जमशेदपुर : 1,244 मजदूर मोरबी से पहुंचे टाटानगर रेलवे स्टेशन, स्वास्थ्य जांच कर भेजे गए घर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 28 मई 2020

जमशेदपुर : 1,244 मजदूर मोरबी से पहुंचे टाटानगर रेलवे स्टेशन, स्वास्थ्य जांच कर भेजे गए घर

पश्चिमी सिंहभूम जिले के 1,244 मजदूर मोरबी से टाटानगर रेलवे स्टेशन पहुंचे. मोरबी से टाटानगर पहुंचने वाले श्रमिक स्पेशल ट्रेन में कुल 1,244 प्रवासी मजदूर अपने गृह राज्य पहुंचे हैं. टाटानगर स्टेशन पहुंचने के बाद स्वास्थ्य विभाग के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए सभी को भोजन का पैकेट एवं पानी उपलब्ध करवाया गया
migrant-labour-reach-tatanagar
चाईबासा (आर्यावर्त संवाददाता)  ग्रीन जोन क्षेत्र मोरबी से पश्चिमी सिंहभूम जिले के 1,244 मजदूर मोरबी से टाटानगर रेलवे स्टेशन पहुंचे. मोरबी से टाटानगर पहुंचने वाले श्रमिक स्पेशल ट्रेन में कुल 1,244 प्रवासी मजदूर अपने गृह राज्य पहुंचे हैं. टाटानगर स्टेशन पहुंचने के उपरांत स्वास्थ्य विभाग के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए सभी को भोजन का पैकेट और पानी उपलब्ध करवाया गया अपने गृह जिला लौटे सभी श्रमिक बंधुओं को एसडीआरएफ के प्रावधानों के तहत आवश्यक खाद्यान्न सामग्री के साथ-साथ उनके गांव-घर भेजा गया. पूरी प्रक्रिया के दौरान पश्चिमी सिंहभूम जिला उपायुक्त अरवा राजकमल और पुलिस अधीक्षक इंद्रजीत महथा टाटानगर रेलवे स्टेशन पर मौजूद रहे. पश्चिमी सिंहभूम जिला उपायुक्त अरवा राजकमल ने जानकारी देते हुए बताया कि ग्रीन जोन क्षेत्र मोरबी जिले से पश्चिमी सिंहभूम घजिले के कुल 1,244 मजदूर श्रमिक स्पेशल ट्रेन के माध्यम से टाटानगर रेलवे स्टेशन पहुंचे हैं. जहां से उन्हें स्टेशन परिसर में ही स्क्रीनिंग जांच करते हुए होम क्वॉरेंटाइन में रहने के निर्देश के साथ प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी और सुरक्षा बल की उपस्थिति में वाहन से उनके गांव-घर पहुंचाया जा रहा है. इस पूरी प्रक्रिया के दौरान टाटानगर स्टेशन पर उपायुक्त के नेतृत्व में पुलिस अधीक्षक इंद्रजीत महथा, जिला भू अर्जन पदाधिकारी एजाज अनवर, सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अमर कुमार पांडे, पुलिस उपाधीक्षक (मुख्यालय) सुधीर कुमार, नजारत प्रभारी रवि कुमार सहित जिला प्रशासन के द्वारा प्रतिनियुक्त सभी दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारी उपस्थित रहे. इस संबंध में जानक्षकारी देते हुए उपायुक्त ने बताया कि राज्य सरकार से प्राप्त निर्देश के आलोक में देश के 24 हॉटस्पॉट जिले से लौटने वाले सभी व्यक्तियों सहित शेष अन्य जिलों से लौटने वाले व्यक्तियों में वायरस संक्रमण का लक्षण होने पर ही उन्हें स्टेट क्वॉरेंटाइन में रखना है. गुरुवार को लौटे सभी श्रमिक मजदूर ग्रीन जोन क्षेत्र से हैं. अतः आवश्यक स्क्रीनिंग जांच के उपरांत सभी को होम क्वॉरेंटाइन में रहते हुए सामाजिक अलगाव के नियमों का पालन करने की आवश्यकता है और सभी इन नियमों का पालन करें. इसके लिए जिला प्रशासन ने स्टेशन परिसर में ही हर व्यक्ति को स्टेट डिजास्टर रिलीफ फंड के प्रावधानों के तहत आवश्यक खाद्य सामग्री भी उपलब्ध करवाया है. उपायुक्त और पुलिस अधीक्षक ने सारी प्रक्रिया समाप्त होने के बाद अनवरत कार्य निष्पादन में लगे पूर्वी सिंहभूम और पश्चिमी सिंहभूम जिले के सभी पदाधिकारी/कर्मी, चिकित्साकर्मी को साधुवाद दिया. इस संबंध में उक्त पदाधिकारियों ने बताया कि सेवा में लगे सभी पदाधिकारी, कर्मियों ने बेहतर समन्वय के साथ कार्य निष्पादित किया है.

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...