दूसरे प्रदेशों में फंसे लोग अब आवेदन देकर लौट सकेंगे घर, प्रशासन निर्गत करेगी पास - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 4 मई 2020

दूसरे प्रदेशों में फंसे लोग अब आवेदन देकर लौट सकेंगे घर, प्रशासन निर्गत करेगी पास

तीसरे लाॅकडाउन की घोषणा हो चुकी है. वहीं, दूसरे राज्यों में फंसे लोगों को अब आवेदन देकर आने जाने की अनुमति दी जा रही है. दरअसल, अब बाहर राज्यों और शहर में फंसे लोगों को अपने वापसी के लिए प्रशासन पास निर्गत करेगी.
people-may-return-jharkhand
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता) : लाॅकडाउन के तीसरे चरण की घोषणा राज्य सरकार ने कर दी है, लेकिन फंसे लोगों को शर्तों के मुताबिक आने जाने के लिए भी अनुमति दी जा रही है, वहीं दूसरे राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों और छात्र-छात्राओं को लाया जा रहा है. दूसरी ओर जिले में लाॅकडाउन में फंसे हुए लोग जो राज्य से बाहर अपने वाहन से जाने के लिए सक्षम हैं, वे अब जिला परिवहन कार्यालय में आवेदन दे सकते हैं और अगर राज्य के अंदर ही जाना है तो अनुमंडल पदाधिकारी के पास आवेदन देना होगा. सभी को चार मई के बाद पास निर्गत किए जाएंगे. वहीं, अन्य राज्यों में फंसे परिजन भी उनकी वापसी के लिए पूर्ण विवरण के साथ जिला परिवहन कार्यालय में आवेदन कर सकते हैं. इसके अलावा 0657 2440111, 9431301355 और व्हाट्सएप नंबर 8987510050 पर भी सूचना दे सकते हैं. इस संबंध में जिला परिवहन पदाधिकारी दिनेश रंजन ने बताया कि लाॅकडाउन के कारण शहर में फंसे और दुसरे राज्यों में फंसे लोगों को लाने जाने के लिए पास निर्गत काम राज्य सरकार के अनुमति के बाद जिला प्रशासन कर रहा है. लेकिन यह पास शर्त के अनुसार मिलेगी, उन्होंने कहा कि राज्य के बाहर जाने वाले लोगों के लिए जिला परिवहन पदाधिकारी के पास आवेदन देना होगा उसके बाद जाने वाले लोगों का मेडिकल किया जाएगा. मेडिकल के बाद उन्हें पास निर्गत किया जाएगा. वहीं राज्य के अंदर ही आने जाने के लिए जिला अनुमंडल पदाधिकारी पास निर्गत करेंगे.

कोई टिप्पणी नहीं: