बिहार : भाकपा का जिलों, अंचलों, गाँवों और शहरों में 4 घंटे का उपवास - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 3 मई 2020

बिहार : भाकपा का जिलों, अंचलों, गाँवों और शहरों में 4 घंटे का उपवास

cpi-fasting-bihar
पटना,  भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी ने आज अन्तर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस के अवसर पर झंडोंत्तोलन के बाद कोरोना वायरस जैसे महामारी के चलते लाॅकडाउन से उत्पन्न स्थिति को देखते हुए तमाम जरूरतमंद परिवारों को 35 किलो आनाज एवं दस हजार नगद राषि देने, असामायिक वर्षा, तुफान, ओलावृष्टि से फसलों का हुए नुकसान का 15 हजार प्रति एकड़ क्षतिपूत्र्ति राषि किसानों को देने, हड़ताली षिक्षकों से वात्र्ता कर हड़ताल समाप्त कराने, सरकारी कर्मचारी के डी.ए. कटौती के आदेष को वापस लेने, मनरेगा के तहत तमाम मजदूरों को काम देने की गारंटी, टी.वी. चैनलों एवं फेसबुक से फैलाये जा रहें साम्प्रदायिक जहर पर रोक लगाने, राज्य के तमाम प्रवासी मजदूरों, छात्रों को विभिन्न राज्यों से वापसी सुनिष्चित करने आदि विभिन्न मांगों को लेकर राज्य भर में विभिन्न जिलों, अंचलों, गाँवों और शहरों में 4 घंटे का उपवास रखा गया।  भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव सत्य नारायण सिंह सहित अन्य नेता एवं कार्यकत्र्ता 10 बजे दिन से 2 बजे दिन तक जनषक्ति भवन, अदालतगंज, पटना में उपवास पर बैठे एवं अन्तर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस के अवसर पर केन्द्र और राज्य सरकार की जनविरोधी नीति के विरोध में तथा किसानों-मजदूरों के शोषण एवं दोहन के खिलाफ हमारा संघर्ष जारी रखने का संकल्प लिये। उपवास पर बैठे नेता एवं कार्यकत्र्ता लाॅकडाउन का पालन करते हुए दैहिक दूरी एवं मास्क लगाये अपने अपने हाथों में मांग पट्ट लिये हुये थे। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के राज्य सचिव सत्य नारायण सिंह ने कहा कि सरकार की ओर से जो राहत दी जा रही है वह नाकाफी है। उसे बढ़ाकर कम से कम प्रति परिवार 35 किलो अनाज एवं 1000 राषि को बढ़ाकर 10,000 नगद राषि दी जाये।  उन्होंने कहा कि बेगूसराय, खगड़िया, सहरसा, मधेपुरा, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर, पूर्णियां, कटिहार, भागलपुर, मधुबनी, दरभंगा आदि अनेक जिलों में भारी वर्षा, तुफान ओलावृष्टि के चलते गेहँू एवं मक्का की तैयार फसल नष्ट हो गयी है। किसानों का करोड़ों में नुकसान हो गया है। राज्य सरकार किसानों को 15000 प्रति एकड़ फसलों की क्षतिपूर्ति देने की घोषणा करे तथा सभी तरह के टैक्स एवं कर्ज की माफी करे।  उपवास कार्यक्रम में ए.आई.टी.यू.सी. (एटक) के नेता एवं कार्यकत्र्ता भी मजदूरों के विभिन्न मांगों को लेकर शामिल हुये। जनषक्ति, पटना में आयोजित उपवास में पार्टी के राज्य सचिव के अलावे, राज्य कार्यकारिणी सदस्य रविन्द्र नाथ राय, एटक के अध्यक्ष अजय कुमार, उपमहासचिव गजनफर नवाब, सचिव हरिदेव ठाकुर, पार्टी के राष्ट्रीय परिषद सदस्य ए.आई.एफ.यू.सी.टी.ओ. (।प्थ्न्ब्ज्व्) के महासचिव प्रो॰ अरूण कुमार, पार्टी के राज्य परिषद सदस्य इन्दूभूषण वर्मा, अनिल कुमार पटना जिला के रामजी पासवान एवं सुनील कुमार, हरिवंष, श्यामसुन्दर आदि नेता एवं कार्यकत्र्ता शामिल थे।  जनषक्ति, अदालतगंज, पटना एवं जिला पार्टी कार्यालय काजीपुर के अलावें जिलों से प्राप्त सूचना के अनुसार राज्य के अन्य जिलों में छपरा (सारण), मोतिहारी (पू. चंपारण), सहरसा, गया, नवादा, खगड़िया, सीवान, गोपालगंज, हाजीपुर, दरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर, भागलपुर, लखीसराय, मंुगेर, शेखपुरा, मधेपुरा, पूर्णियां, कटिहार, जमूई, औरंगाबाद, सासाराम आदि पार्टी के जिला कार्यालयों एवं जिला के विभिन्न अंचलों के पार्टी कार्यालयों एवं पार्टी कार्यकत्र्ताओं, हमदर्दों ने अपने-अपने गाँवों, मोहल्लों एवं घर पर 4 घंटे उपवास पर बैठे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...