जमशेदपुर : स्वास्पुर क्वारंटाइन सेंटर से क्वारंटाइन अवधि पूर्ण होने पर 88 लोगों को रिलीज किया गया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 7 मई 2020

जमशेदपुर : स्वास्पुर क्वारंटाइन सेंटर से क्वारंटाइन अवधि पूर्ण होने पर 88 लोगों को रिलीज किया गया

people-released-from-quarentine-center-jamshedpur
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता) मुसाबनी प्रखंड के स्वासपुर स्थित कॉंसटेबल ट्रेनिंग सेंटर में क्वारंटाइन किए अन्तर्रजिला एवं जिला अंतर्गत के कुल 88 क्वारंटाइन किए गये व्यक्तियों को आज विदा किया गया। क्वारंटाइन अवधि पूरा होने पर आज प्रखण्ड चिकित्सा प्रभारी,मुसाबनी द्वारा सत्यापित करने के बाद प्रखंड विकास पदाधिकारी-सह-अंचलाधिकारी,मुसाबनी श्री अजय कुमार रजक की उपस्थिति में सभी क्वारंटाइन व्यक्तियों को उपायुक्त, पूर्वी सिंहभूम के निदेशानुसार रिलीज कर दिया गया। इस संबंध में प्रखंड विकास पदाधिकारी-सह-अंचलाधिकारी द्वारा बताया गया कि क्वारंटाइन हुए व्यक्तियों को रिलीज निम्न शर्तों के अनुसार किया गया है-   सभी की क्वारंटाइन अवधी 14 से 28 दिन की पूर्ण हो गई थी। जांच में सभी का रिपोर्ट निगेटिव पाया गया था। मौके पर बीडीओ-सह-सीओ द्वारा सभी रिलीज किए गये लोगों को निदेश दिया गया कि अपने-अपने घरों में सामाजिक दूरी बनाकर रखेंगे तथा सार्वजनिक स्थलों, बाजार एवं वैसे स्थान में नहीं जाएगा जहां भीड़-भाड़ हो। खास कर बच्चों पर विशेष ध्यान देंगे। हमेशा मास्क का उपयोग करेगें और समय-समय पर साबुन और सेनिटाईजर से अपने हाथों को साफ करेंगेे। सभी क्वारंटाइन हुए व्यक्तियों ने बीडीओ-सह-सीओ को आश्वस्त किया कि वे ऐसा कुछ नहीं करेगें जिससे किसी को परेशानी हो। इस अवसर पर बीडीओ-सह-सीओ द्वारा मास्क का भी वितरण किया  गया तथा सभी को सुखी, समृद्ध, स्वस्थ जीवन की शुभकामनाएं  देते हुए विदा किया गया। रिलीज किए गये व्यक्ति धालभूमगढ़, चाकुलिया, घाटशिला, पटमदा, गुड़ाबांधा, बोड़ाम, जमशेदपुर, पोटका, करनडीह, चाईबासा आदि स्थान के थे।

कोई टिप्पणी नहीं: