टाटानगर स्टेशन पर मजदूरों के आने से पहले अधिकारियों से मिले डीसी, जिम्मेदारियों का पढ़ाया पाठ - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 7 मई 2020

टाटानगर स्टेशन पर मजदूरों के आने से पहले अधिकारियों से मिले डीसी, जिम्मेदारियों का पढ़ाया पाठ

लॉकडाउन में फंसे तेलंगाना के घाटकेशर से प्रवासी मजदूरों के ट्रेन से टाटानगर आने से पहले जिला के उपायुक्त रविशंकर शुक्ला ने टाटानगर स्टेशन परिसर में देर शाम तमाम अधिकारियों, पुलिस के जवानों और मेडिकल की टीमों को सुझाव दिए. उन्होंने बताया कि प्रवासियों के आने के बाद उनके साथ मानवता के साथ पेश आएं. इस दौरान सिटी एसपी ने कहा है कि इस मिशन में अनुशासन के साथ काम करना है.
dc-jamshedpur-visit-tatanagar-station-for-labour-arrival
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता) : कोरोना महामारी को लेकर किए लॉकडाउन में देश के विभिन्न राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों को स्पेशल ट्रेन से उनके राज्य तक भेजा जा रहा है. इसके तहत तेलंगाना के घाटकेशर से 900 प्रवासी ट्रेन के जरिए टाटानगर लौट रहे हैं. ट्रेन के आने से पूर्व जिला प्रशासन ने प्रवासियों की मेडिकल जांच के साथ उन्हें सुरक्षित बसों से उनके जिले तक ले जाने की पूरी तैयारी कर ली है. ट्रेन के 6 मई की देर रात तक आने की संभावना है. प्रवासियों के आने से पूर्व जिला के उपायुक्त रविशंकर शुक्ला ने टाटानगर स्टेशन परिसर में देर शाम जिला के सभी अधिकारियों, जिला पुलिस के जवानों, आरपीएफ, जीआरपी के जवान सिविल डिफेंस के सदस्य और मेडिकल की टीम को समझाया. उन्हें बताया गया कि ट्रेन के आने के बाद सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए कैसे काम करना है और किसकी क्या जिम्मेदारी है. इस दौरान सभी को एतिहात बरतने के लिए कहा है. जिला उपायुक्त ने साफ तौर पर कहा है कि कोई ऐसा काम नहीं करें, जिससे मिशन के पूरा होने पर किसी को क्वॉरेंटाइन करना पड़े. इस दौरान सिटी एसपी सुभाषचंद्र जाट ने जवानों को कहा है कि प्रवासियों के आने के बाद सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए अनुशासन बरतते हुए काम करना है. 

कोई टिप्पणी नहीं: