शराब दुकान बंद कर ऑनलाइन बिक्री करें, विधायक सरयू राय की सरकार को सलाह - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 6 मई 2020

शराब दुकान बंद कर ऑनलाइन बिक्री करें, विधायक सरयू राय की सरकार को सलाह

जमशेदपुर पूर्वी के विधायक सरयू राय ने कहा है कि कोरोना के इस लॉकडाउन में बड़ी-बड़ी संस्थाओं को प्रभावित किया है. लॉकडाउन में शराब की दुकानें खुलने पर कहा कि सरकार को ऑनलाइन शराब आपूर्ति करनी चाहिए.
saryu-rai-suggest-online-alcohal-sell
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता)  कोविड-19 को लेकर देश में किए गये लॉकडाउन में आम जिंदगी में लाइफ स्टाइल बदलता नजर आ रहा है. लॉकडाउन में बदले परिवेश को देखते हुए झारखंड सरकार के पूर्व मंत्री और जमशेदपुर पूर्वी के विधायक सरयू राय ने कहा है कि लॉकडाउन में बड़ी बड़ी संस्थाएं प्रभावित हुई हैं. वहीं लॉकडाउन में शराब की दुकानें खुले या नहीं इस पर कहा है कि सरकार को ऑनलाइन शराब आपूर्ति करनी चाहिए. विधायक सरयू राय ने कहा है इस बीमारी का वर्तमान में कोई इलाज नहीं है, लेकिन जल्द ही इलाज निकल जायेगा. यह बीमारी किसी न किसी रूप में हमारे बीच रहेगी. अब तक पूर्व में जितने वायरस आये है जिन्हें चिकनगुनिया, जापानी बुखार, डेंगू के नाम से जानते है वो आज भी हैं जिसका हम दवा खाते है. उनके साथ हम जी रहे है. इसलिए हमें कोरोना वायरस के साथ जीने की संस्कृति विकसित करनी चाहिए. हमे कोरोना से सावधानियां बरतते हुए अपनी क्षमता विकसित कर अपना काम भी शुरू करना चाहिए नहीं तो कोरोना हमें हरा देगा, हम कोरोना को नहीं हरा सकते. हमें सिर्फ सरकार के सहारे नहीं रहना चाहिए. एड्स, कैंसर, चिकनगुनिया जैसी बीमारी के साथ रहने की आदत के साथ सावधानी बरतते हुए कोरोना के साथ रहने की आदत बन जाएगी. वहीं लॉकडाउन में शराब की दुकाने खुलनी चाहिए या नहीं इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि सरकार द्वारा शराब बेचने का मकसद राजस्व की प्राप्ति होना. सरकार को शराब की दुकान बंद कर ऑनलाइन शराब की आपूर्ती की जानी चाहिए, जिससे शराब की दुकानों पर भीड़ न लग सके और इसके लिए ऑनलाइन सेवा देने वाली कंपनियों की तरह ऑनलाइन के लिए एजेंसियों को खोलना चाहिए, जिससे रोजगार भी मिल सके. विधायक सरयू राय ने स्पष्ट कहा है कि लॉकडाउन खत्म होने के बाद भी शराब की दुकानों को बन्द रखना चाहिए.

कोई टिप्पणी नहीं: