मधुबनी : विकास कुमार को मैट्रिक की परीक्षा में बिहार में सातवां स्थान - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 27 मई 2020

मधुबनी : विकास कुमार को मैट्रिक की परीक्षा में बिहार में सातवां स्थान

कहा- इंजीनियर बनकर करूंगा देश की सेवा।
madhubani-vikas-topper
मधुबनी (आर्यावर्त संवाददाता)  जिले के लखनौर प्रखंड के छोटे से गांव हरभंगा के रहनेवाले विकास कुमार ने मैट्रिक की परीक्षा में बिहार में सांतवां स्थान पाया। उन्होंने 500 में 474 अंक प्राप्त किए। अपनी सफलता पर विकास को यकीन था पर सांतवां रैंक आएगा यह नहीं सोचा था। विकास आगे चलकर विकास इंजीनियर बनना चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने पढ़ाई भी शुरू कर दी है। बताया एक संस्था से जुड़कर ऑनलाइन पढ़ाई कर रहा हूं। लॉक डाउन के कारण अबतक बाहर नहीं जा सका। फिलहाल गांव में ही हूं। उनका कहना है वह रोज छह से सात घंटे की पढ़ाई करते थे।इस सफलता का श्रेय उन्होंने अपने गुरूजन, माता-पिता को दिया। वो सोनेलाल महतो हाई स्कूल जोरला, मधुबनी के छात्र हैं। कहा महान वैज्ञानिक व पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम और स्वामी विवेकानंद उनके आदर्श हैं। उन्हें जीवन में इनसे प्रेरणा मिलती है।विकास के पिता सुरेंद्र प्रसाद सिंह बीमा कंपनी में एजेंट हैं। वहीं उनकी माता कल्पना देवी शिक्षिका हैं। वो उत्क्रमित मध्य विद्यालय रामचंद्रा में कार्यरत हैं। विकास भाई में अकेले हैं और एक छोटी बहन चंद्रमणी कुमारी हैं जो आठवीं में पढ़ती है। पिता ने कहा कि बेटे की सफलता से गौरवान्वित हूं। वहीं मां कल्पना देवी ने कहा कि मुझे पूर्ण विश्वास था कि मेरा बेटा न केवल अच्छे नंबरों से पास करेगा बल्कि अच्छा स्थान भी पाएगा।

कोई टिप्पणी नहीं: