए है। पंडाल व कुर्सियों की व्यवस्थाएं बैंको के माध्यम से अपने-अपने उपभोक्ताओं को सहूलियते उपलब्ध कराई जा रही है। लीड़ बैंक आफीसर श्री सीरवानी ने प्रधानमंत्री जनधन खाता के सभी खाताधारकों से आग्रह किया है कि वे बैंक से लेनदेन की अवधि में किसी भी दिन कभी भी आकर अपने बैंक खाते से राशि आहरण कर सकते है। ततसंबंधी में फैली अफवाहों पर ध्यान नही देने का आग्रह उनके द्वारा किया गया। 

कोई टिप्पणी नहीं: