घाटशिलाः कोरोना वायरस से बचने के लिए संथाल समुदाय ने की जाहेर थान में पूजा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 17 अप्रैल 2020

घाटशिलाः कोरोना वायरस से बचने के लिए संथाल समुदाय ने की जाहेर थान में पूजा

घाटशिला के दिशोम जाहेर गाढ़ सुरदा क्रॉसिंग में कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए ग्रामीणों ने भक्ति-भाव और श्रद्धापूर्वक जाहेर थान में पूजा-अर्चना की. पुजारी ने जाहेर थान में मंत्रोच्चारण कर पूजा करवाई.
worship-jharkhand-to-save-corona
घाटशिला (आर्यावर्त संवाददाता)  कोरोना वायरस का संक्रमण न फैले, इस उद्देश्य से सरकार ने लॉकडाउन की घोषणा की है. वहीं इस बीमारी को लेकर घाटशिला के लोगों में दहशत दिखने लगा है. आदिवासी समाज के संथाल जाति के ग्रामीण गांव-गांव में पोस्टर, बैनर और बैरियर लगाकर बाहरी लोगों का गांव में प्रवेश निषेध कर रहे हैं. वहीं कोरोना वायरस संक्रमण गांव में न फैले इसके लिए दिशोम जाहेर गाढ़ सुरदा क्रॉसिंग में 20 मौजा के ग्रामीणों ने भक्ति-भाव और श्रद्धापूर्वक जाहेर थान में पूजा-अर्चना की. पुजारी ने जाहेर थान में मंत्रोच्चारण कर पूजा करवाई. ग्रामीणों ने जाहेर थान में पूजा कर गांव और आसपास के गांव में कोरोना वायरस न फैलने की कामना की. कालापाथर गांव के ग्राम प्रधान सुनाराम मुर्मू ने कहा कि कोरोना वायरस से ग्रामीण भयभीत है. यह बीमारी गांव में न फैले और गांव में सुख, शांति और समृद्धि बनी रहे इस कामना के साथ गांव के ग्रामीणों ने सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन करते हुए जाहेर थान में पूजा-अर्चना की है. गांव के निवासी सोमय टुडू ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण से बचने के लिए गांव के ग्रामीणों ने भक्ति-भाव से जाहेर थान में पूजा की है. समाज का मानना है कि जाहेर थान में पूजा करने से बीमारी और महामारी से ग्रामीण बचेंगे, गांवों में सुख, शांति और समृद्धि बनी रहेगी. जाहेर थान में जाहेर आयो, मरांग बुरू (प्रकृति) की पूजा की गई है.

कोई टिप्पणी नहीं: