झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 29 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 29 मई 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 29 मई

प्रधानमंत्री के दूसरे कार्यकाल के एक वर्ष पूर्ण होने पर जिले के सभी 20 मंडलों में घर घर संपर्क कर दी जावेगी जानकारी ।
हम सभी को बडप्पन एवं धैर्य के साथ इस कार्य को पूरा करना हैे- लक्ष्मणसिंह नायक
jhabua news
झाबुआ। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दूसरे कार्यकाल का प्रथम वर्ष 30 मई को समाप्त हो रहा है तथा इस अवधि में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कुशन नेतृत्व एवं मार्गदर्शन में भारत ने विश्व में अपनी जो ख्याति अर्जित की है वही कोराना महामारी की वैश्विक समस्या को भी उनके नेतृत्व में भारत जिस प्रकार से इस पर नियंत्रण पाने की दिशा में उत्तरोत्तर आगे बढ रहा है वह निश्चित ही कुशल नेतृत्व का परिचायक है । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के दूसरे कार्यकाल के प्रथम वर्ष में पूरा वर्ष ऐतिहासिक रूप  से उपलब्धियों से भरा रहा है, तीन तलाक समाप्ति हेतु कानून का निर्माण हो या, जम्मु कश्मीर से धारा 370 जैसे कलंक को हटाने की बात हो, लद्दाख को पृथक राज्य बनाना, श्री राम जन्म भूमि जैसे लम्बे अंतराल के मुद्दे का हल निकाल कर अयोध्या में भव्य राम  मंदिर निर्माण का मार्ग प्रशस्त करना हो , शरणार्थियों के लिये नागरिक4ता संशोधन कानून लागुू करना हो , इस दिशा में नरेन्द्र मोदी सरकार ने पुरी शिद्दत के साथ कदम उठा कर इसे जन भावनाओं के अनुरूप् अमली जामा पहिनाया है । वही कोविड-19 जेसी वैश्विक महामारी के समय प्रभावी निर्णय के तहत समय रते लाॅक डाउन कीद घोषणा  सहित प्रभावी कदम उठाना एवं इन कदमों के लिये विश्व के कई देशो एवे संगठनों ने प्रधानमंत्री के प्रभावी निर्णयों की सराहना की है, प्रधानमंत्री द्वारा गरीबों के कल्याण के लिये आर्थिक पैकेज की घोषणा, जन समाान्य के लिये अलग प्रकार की योजनायं, व्यापार एवं आर्थिक क्षेत्र के लिये कई महत्वपूर्ण निर्णयों का लेना, व्यापार एवं आर्थिक क्षेत्र के लिये कई महत्वपूर्ण निर्णय लिये जाना ,तथा 20 लाख करोड के आर्थिक पैकेज की ऐतिहासिक घोषणा करके हर वर्ग का ध्यान रखना, प्रवासी मजदूरों के लिये सेवा सुविधायें मुह्रया कराना तथा विशेष ट्रेनो के जरिये सतत सुविधायें जारी रखने आदि जैसे कार्योके साथ ही कोविड-19 से बचाव एवं राहत के लिये पूरे देश के कोने कोन मेकं अलग अलग प्रकार के संवाद माध्यमों का उपयोग करते हुए कार्यकर्ताओं से संपर्क कर सेवा गतिविधियों एवं सामाजिक जिम्मेवारी का कार्य अदभुत तरिके से किया गया है । उक्त बात गुरूवार को जिला भाजपा कार्यालय में जिले के सभी 20 मंडलों के अध्यक्षों एवं जिला पदाधिकारियों की बैठक को संबोधित करते हुए जिला भाजपा अध्यक्ष लक्ष्म्णसिंह नायक ने कहीं । श्री नायक ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देश मे लाक डाउन के चलते 9 करोड से अधिक प्रवासी मजदूरों को उनके गृह क्षेत्रों में भिजवाने का कार्य सतत किया गया है । भारत के प्रत्येक व्यक्ति के आरोग्य के प्रति चिंिन्तत प्रधानमंत्री द्वारा  जो कार्य किये जारहे है वे विश्व में अनुपम उदाहरण हैै । श्री नायक ने जिले से आये मंडल अध्यक्षों से कहा कि प्रधानमंत्री के दूसरे कार्यकाल के एक वर्ष पूर्ण होने पर 30 मई से जिलेे के सभी 20 मंडलों में भाजपा के  कार्यकर्ता प्रत्येक घरों में जाकर इस उपलब्धि की जानकारी देगें । उन्होने बताया कि जिले के सभी मंडलों में समितियों का गठन किया जाकर  व्यक्तिगत संपर्क, डिजिटल संपर्क एवं वर्चुअल संवाद के माध्यम से लाॅक डाउन का पालन करते हुए गहन संपर्क किया जाना है,। इसके लिये श्री नायक ने विस्तार से मार्गदर्शन देते हुए कहा कि हम सभी को बडप्पन एवं धैर्य के साथ इस कार्य को पूरा करना हैे । जिला  भाजपा कार्यालय में आयोजित बैठक का संचासलन करते हुए जिला महामंत्री श्यामा ताहेेड ने भी नव नियुक्त अध्यक्ष लक्ष्मणसिंह नायक के नेतृत्व में संगठन द्वारा सौपे गये सभी दायित्वों के निर्वाह का आव्हान किया । उन्होने व्यक्तिगत संपर्क, डिजिटल संपर्क एवं वर्चुअल संपर्क के माध्यम से घर घर तक जानकारी पहूंचाने का आव्हान किया । इस अवसर पर थांदला गा्रमीण मंडल अध्यक्ष बंण्टी डामोर ने भी अपने विचार व्यक्त करते हुए संगठन द्वारा सौपे जाने वाले प्रत्येक कार्य को करने का भरोसा दिलाया । जिला उपाध्यक्ष अजय पोरवाल ने वर्चुअल संवाद के बारे विस्तार से जानकारी दी ।  जिला कार्यालय मंत्री पण्डित महेन्द्र तिवारी नेे भी सभी मंडलों से आग्रह किया कि वे संगठन द्वारा वांछित जानकारियों को समय पर भेजे ताकि प्रदेश संगठन को समय पर भेजी जासकें । बैठक में राधेश्याम राठौर, बोरी, बबलु सकलेचा, रामेश्वर नायक, औकारसिंह डामोर, कमलेश मचार, सचिन प्रजापत, कीर्तिश चाणोदिया, अशोक बसेर, स2ुखराम मोरी, कालुसिंह मेडा,  पारस तलेरा, जिला मीडिया प्रभारी राजेन्द्र सोनी सहित मंडल एवं जिले के  पदाधिकारी उपस्थित थे । कार्यक्रम के अंत में आभार प्रदर्शन बबलु सकलेचा ने माना ।

कोरोना संक्रमण के बीच राहत भरी खबर, काम के बदले अनाज योजना के जरिए आदिवासी मजदूरों को राहत देने की तैयारी
पेटलावद की पूर्व विधायक निर्मला भूरिया ने मुख्‍यमंत्री शिवराजसिंह चैहान से मुलाकात कर दिया सुझाव
jhabua news
झाबुआ ।  कोरोना महामारी ने लाखों लोगों के सामने रोजीरोटी का संकट खडा कर दिया है। सबसे ज्‍यादा परेशानी आदिवासी मजदूरों को उठानी पड रही है। गांवों में काम नहीं होने से उनके सामने परिवार की आजीविका चलाने की दिक्‍कत आ रही है। ऐसे में पेटलावद की पूर्व विधायक निर्मला भूरिया ने मुख्‍यमंत्री शिवराजसिंह चैहान से मुलाकात कर आदिवासी मजदूरों को राहत देने के लिए जिले में काम के बदले अनाज योजना लागू करने का सुझाव दिया है। मुख्‍यमंत्री ने भी सुझाव को अमल में लाने को लेकर आश्‍वस्‍त किया है। गौरतलब है कि आदिवासी बहुल झाबुआ  जिले से हर साल करीब एक लाख से अधिक आदिवासी मजदूर काम की तलाश में सीमावर्ती गुजरात, राजस्‍थान, महाराष्‍ट आदि राज्‍यों का रुख करते हैं। कोरोना संक्रमण के चलते उन्‍हें वापस अपने गांव लौटना पडा है। ऐसे में वे बेरोजगारी के साथ ही कोरोना संक्रमण के दोधाारी आघात सहने को मजबूर है।हालांकि शासन की ओर से मनरेगा और नकदी आदि के माध्‍यम से कुछ सहायता जरूर दी जा रही है लेकिनवह नाकाफी है। लिहाजा यहां काम के बदले अनाज योजना काफी कारगर साबित हो सकती है।

इसलिए दिया सुझाव
पूर्व विधायक निर्मला भूरिया के अनुसार वर्ष 2004-05 में देश के अकालग्रसत्‍ क्षैत्र के करीब 150 पिछडे जिलों में राष्‍टीय काम के बदले अनाज कार्यक्रम चलाया गया था। जिसके अंतर्गत जरूरतमंद लोग स्‍वयं के खेतों में मेडबंदी, खेतों की सफाई, पौधारोपण और सिंचाई के लिए नालियां आदि बनाते थे। इस अनुपात में उन्‍हें अनाज दिया जाता था। उस समय बनाया गया रुलर इम्‍प्‍लायमेंट एक्‍ट 2005 आज भी प्रभावशील है और ग्रामीण विकास मंत्रालय के माध्‍यम से भारत अनाज उपलब्‍ध करवाती है। सुश्री भूरिया के अनुसार इस अधिनियम के प्रावधानों के तहत भारत सरकार से अतिरिक्‍त खाद्यान प्राप्‍त किया जा सकता है। स्‍वयं के खेतों के अतिरिक्‍त इस योजना के अंतर्गत ग्राम पंचायत क्ष्‍ोत्र में आने वाले तालाबों, सिंचाई योजनाओं, भवन एवं सडक निर्माण तथा ग्रामीण एवं नगरीय सडकों के किनारे, शासकीय स्‍कूल, छात्रावास परिसरों व रहवासी बसाहटों के आसपास सार्वजनिक वृक्षारोपण भी कराया जा सकता है। इसके अलावा गांव  के आसपास करीब 5 हेक्‍टेयर भूमि पर सामुदायिक वन क्षेत्र भी विकसित कराया जा सकता है। कोरोना संक्रमण काल में यह योजना गरीबों के लिए बेहद मददगार साबित हो सकती है। सुश्री भूरिया ने प्रस्‍तावित योजना व कार्यक्रम के प्रभावी क्रियान्‍वयन के लिए किसी पूर्व विधायक की अध्‍यक्षता में एक जिलास्‍तरीय समिति गठित की जाने की बात भी मुख्‍यमंत्री के समक्ष रखी। जिसमें क्षेत्र के समाजसेवी संगठनों के प्रतिनिधि, जनपद पंचायतों के अध्‍यक्ष और ग्राम पंचायतों के सरपंच आदि को सदस्‍य नियुक्‍त किए जाने की भी बात रखी। प्रस्‍तावित ग‍तिविधियों में स्‍थानीय लोगों की सक्रिय भागीदारी व लाभ निहित होने से ये योजनाएं सफल होगी और वर्तमान संक्रमण से मुक्ति का मार्ग आसान बनेगा।

रेल परियोजना के कार्य को फि‍र से प्रारंभ करने की मांग
मुख्‍यमंत्री शिवराजसिंह चैहान से मुलाकात के दौरान पूर्व विधायक निर्मला भूरिया ने क्षेत्र की बहुप्रति‍क्षित रेल परियोजना इंदौर-दाहोद और छोटा उदयपुर-धार का मुददा भी उठाया। उन्‍होंने बताया रेल मंत्रालय ने दोनों रेल परियोजनाओं को ब्‍लॉक कर दिया है। इसे तत्‍काल राष्‍टृीय काम के बदले अनाज योजना में स‍म्मिलित कर पूर्ण करवाया जाए। पूर्व विधायक ने मुख्‍यमंत्री को बताया कि उक्‍त दोनों रेल परियोजना का शिलान्‍यास उनकी मौजूदगी में ही तत्‍कालीन प्रधानमंत्री डॉरू मनमोहनसिंह ने किया था।

मप्र में प्रवासी मजदूर आयोग बनाने की मांग
पूर्व विधायक निर्मला भूरिया ने रोजगार की तलाश में हर साल विभिन्‍न राज्‍यों में जिले से जाने वाले मजदूरों के हित संरक्षण्‍ व आपदाओं के समय त्‍वरित सहायता के लिए उत्‍तरप्रदेश की तर्ज पर मप्र में भी प्रवासी मजदूर आयोग का गठन किए जाने की मांग रखी। क्‍योंकि मप्र से भी प्रतिवर्ष लाखों मजदूर रोजगेार की तलाश में हर साल विभिन्‍न राज्‍यों में जाते हैं।

एक बाइक छह सवार सोशल डिस्टेंश पर लगा रहे सवाल नगरीय निकाय के कार्यों पर भी संदेह

jhabua news
थांदला। बात नगर में भीड़ की हो तो बस के आभाव में लोग गाँव से कुछ अलग ही अंदाज में अपनी जान जोखिम में रख कर आ रहे है। शासन प्रशासन के एक बाइक पर केवल एक सवार का नियम इनके लिए कोई मायने नही रखता तभी तो गाँव से आने वाले अधिकांश वाहन ओवर लोड ही होते है वह भी सामान से नही अपितु सवारी से। नगर में यह दृश्य अजब है पर गजब है एक बाइक सवार के साथ अकल्पनीय आश्चर्यजनक रूप से पाँच सवारी बिठाकर तेज रफ्तार से नगर में आया। नगर की यातायात पुलिस हो या अन्य कोई जिम्मेदार व्यक्ति किसी की हिम्मत इन्हें रोकने की नही होती। सोशल डिस्टेंश पर सवालिया निशान लगाने वाले ऐसे बाइक वाले अनेक है लेकिन पुलिस केवल मलाई खाने वाली है व दिखावे में कभी कभी चालानी कार्यवाही कर देती है। दो दिन तक नगर में अतिक्रमण व मास्क नही पहनने वालों पर बेवजह केवल ग्रामीणों व नगर के माध्यम व निम्न वर्गीय लोगों पर कार्यवाही करते हुए नगरीय निकाय ने भी 15 हजार से ज्यादा वसूली की लेकिन जब रसूखदार पर कार्यवाही का समय आया तब नगरीय निकाय नदारद हो गया। सीएमओ जो विवादों से ज्यादा रहना पसंद करते है वे भी एक पैर थांदला में व एक पैर पेटलावद में रखे हुए है जिसके कारण भी नगरीय निकाय आशातीत कार्य करने में अक्षम नजर आ रही है लेकिन कोई बोलने वाला नही है। स्थानीय नगर की जनता भगवान भरोसे होकर ऐसे दृश्य देख भयभीत हो रही है व कोरोना का खतरा महसूस करने लगी है।

माध्यमिक शिक्षा मण्डल ने शेष बची परीक्षाओं का परीक्षा कार्यक्रम जारी किया 9 से 16 जून तक होंगी हायर सेकेण्डरी के शेष विषयों की परीक्षा

झाबुआ। माध्यमिक शिक्षा मण्डल द्वारा हायर सेकेण्डरी एवं हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक परीक्षा-2020 की शेष बची परीक्षाओं सामान्यध्दिव्यांग छात्र का परीक्षा कार्यक्रम जारी कर दिया गया है। परीक्षा 9 जून से 16 जून तक संचालित की जायेगी। सचिव माध्यमिक शिक्षा मण्डल ने सभी प्राचार्यों को निर्देशित किया है कि प्रत्येक परीक्षार्थी को परीक्षा की तिथि और समय की जानकारी देना सुनिश्चित करें। परीक्षा कार्यक्रम मण्डल की वेबसाइटूूू.उचइेम.दपब.पद पर भी देखा जा सकता है। हायर सेकेण्डरी एवं हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक पाठ्यक्रम परीक्षा का कार्यक्रम हायर सेकेण्डरी एवं हा.से. व्यावसायिक पाठ्यक्रम परीक्षा इस प्रकार है मंगलवार 9 जून को रसायन विज्ञान एवं भूगोल, बुधवार 10 जून को बुक-कीपिंग एवं एकाउंटेंसी तथा प्रथम प्रश्न-पत्र व्होकेशनल कोर्स, गुरुवार 11 जून को जीव-विज्ञान, शुक्रवार 12 जून को व्यावसायिक अर्थशास्त्र तथा एनिमल हसबेंड्री, मिल्ड ट्रेड, पोल्ट्री फार्मिंग एवं फिशरीज, शनिवार 13 जून को राजनीति-शास्त्र, शरीर रचना क्रिया विज्ञान एवं स्वास्थ्य, स्टिल लाइफ एण्ड डिजाइन एवं द्वितीय प्रश्न-पत्र व्होकेशनल कोर्स, सोमवार 15 जून को हायर मैथेमेटिक्स, विज्ञान के तत्व, भारतीय कला का इतिहास तथा तृतीय प्रश्न-पत्र वोकेशनल कोर्स, मंगलवार 16 जून को अर्थशास्त्र तथा क्रॉप प्रोडक्शन एवं हॉर्टीकल्चर विषय की परीक्षाएँ होंगी। हायर सेकेण्डरी एवं हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक के जिन विषयों की परीक्षाएँ आयोजित नहीं की जायेंगी उन विषयों में बॉयो टेक्नालॉजी, शारीरिक शिक्षा, नेशनल स्किल्स क्वालिफिकेशन फ्रेमवर्क के विषय आई.टी, सिक्योरिटी, ब्यूटी एण्ड वेलनेस, बैंकिंग एण्ड फायनेंशियल सर्विसेस, इलेक्ट्रिकल टेक्नालॉजी, हेल्प-केयर, फिजिकल एजुकेशन एण्ड स्पोर्ट, रिटेल तथा ट्रेवल एण्ड टूरिज्म की परीक्षाएँ शामिल हैं। दृष्टिहीन, मूक-बधिर (दिव्यांग छात्रों के लिये हा.से. एवं हा. से. व्यावसायिक परीक्षा पाठ्यक्रम दृष्टिहीन, मूक-बधिर (दिव्यांग छात्रों के लिये हायर सेकेण्डरी एवं हायर सेकेण्डरी व्यावसायिक परीक्षा पाठ्यक्रम की शेष परीक्षाएँ 9 जून से 15 जून तक दोपहर 2 से 5 बजे तक होंगी। मंगलवार 9 जून को हायर मेथमेटिक्स एवं भूगोल, बुधवार, 10 जून को बुक-कीपिंग एवं एकाउंटेंसी तथा क्रॉप प्रोडक्शन एवं हॉर्टीकल्चर, गुरुवार 11 जून को जीव-विज्ञान एवं अर्थशास्त्र, शुक्रवार 12 जून को व्यावसायिक अर्थशास्त्र, एनिमल हसबेंड्री मिल्क ट्रेड पोल्ट्री फार्मिंग एवं फिशरीज, शनिवार 13 जून को राजनीति-शास्त्र, स्टिल लाइफ एण्ड डिजाइन तथा शरीर रचना क्रिया विज्ञान एवं स्वास्थ्य, सोमवार 15 जून को रसायन विज्ञान, विज्ञान के तत्व, भारतीय कला का इतिहास,समाज-शास्त्र,मनोविज्ञान,ड्राइंग एण्ड डिजाइनिंग तथा एनवायरमेंटल एजुकेशन एण्ड रूरल डेव्हलपमेंट,इंटरप्रेनुअरशिप की परीक्षा होगी। हायर सेकेण्डरीध्हा.से.व्या.परीक्षा के विषय दृष्टिहीन एवं मूक-बधिर (दिव्यांग छात्रों के लिये विशिष्ट भाषा उर्दू, शारीरिक शिक्षा, बॉयो टेक्नालॉजी, कृषि मानविकी, होम साइंस (कला समूह, नेशनल स्किल्स क्वालिफिकेशन फ्रेमवर्क सिक्यूरिटी की परीक्षाएँ आयोजित नहीं की जायेंगी। परीक्षाकाल में शासन द्वारा यदि कोई सार्वजनिक अथवा स्थानीय अवकाश घोषित किया जाता है तो भी परीक्षाएँ यथावत कार्यक्रमानुसार सम्पन्न होंगी। मण्डल आवश्यकता होने पर तिथि एवं समय में कभी भी बिना पूर्व सूचना के परिवर्तन कर सकता है,जिसकी सूचना विद्यार्थियों को संचार माध्यमों से दी जायेगी। हायर सेकेण्डरी परीक्षा में केवल वाणिज्य संकाय के विषयों को छोड़कर शेष विषयों में नियमित एवं स्वाध्यायी छात्रों के लिये प्रश्न-पत्र 100 अंकों का होगा किन्तु नियमित छात्रों को 100 अंक के प्राप्तांक का 80 प्रतिशत अधिभार एवं स्वाध्यायी छात्रों को 100 अंकों के प्राप्तांक ही अंकसूची में प्रदर्शित किये जायेंगे।

प्रायोगिक परीक्षा
स्वाध्यायी छात्रों की शेष प्रायोगिक परीक्षाएँ आवंटित परीक्षा केन्द्र में 8 जून से 16 जून के मध्य आयोजित की जायेंगी। आवश्यकता पड़ने पर अवकाश के दिनों में भी आयोजित की जा सकेगी। सुरक्षा नियमों का होगा सख्ती से पालन परीक्षा केन्द्रों पर सभी छात्रों को अपने नाक और मुँह को नकाबध्कपड़ेध्मास्क से ढंककर रखना होगा तथा फिजिकल डिस्टेंस नियमों का सख्ती से पालन करना होगा। सभी परीक्षार्थियों की थर्मल स्क्रीनिंग होगी।

आगामी तीन दिनों का मौसम का पूर्वानुमान

झाबुआ, क्षैत्रीय कृषि अनुसंधान केन्द्र झाबुआ से प्राप्त जानकारी के अनुसार आने वाले 3 दिनों में आसमान में साफ से छिटपुट बादल रहने, अधिकतम व न्यूनतम तापमान 41.0 से 42.0 व 25.0से 26.0 डि.से. के बीच रहने, हवा पष्चिम दिषा में 24.9 से 30.0 कि.मी./घंटा चलने एवं आगामी 3 दिनों में नहीं वर्षा होने का अनुमान है। 29 मई को उच्चतम तापमान 42.0 डि.से. तथा न्यूनतम तापमान 26.0 डि.से., आकाष साफ रहने, हवा पष्चिम दिषा में 30.0 कि.मी./घंटा चलने का अनुमान है। इसी प्रकार 30 मई को उच्चतम तापमान 41.0 डि.से.तथा न्यूनतम तापमान 25.0 डि.से. , आकाष साफ रहने, हवा पष्चिम दिषा में 29.1 कि.मी./घंटा चलने का अनुमान है। 31 मई को उच्चतम तापमान 41.0 डि.से.तथा न्यूनतम तापमान 25.0 डि.से., आकाष में बादल छिटपुट रहने, हवा पष्चिम दिषा में 24.9 कि.मी/घंटा चलने का अनुमान है।

ग्राम नाहरपुरा तथा केषरपुरा का कन्टेमेंट एरिया समाप्त

झाबुआ, । कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने पेटलावद तहसील के ग्राम नाहरपुरा तथा केषरपुरा का कन्टेमेंट एरिया समाप्त कर दिया है। ज्ञात हो कि ग्राम नाहरपुरा में सजना नामक महिला की कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पाजिटिव पाई जाने से ग्राम नाहरपुरा तथा केषरपुरा को कन्टेमेंट एरिया घोषित किया गया था। इन दोनों ग्रामों मे 10 सर्वे टीमों के 60 सदस्यों द्वारा प्रतिदिन स्वास्थ्य जाॅच कार्य सम्पन्न किया गया जाॅच दल द्वारा जाॅच के दौरान किसी भी व्यक्ति में कोरोना वायरस होने संबंधी लक्षण नहीं पाये गये हैं। संक्रमित महिला के साथ उसके घर नाहरपुरा के 18 तथा केषरपुरा महिला के 12 करीबी रिस्तेदारों के नमूने नेगेटिव आये हैं। सजना में कोरोना के लक्षण नहीं होने पर 10 दिन की अवधि पूर्ण होने से 16 मई को जिला चिकित्सालय के कोविड आईसोलेषन वार्ड से डिर्चाज किया गया है। साथ ही इस ग्राम में आयुष विभाग द्वारा प्रतिदिन काढ़ा चूर्ण वितरित किया गया। इस ग्राम में किसी भी व्यक्ति में लगातार 21 दिनों तक परीक्षण पष्चात कोरोना वायरस के कोई लक्षण नहीं पाये गये हैं।

356 परिवारों को मास्क एवं साबुन का वितरण

झाबुआ,। कोरोना वायरस के संक्रमण के बचाव एवं रोकथाम के लिये एडरेम  फाउण्डेषन संस्था द्वारा रामा ब्लाक के ग्राम रजला में गत दिवस 356 परिवारों को मास्क व साबुन का वितरण किया गया। इस अवसर पर पूर्व मारर्केटिंग अध्यक्ष मण्डी डायरेक्टर श्री सोमसिंह सोलंकी एडरेम फाउण्डेषन संस्था के सोहनसिंह भूरिया, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के श्री धुलिया बामनिया जिला सलाहकार व ग्रामीण जन  उपस्थित थे। इस अवसर पर ग्रामीणों को मास्क व साबुन का वितरण कर उसका उपयोग करने तथा पेयजल स्त्रोतों के आस-पास साफ सफाई व सेनेटाईज कर पेयजल निकालने के दौरान सोसलडिस्टेंस बनाये रखने की सलाह दी।

मलेरिया नियंत्रण कार्यक्रम के तहत कार्यषाला का आयोजन 1 जून को

झाबुआ, । मलेरिया नियंत्रण कार्यक्रम के तहत 1 जून को कलेक्टर कार्यालय सभा कक्ष में कार्यषाला का आयोजन किया गया है। यह कार्यषाला प्रातः 11ः30 बजे होगी। यह कार्यषाला कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा की अध्यक्षता में होगी।

कोई टिप्पणी नहीं: