झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 21 जून - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 21 जून 2020

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 21 जून

उमरिया वंजन्त्री के युवक की गुजरात के शहर मे वाहन दुर्घटना मे हुई मौत, अपनी बाईक से गुजरात जा रहा था मजदुरी करने

jhabua news
पारा ।  समिपस्थ गांव उमरिया बंजंत्री के हरसीग पिता झांगु डामोर उम्र 30साल व उनकी बहु शारदी पति नानेश डामोर उम्र 20 साल की है जो आज सुबह मजदूरी के लिये अपनी होन्डा की से गुजरात के बडोदरा मैं काम करने के लिये जा रहे थे की सुबह गयारह बजे गुजरात के दाहोद और लिमखेड़ा के बीच मैं अचानक पीछे से आ रही ट्रक ने जोर से टक्कर मार दी गई जिससे मोखा पर हरसीग की मृत्यु हो गई जहाँ पर  बहू  शारदी को बहुत ज्यादा गंभीर हालत में घायल होने से गामीणों ने ऐम्बुलेंस बुला कर दोनो को लिमखेड़ा पहुंचा दिया गया जहाँ से शारदी को   दाहोद अस्पताल में पहुंचा या गया। गुजरात पुलिस मोखे पर पहुंच गई जहाँ ईनका पंचनामा बनाया गया और हरसीग का पोस्टमार्टम कर शव को ईनके परिवार को सोप दिया गया।हरसीग के परिवार को जेसे पता चला जैसे ही घरके परिवार के लोग करीब शांम को  वहां पर पहुंच गए जहाँ पर  कागज कायवाही कर इनका पोस्टमार्टम कराया गया। बहू को दोहद मैं भरपोडा अस्पताल में शारदी को भरती करवाया हे।।
     
अंजड कि पार्षद ने युवक पर फिरोती मांगने का लगाया आरोप

jhabua news
पारा । यहा से करिब चार किलोमीटर दुर ग्राम खयडुबडी के लीलीया पर अंजड कि पार्षद ने चाकु कि नोक पर फिरोती  मांगने का आरोप लगा कर पुलीस चैकि पारा पर आवेदन दिया। पुलिस मामले कि जांच कर रही हे। प्राप्त जानकारी के अनुसार  अंजड कि पार्षद गंगा बाई बामणिया ने शुक्रवार को पुलिस चोकी पारा पर एक आवेदन दिया ।  जिसमे बताया कि खयडुबडी के लालीया ने मुझसे चाकू की नोक पर फिरौती मागी की व रकम कि एवज मे मुझसे मेरी तुफान जीप क्रमांक एम पी 46 बी ए 5017 रखवाली  ।

यह हे मामला --समिपस्थ ग्राम खरडुबडी मैं करीब 11जून को गांव के लालीया पिता नारायण ने  अंजड की पार्षद गंगा बाई बामनिया को घेरा था। कारण लालीया ने होली के समय मरगा रुडी गांव के  धमेन्द्र भूरिया के लडके के लिए लडकी की संगाई करवाई गई थी जिसके लिए  1लाख 50हजार रुपये गंगा बाई को दिए थे । बाद मैं पार्षद ने बताया कि लडकी मना कर रही हैं और मैं आपको दूसरी लडकी से शादी करवा दूंगी इस के बदले आपको 1लाख 50हजार रुपये देना होगा जिसके लिए 11जून को लडकी को लेकर बुलाया गया जहां पर इनकी बात नहीं बनी तब सौ नंबर बुलाया गया जहाँ से झाबुआ थाना पहुंचा दिया गया । जहा आपसी समझोता की बात आईं और झाबुआ थाना मैं लिखापडी कर तुफान जीप  क्रमांक एमपी 46 बी 5017को जमानत की तोड़ पर रखदिया व कहा एक सप्ताह में तीन लाख रुपये देकर उक्त तुफान गाडी ले जाउंगी। पारा चैकी प्रभारी केशवसिह पांडव ने बताया कि आज मुझे गंगा बाई बामनिया द्वारा आवेदन दिया गया है कि मुझसे चाकू की नोक पर फिरौती मागी गई थी जिसके लिए मेरी तुफान जीप को रखवाली हैं। उक्त तुफान जीप व लालीया उर्फ दिनेश को झाबुआ एस पी साहब के यहा पर पस्तुत करेंगे।

सकल व्यापारी संघ एवं सामाजिक संगठनों ने मिलकर चीन द्वारा किए गए कायराना हमले का किया जमकर विरोध, चीन के राष्ट्रपति एवं चायनीस सामग्रीयों की निकाली अर्थी, राजवाड़ा पर फूंका चीन के राष्ट्रपति का पुतला
भारत माता और वंदे मातरम् के जमकर लगे जयकारे
jhabua news
झाबुआ। सकल व्यापारी संघ झाबुआ एवं शहर के समस्त सामाजिक संगठनांे द्वारा मिलकर पिछले दिनों गलवान घाटी पर चीन द्वारा किए गए कायराना हमले के विरोध स्वरूप 20 जून, शनिवार को सुबह 10 बजे स्थानीय राजवाड़ा से चीन के राष्ट्रपति एवं चायनीस सामग्रीयांे की अर्थी रैली निकाली गई, जो शहर के विभिन्न मार्गों से होते हुए पुनः राजवाड़ा पहुंची। जहां पहले सभी ने गलवाटी घाटी में शहीद भारतीय सैनिकों को भावभीनी श्रद्धांजलि दी। बाद चायनीस सामग्रीयों के पूर्णतः बहिष्कार का संकल्प लिया। अंत में चीन के राष्ट्रपति शी-जिनपिंग का पुतला दहन किया गया। इस दौरान सभी ने शहीद भारतीय सैनिकों के सम्मान में भारत माता और वंदे मातरम् के सामूहिक जयकारे भी लगाए। सर्वप्रथम सकल व्यापारी संघ के समस्त पदाधिकारी-सदस्य, शहर के सभी व्यापारी, विभिन्न सामाजिक-धार्मिक संस्थाओं के पदाधिकारी-सदस्य, गणमान्य नागरिक शहर के राजवाड़ा पर एकत्रित हुए। बाद यहां से एक विरोध रैली निकाली गई। जिसमें आगे चीन के राष्ट्रपति शी-जिनपिंग के पुतले और चायनी सामग्रीयां लेकर इनके बहिष्कार संबंधी शहर के लोगांे से अपील की गई। यह रैली शहर के राधाकृष्ण मार्ग, रूनवाल बाजार, मेन बाजार, बस स्टेंड गांधी चैेराहा, थांदला गेट, बाबेल चैराहा, आजाद चैक, नेेहरू मार्ग होते हुए पुनः राजवाड़ा पहंुची। यह रैली सकल व्यापारी संघ अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर के नेतृत्व में निकाली गई।

पूरा भारत शहीद हुए जवानों को नमन करता है
पश्चात् यहां संचालन करते हुए सकल व्यापारी संघ सचिव पंकज जैन ‘मोगरा’ ने बताया कि चीन ने गलवान घाटी पर भारत पर जो पीठ पीछेे हमला किया है, वह चीन की कायराना हरकत है। देष के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भारत सरकार इसका चीन को मुंह तोड़ जवाब देगी। पूरा देष इस घटना में शहीद हुए भारतीय सैनिकों को नमन करता है एवं उनके परिवार के साथ है। शहीद हुए जवान भारत की माटी के गौरव और वीरता के सपूत थे। 

चायनीस सामाग्रीयों का किया जाएगा पूर्णतः बहिष्कार
इसकेे पश्चात् सभी ने दो मिनिट का मौन रखकर शहीद हुए जवानांे को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की। वीरता के सपूतों के समान में भारत माता और वंदे मातरम् के सामूहिक जयघोष लगाए गए। तत्पष्चात् सभी को चायनीस सामाग्रीयों के बहिष्कार का संकल्प सकल व्यापारी संघ सचिव पंकज जैैन ‘मोगरा’ ने दिलवाया। सभी ने प्रतिज्ञा ली कि आज से ना चायनीस सामग्रीयों का उपयोग करेंगे और ना ही बाजार से इनकी खरीदी करेंगे। मेड इन इंडिया सामग्रीयों की खरीदी कर भारत देष की अर्थ व्यवस्था को मजबूत करने के साथ ही चीन को करारा जवाब देंगे। इस अवसर पर जिला केमिस्ट एवं ड्रगिस्ट एसोसिएषन के अध्यक्ष मनोज बाबेल ने भी घोषणा स्वरूप कहा कि एसोसिएषन भी चीन केे इस कायराना हमले का विरोध करता है। साथ ही एसोसिएषन के समस्त पदाधिकारी-सदस्य एवं समस्त मेडिकल व्यवसायी भी अपने व्यवसाय में चायनीस सामग्रीयों का बिल्कुल भी उपयोग नहीं करेंगे।

चीन के राष्ट्रपति और चायनीस सामग्रीयों की जलाई होली
बाद चीन के राष्ट्रपति शी-जिनपिंग का पुतला दहन करने के साथ ही चायनीस सामग्रीयों की होली जलाई गई। इस अवसर पर सकल व्यापारी संघ के वरिष्ठ संरक्षक राजेन्द्र यादव, अध्यक्ष नीरजसिंह  राठौर, वरिष्ठट उपाध्यक्ष कमलेष पटेल, सह-सचिव हरिष शाह लालाभाई, कोषाध्यक्ष राजेषा शाह, मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी, वरिष्ठ संजय शाह, निर्मल अग्रवाल, मनोज बाबेल, ओम सोनी, नितेष कोठारी, मनोज सोेनी, अमित जैन, रितेष कोठारी भल्ला, हार्दिक कोठारी, गोेपी बुंदेला, ताहेर बोहरा, जैनुद्दीन शेख, पं. प्रदीप भट्ट, संस्कार भारती आजाद अध्यक्ष प्रदीप जैन, आसरा पारमार्थिक ट्रस्ट से रविराजसिंह राठौर, महिलाओं में सकल व्यापारी महिला इकाई अध्यक्ष भूमिका माहेष्वरी, संकल्प ग्रुप एवं अभिव्यक्ति मंच अध्यक्ष श्रीमती भारती सोनी, स्वर्णकार समाज महिला इकाई से कुंता सोनी आदि सहित बड़ी संख्या में ेशहर के व्यापारी, गणमान्यजन आदि उपस्थित थे।

न्यू आदर्ष श्रमजीवी पत्रकार संघ (राष्ट्रीय) द्वारा कोरोना यौद्धाओं ंका किया गया सम्माान, कोरोना काल में जिला कलेक्टर, जिला पुलिस अधीक्षक, अतिरिक्त पुुलिस अधीक्षक, तत्कालीन एसडीएम, सीएचएचओ ने दी दिन-रात अपनी सेवाएं

jhabua news
झाबुआ। न्यू आदर्ष श्रमजीवी पत्रकार संघ (राष्ट्रीय) की जिला इकाई झाबुआ द्वारा जिले में कोरोनाकाल मंे सराहनीय कार्य करने वालों का सम्मान समारोह आयोजित किया गया। जिसके अंतर्गत जिला कलेक्टर प्रबल सिपाहा, जिला पुलिस अधीक्षक विनीत जैन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय डावर, तत्कालीन एसडीएम झाबुआ डाॅ. अभयसिंह खराड़ी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. बीएस बारिया, जिला कार्यक्रम प्रबंधक राजाराम खन्ना, जिला चिकित्सालय के आरएमओ डाॅ. सावनसिंह चैहान को कोरोना वाॅरियर्स की उपाधि से नवाजा गया।   न्यू आदर्ष श्रमजीवी पत्रकार संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष डीएल शर्मा एवं प्रदेष अध्यक्ष दीपक वीलर बान के निर्देष पर पत्रकार संघ के जिलाध्यक्ष मनीष कुमट (जैन) एवं जिला सचिव दौलत गोलानी के साथ जिला उपाध्यक्ष केषवसिंह ठाकुर, जिला संयुक्त सचिव नवेद रजा, जिला कोषाध्यक्ष देवेन्द्र व्यास, जिला पदाधिकारी पंकज रांका, देवेन्द्र श्रीवास्तव (कृष्णा) आदि ने कलेक्टर कार्यालय पहुंचकर जिला कलेक्टर प्रबल सिपाहा का सम्मान करते हुए उनके कार्यकाल में जिले में ंकोरोना वायरस के वर्तमान में महज 2 केस होने पर, कोरोना नियंत्रण के क्षेत्र मंे प्रषासनिक टीम को नेतृत्व प्रदान करने, पुलिस अधीक्षक कार्यालय पहुंचकर जिला पुलिस अधीक्षक विनीत जैन के नेतृत्व में जिले में लाॅकडाउन की ढ़ाई महीने की अवधि में जिले की सुरक्षा व्यवस्था चाॅक-चैबंद होने, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय डावर द्वारा मप्र और गुजरात की प्र्रवेष सीमा पिटोल बेरियर पर लगातार 35 दिनों से अधिक समय तक ड्यूटी देकर यहां सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने में महत्वपूर्ण सहयोग देने पर, तत्कालीन एसडीएम झाबुआ डाॅ. अभयसिंह खराड़ी द्वारा झाबुआ शहर में कोरोना वायरस से बचाव हेतु सख्ती से कानून व्यवस्था को बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन करने पर उनका कोरोना यौद्धा के रूप में सम्मान किया गया।

इन्हें दी गई कोरोना वाॅॅरियर्स की उपाधि
इसके साथ ही मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डाॅ. बीएस बारिया के नेतृत्व में ंजिला कार्यक्रम प्रबंधक राजाराम खन्ना द्वारा स्वास्थ्य टीम के साथ जिले के कंटनमेंट एरिया में जाकर निरंतर लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग करने के साथ कोरोना के संेपल लेना तथा जिला चिकित्सालय के आरएमओ डाॅ. सावनसिंह चैहान द्वारा कोरोना के मरीज पाए जाने पर उन्हें क्वारेंटाईन सेंटर में भर्ती करने तथा परिवारजनों को होम क्वारेंटाईन करने के अतिरिक्त कोरोना मरीजों को समचित स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध करवाने के चलते इन्हें अभिनंदन-पत्र देकर कोरोना वाॅरियर्स की उपाधि से नवाजा गया। साथ ही इन सभी के कार्यों की भूरी-भूरी प्रसंषा की गई।

जिला होमगार्ड कार्यालय पर आगामी अतिवृष्टि एवं बाढ़ नियंत्रण तथा आपदा प्रबंधन को लेकर बैठक संपन्न, सिविल डिफेंस के कार्यकर्ताओं द्वारा जिले में किए गए कार्यों की सराहना

jhabua news
झाबुआ। शहर से सटे ग्राम मिंडल स्थित जिला होमगार्ड कार्यालय पर आगामी अतिवृष्टि एवं बाढ़ नियंत्रण तथा आपदा प्रबंधन को दृष्टिगत रखते हुए सिविल डिफेंस वालंटियर की जिला स्तरीय बैठक का आयोजन किया ंगया। जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्णत पालन किया गया। इस अवसर पर विशेष रूप से ग्रामीण क्षेत्र से सिविल डिफेंस के वालंटियर उपस्थित रहे। बैठक में डिस्ट्रिक्ट कमांडेंट गुलाबसिंह में उन्हें आपदा से बचने के लिए जानकारी दी एवं सिविल डिफेंस के कार्यकर्ताओं ने कोरोना से बचाव के क्षेत्र में किए जा रहे कार्यो से अवगत करवाया। सिविल डिफेंस के जिले में किए गए कार्यों की डिस्ट्रिक्ट कमांडेंट गुलाबसिंह ने भूरी-भूरी प्रशंसा की एवं आगामी दिनों में होने वाली वर्षा ऋतु के लिए सतर्क रहने के लिए कहा। जिससे जान-माल की हानि को बचाया जा सके। इसके साथ ही सावधानीपूर्वक कार्य किस प्रकार किया जा सकता है, उसकी जानकारी प्रदान की।   
             
सिविल डिफेंस के कार्यों की सराहना
होमगार्ड डिस्ट्रिक्ट कमांडेंट द्वारा सिविल डिफेंस के सभी वालंटियर से परिचय भी प्राप्त किया। आपदा के समय प्रबंधन किस प्रकार से किया जा सकता है व सिविल डिफेंस का क्या कार्य है, क्या कर्तव्य है, उसकी भी विस्तार से जानकारी दी। इस अवसर पर वरिष्ठ समाजसेवी अजय रामावत ने भी संबोधित किया। उन्होंने भी सिविल डिफेंस वॉलिंटियर के कार्यो की सराहना की।                                     ’

सिविल डिफेंस प्रभारी पं द्विजेंद्र व्यास के कार्यों की विशेष सराहना ’                     
सिविल डिफेंस प्रभारी पंडित द्विजेंद्र व्यास के कार्यों एवं उनके  वालंटियर द्वारा कोरोना काल में किए कार्य की डिस्ट्रिक्ट कमांडेंट श्री सिंह ने प्रशंसा करते हुए अपने नाम अनुसार हमेशा सेवा में तत्पर रहने हेतु कहा। इस अवसर पर झाबुआ, मेघनगर, पारा, रानापुर, पेटलावद सभी तहसीलों से सिविल डिफेंस वालंटियर बड़ी संख्या में उपस्थित रहे।                                
आचार्य रविन्द्र सूरीष्वरजी मसा की चतुर्थ पुण्यतिथि के अवसर पर चित्र पर माल्यार्पण कर गुणानुवाद सभा का हुआ आयोजन, सद्गुरू गौषालाओं में गौ-माताओं को करवाया आहार

jhabua news
झाबुआ। परम् पूज्य आचार्य श्रीमद् विजय रविन्द्र सूरीष्वरजी मसा की चतुर्थ पुण्यतिथि 20 जून, शनिवार को श्वेतांबर जैन श्री संघ द्वारा प्राचीन जैन तीर्थ श्री ऋषभदेव बावन जिनालय में मनाई गई। इस अवसर पर आचाय्र्र श्रीजी केे चित्र पर माल्यार्पण कर गुणानुवाद सभा का आयोजन किया गया। जिसमें श्री संघ के वरिष्ठजनों ने आचार्य श्रीजी के जीवन पर प्रकाष डाला। दोेपहर में स्थानीय लक्ष्मीनगर स्थित सद्गुरू गौषाला में गौ-माताओं को आहार भी करवाया। जानकारी देते हुए संपूर्ण कार्यक्रम के सूत्रधार मनोहर मोदी ने बताया कि प्रातः बावन जिनालय के गुरू हाॅल में आचार्य रविन्द्र सूरीजी मसा के चित्र पर माल्यार्पण श्री संघ के वरिष्ठ अषोक राठौर एवं अभय धारीवाल ने किया। आरती की बोली संजय कांठी परिवार ने लेकर आचाय श्रीजी की आरती की। गुणानुवाद सभा को संबोधित करते हुए श्री संघ के पूर्व व्यवस्थापक एवं श्रावक रत्न धर्मचन्द मेहता, मालवा जैन श्वेतांबर महासंघ के राष्ट्रीय प्रवक्ता यषवंवत भंडारी एवं श्री गोड़ी पाष्र्वनाथ तीर्थ से संजय कांठी ने आचार्य श्रीजी के जीवन पर प्रकाष डालते हुए बताया कि रविन्द्र सूरीजी मसा गुणांे की खदान थे। वे आचाार्यों मंे कोहीनूर हीरे के समान है। उनके भक्त एवं अनुयायी पूरे देष में है। उन्होंने अपने जीवनकाल में हमेषा ेतप-जप को महत्व दिया। गुणानुवाद सभा पश्चात्् प्रभावना का लाभ श्रीमती जीवनबाला पोरवाल ने लिया।

गौ-माताओं कोे आहार करवाया
इस दिन समाजजनों ने जीव सेवा का कार्य करते हुए दोपहर में लक्ष्मीनगर स्थित सद्गुरू गौेषाला में गौ-माताओं की पूजन कर हरी घास खिलाई। जिसका लाभ वर्षीतप की तपस्वी श्रीमती सुरेखा बहन मनोहर मोदी परिवार ने लिया। गौषाला में पधारे सभीजनों को प्रभावना अषोककुमार राठौर परिवार की ओर से वितरित की गई। कार्यक्रम के अंत में आभार अक्षय जैन (लोढ़ा) ने माना।

यह रहे उपस्थित
इस अवसर पर श्वेतांबर जैन श्री संघ के वरिष्ठ वर्धमान राठौर, मुकेष संघवी, सुरेन्द्र कांठी, मुकेष रूनवाल, जयेेष कांठी, निलेष जैन, इंद्रसेन संघवी, सतीष कोठारी, सुरेन्द्र सकलेचा, नरेन्द्र पगारिया, शार्दुल भंडारी, हेमेन्द्र सूरी महिला मंडल, बहू मंडल, मित्र मंडल एवं श्री संघ के श्रावक-श्राविकाएं उपस्थित थी।

ओमप्रकाष देवल द्वारा कोरोना वायरस से जड़ मूल से मुक्ति के लिए भारत सरकार को अपनी अभिव्यक्ति प्रस्तुत करने पर संकल्प अभिव्यक्ति मंच ने उनके कार्यों को सराहा, आयुर्वेदिक पद्धति के माध्यम से निदान पर जोर दिया

झाबुआ। शहर में नवगठित संकल्प अभिव्यक्ति मंच ने शहरवासियों कीे अभि-व्यक्तियों को निखारने के लिए एक नया प्लेटफार्म तैयार किया है। इस संगठन का कार्य समय-समय पर सामाजिक, साहित्यिक, सांस्कृतिक, रचनात्मक कार्यों का प्रोत्साहन देना भी हैं। ग्र्रुप की नेतृत्वकर्ता श्रीमती भारती सोनी ने बताया कि अभिव्यक्ति मंच के नाम से एक नई संस्था तैयार की गई हैं, जो शहर के लोगों की किसी भी विषय या क्षेत्र में प्रस्तुत अभि-व्यक्ति को प्लेटफार्म प्रदान कर अर्था्रत मंच प्रदान कर उन्हें प्रोत्साहित और निखारने का काम करेगी। इसी क्रम में संस्था से जुड़े ओममप्रकाष देवल द्वारा आयुर्वेद केे क्षेत्र में अपनी अभिव्यक्ति प्रस्तुत की गई।

कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए दिया सुझाव
आयुवैदिक चिकित्सा क्षेत्र के सषक्त हस्ताक्षर. ओमप्रकाष देवल ने भारत सरकार को ई-मेल के माध्यम से भेजे गए पत्र में बताया कि वर्तमान में वैष्विक महामारी कोरोना वायरस से रोकथाम हेत हम आयुर्वेदिक पद्धति के माध्यम से इस बिमारी को जड़ मूल से समाप्त कर सकते है। उन्होंने बताया कि आयुवैदिक पद्धति में इस गंभीर और ला-ईलाज रोग के निदान में संजीवनी वटी भी एक कारगर उपाय है। यदि इसको कोरोना वायरस के उपचार में शामिल किया जाता है, तो मरीज को काफी हद तक लाभ मिलेगा। यह औैैषधि विषाणुुजनित रोगांें सहित अन्य उपद्रव से बचाने की क्षमता रखती है। श्री देवल के इस सुझाव का संकल्प अभिव्यक्ति मंच झाबुआ नेे स्वागत किया है एवं उनकी इस अभिव्यक्ति को सराहा है।

20 जून की रात्रि से लग रहे सूर्यग्रहण केे बारे में जाने प्रख्यात आचार्य पं जैमिनी शुक्ला से, ग्रहण में क्या करे-क्या ना करे, किस राषि पर क्या प्रभाव पढ़े पूरी खबर ....

झाबुआ। श्री सत्यनारायण मंदिर राजवाड़ा चैक झाबुआ के आचार्य पंडित जैमिनी शुक्ला ने बताया कि संवत 2077 आषाढ़ कृष्ण पक्ष अमावस 21 जून 2020, रविवार ईस्वी को खंडग्रास अथवा कंकणाकृती सूर्य ग्रहण होगा। यह ग्रहण भारत में दृश्य होगा। इस ग्रहण का सूतक 20 जून को रात्रि 10.09 बजे से मान्य तथा 21 जूून को ग्रहण का स्पर्श दिन 10.09 बजे से मान्य तथा मोक्ष शुद्धि काल दिन में 1.45 बजे पर स्पष्ट है। यह सूर्य ग्रहण गर्भवती महिलाओं, नव-विवाहिता कन्या, विवाह योग्य बालक-बालिका, उद्योगपति, मंत्री ,धर्म नेता पर भी प्रभार सूचक एवं दर्शन योग्य नहीं है।

ग्रहण में क्या करे, क्या न करे
आचार्य जैमिनी शुक्ला नेे आगेे बताया कि सूर्य ग्रहण में ग्रहण से पूर्व चार प्रहर (12 घंटे) पूर्व भोजन नहीं करना चाहिए। बूढ़े, बालक, रोगी और गर्भवती महिलाएं डेढ़ प्रहर (साढ़े चार घंटे) पूर्व तक खा सकते है। ग्रहण के कुप्रभाव से खाने पीने की वस्तुएं दूषित ना हो, इसलिए सभी खाद्य पदार्थों एवं पीने के जल में तुलसी का पत्ता अथवा कुश डाल दें। मोबाइल के उपयोग से बचे। सत्संग-कर्तन यदि डाउनलोड करना हो तो पहले ही कर ले और ग्रहण काल में उसे सुने। ग्रहण के समय पहने हुए एवं स्पर्श किए गए वस्त्र आदि अशुद्ध माने जाते है। अतः ग्रहण पूरा होते ही कपड़े सहित स्नान कर लेना चाहिए।

ग्रहण के समय धार्मिक ग्रंथों का पठन-मनन करे
पं. जेैमिनी शुक्ला के अनुसार ग्रहण के समय कुछ भी क्रिया ना करते हुए केवल शांत चित् से अपने गुरु मंत्र का जाप, ईष्ट देव की आराधना एवं धार्मिक ग्रंथों का पठन-मनन करना चाहिए।। सूर्य ग्रहण के समय संयम रखकर किए गए जप ध्यान करने से कई गुना फल प्राप्त होता है। ग्रहण काल में सभी लोग गले में तुलसी की माला या चोटी में कुश धारण कर रखे।

सूर्य ग्रहण का राशियों पर शुभ-अशुभ प्रभाव
’मेष’ पद को सम्मान की प्राप्ति, ’वृषभ’ व्यापार में हानि-परेशानी, ’मिथुन’ घटना-दुर्घटना, ’कर्क’ चोट की आशंका, ’सिंह’ जीवनसाथी का सुख, ’कन्या’ शुभ समाचार, ’तुला’ वाद-विवाद की संभावना, ’वृश्चिक’ परेशानी, ’धनु’ जीवन साथी को कष्ट, ’मकर’ शुभ, ’कुंभ’ तनाव व मानसिक परेशानी ’मीन’ अधिक खर्च की संभावना है।ं

अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 21 जून को आयोजित किया जावेगा घर पर रहकर योग की गतिविधियों में स्वैच्छिक सहभागिता किये जाने के निर्देश

झाबुआ। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पूर्व वर्षों की भाॅंति इस वर्ष भी 21 जून को आयोजित किया जावेगा। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने जिले के विभिन्न विभागों के अधिकारियों को निर्देश दिये है कि योग प्रदर्शन के दौरान कोविड-19 के संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुवे योग प्रदर्शन कार्यक्रम में सोसलडिस्टेंसिंग का पालन करते हुए अपने घर पर ही रहकर सम्पूर्ण जिले में एक ही समय पर स्वैच्छिक रूप से आयोजन किया जावे। योग दिवस पर योग एवं प्राणायम करने के मुख्य उद्देश्य योग के माध्यम से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाना, तनाव से मुक्ति के लिये योगाभ्यास किया जाना है। श्री सिपाहा ने निर्देश दिये है कि प्रत्येक विभाग इस आयोजन के संबंध में विभाग से एक नोडल अधिकारी नियुक्त करते हुए 19 जून को जिला शिक्षा अधिकारी को कमवरीं.उच/दपबण्पद अथवा शिक्षा विभाग के नोडल अधिकारी के वाट्सएप पर मोबाईल नम्बर 7354119933 पर अवगत करावे। आयुष विभाग भारत सरकार द्वारा योग कार्यक्रम के दौरान किये जाने वाले योगासनो के बारे में एक काॅमन प्रोटोकाॅल निर्धारित करते हुए इस बारे में एक ई-बुक एवं वीडियो तैयार किये गये है। जिसे वेबसाईड लवहंण्ंलनेीण्हवअण्पद से डाउनलोड किया जावे। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के पूर्व योगाभ्यास के लिये आयुष मंत्रालय द्वारा विभिन्न माध्यमों जैसे यूट्यूब, फेशबुक, ट्वीटर, इंस्ट्राग्राम इत्यादि पर सामान्य योगा प्रोटोकाॅल के संबंध में आवश्यक जानकारी उपलब्ध कराई है। श्री सिपाहा ने अवगत कराया की काॅमन योगा प्रोटोकाॅल 45 मिनट की अवधि का रहेगा जो दूरदर्शन एवं अन्य माध्यमों से 21 जून को प्रातः 7 बजे से 7ः 45 बजे तक प्रसारित होगा। इस अवधि में जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक, सामान्यजन, महाविद्यालयों एवं विद्यालयों के विद्यार्थी, एन.सी.सी. कैडिट, विभिन्न योग संस्थाओं के सदस्य, अभिभावक इत्यादि योग कार्यक्रम में घर पर ही रहकर स्वैच्छा से भाग ले सकेंगे। भाग लेने वालों के लिये किसी विशिष्ठ रंग के परिधान अनिवार्य नहीं है। यथासंभव विद्यार्थीगण में बालक ढीले एवं आरामदायक वस्त्रों में योगाभ्यास की गतिविधियों में भाग ले सकेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं: