सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 29 जून - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 30 जून 2020

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 29 जून

डीजल पेट्रोल रसोई गैस की भीषण, मूल्य वृद्धि जनता की तोड़ रही है कमर- माकपा
राष्ट्रव्यापी विरोध दिवस के तहत माकपा ने किया प्रदर्शन
sehore news
सीहोर। स्थानीय टाउन हाल के सामने माकपा कार्यकर्ताओं ने राष्ट्रव्यापी विरोध के तहत सोमवार को प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान डीजल पेट्रोल के बड़े हुए दाम वापस लो गैस की सब्सिडी बंद करना नहीं चलेगा, रसोई गैस की सब्सिडी पुन: चालू करो, महंगाई पर रोक लगाओ, प्रत्येक व्यक्ति को दस किलो  अनाज छ: माह तक नि:शुल्क प्रदान करो, प्रत्येक परिवार को जो आयकर सीमा से बाहर हो उसे साढ़े सात हजार रूपये प्रति माह छ: माह तक प्रदान करो, कोरोना के सभी पीडि़तों का ईलाज नि:शुल्क एवं श्रेष्ठतम करो, कोरोना की जांच का दायरा बढ़ाओ, आम आदमी को हर प्रकार राहत दो अमीरों की तिजोरी भरना बंद करो आदि नारे लगाए। जिला माकपा नेता राजीव कुमार गुप्ता ने संबोधित करते हुए कहा कि सरकार कोरोना महामारी के दौर में भी जब जनता भीषण बेरोजगारी का दंश झेल रही है उस पर सरकार डीजल पेट्रोल रसोई गैस की मूल्य वृद्धि कर के जनता के घावों पर नमक छिडकने का काम कर रही है। वैसे ही आम जनता की कमर  टूट चुकी है बावजूद इस के सरकार जनता पर कहर बनकर टूट रही है। ऐसे में आम आदमी हताश निराश बेरोजगार भूखा एवं किंकत्र्तव्यविमूढ़ है। सरकार को चाहिए की वह बड़े बड़े टाटा बिरला, अंबानी अडानी एवं विदेशी महा धनिकों की परवाह की अपेक्षा देश के आम नागरिकों को राहत दे और डीजल पेट्रोल रसोई गैस के दाम आधे करे । माकपा नेता बहादुर सिंह पौडवाल ने कहा की अब हमारे पास विरोध के अलावा कोई चारा नहीं है। जनता को भीषण संकट से राहत पाने के लिए सड़कों पर आना हीं पडेगा। प्रदर्शन में माकपा कार्यकर्ताओं ने जोरदार नारेबाजी की।

जनसमस्याओं पर सरकार के सामने आवाज उठाना भेस के आगे बीन बजाने जैसा  
सरकार को जगाने युवा कांग्रेस का पेट्रोल, डीजल, बिजली की मूल्य वृद्धि के विरोध में अनोखा प्रदर्शन
sehore news
सीहोर/ महँगा डीजल,पेट्रोल ओर महगी बिजली से जनता को लूटने वाली केंद्र और राज्य सरकार के विरोध में अखिल भारतीय युवा कांग्रेस के निर्देश आज युवा कांग्रेस ने अनोखा प्रदर्शन किया। युवा कांग्रेस विधानसभा अध्यक्ष मुस्तुफा अंजुम ने बताया कि आज स्थानीय बस स्टैंड पर पेट्रोल पंप के समक्ष आज जिला कांग्रेस अध्यक्ष डॉ बलवीर तोमर की विशेष उपस्थिति में केंद्र और राज्य की बाहरी और अंधी सरकार के खिलाफ अनोखा प्रदर्शन किया। युवा कांग्रेस जिलाध्यक्ष राजीव गुजराती ने कहा कि लगातार युवा कांग्रेस, कांग्रेस पार्टी, ओर आम जन रोज बढ़ रहे पेट्रोल, डीजल, बिजली के दाम कम करने के लिए ओर आमजन को राहत प्रदान करने आंदोलन कर रहे है लेकिन सरकार में बैठे जनप्रतिनिधियों को कोई फर्क नही पड रहा है। इस मामले में सरकार की स्थिति भेस के आगे बीन बजाने जैसी हो गई है इसलिये सरकार की स्थिति जन मानस के सामने लाने के लिए आज युवा कांग्रेस ने भेस से आगे बीन बजाकर जनहित में प्रदर्शन किया है । इस मौके पर जिलाकांग्रेस अध्यक्ष डॉ बलवीर तोमर ने कहा है की हम हर स्थिति में आमजन की समस्याओं की लड़ाई लड़ते रहेंगे और ये सरकार नही जगी तो इनकी नाक में दम कर देंगे। वरिष्ट  नेता राजेन्द्र ठाकुर,विवेक राठौर , राजीव गुजराती, मुस्तुफा अंजुम, राकेश वर्मा , मृदुल तोमर, साजिद शाह, निशांत वर्मा, सुनील दुबे , राहुल ठाकुर, मोहम्मद साकिर , भगत तोमर , लोकेन्द्र वर्मा , आज़म लाला , सर्वेश व्यास, उमेश रोहित, कमलेश यादव , राहुल गोस्वामी, पंकज शर्मा, सचिन गौर, अनिल शर्मा , दीपक सिसोदिया, राहुल गोस्वामी, मोहित किंगर, अनिल शर्मा, सुमित नर्रे, प्रिंस यादव, हरिओम सिसोदिया, अनुराग यादव , सूर्यांश जादौन , प्रशांत भरवे, तनिश त्यागी , अमन लाला,सुयश प्रताप, यमन यादव , सैफू, विवेक परिहार , अभय त्यागी, अजमत खान, छोटे खा, सूरज, मोहम्मद साजिद, मोहम्मद अमन , मोहम्मद फुरखं, जेध अंसारी, मोहम्मद अकरम, शुयश प्रताप सिंह,ओशफ पठान, मो साजिद, फैज अंसारी, मो फुरकान, मो अमन, आदि कार्यकर्ता उपस्थित थे।

नगरीय निकायों की फोटोयुक्त मतदाता सूची के वार्षिक पुनरीक्षण-2020 हेतु आपत्ति प्राप्त करने के दौरान कोविड-19 से बचाव के संबंध में निर्देश

नगरीय निकायों की फोटोयुक्त मतदाता सूची के वार्षिक पुनरीक्षण-2020 दावा आपत्ति केन्द्र पर दावे आपत्ति प्राप्त करने की अवधि के दौरान कोविड-19 संक्रमण से बचाव के लिए मप्र राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का पालन सुनिश्चित करने के निर्देश कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने अधिकारियों को दिए हैं। निर्वाचन आयोग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के तहत दावा आपत्ति अवधि के दौरान दावा आपत्ति केन्द्र पर दावे या आपत्तियां प्राधिकृत कर्मचारी को प्रत्येक कार्यकारी दिन कार्यालय समय के दौरान (अर्थात् प्रातः 10:00 बजे से सायं 05:00 बजे तक) कभी भी परन्तु अंतिम दिन 03 बजे अपरान्ह तक प्रस्तुत किये जा सकते है। दावा-आपत्ति केन्द्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग की व्यवस्था बनाए रखने, मास्क का उपयोग सुनिश्चित किए जाने तथा प्रत्येक दावा-आपत्ति केन्द्रों पर सेनेटाईजर उपलब्ध कराए जाने के निर्देश दिए गए हैं। दावा आपत्ति केन्द्र के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिये 02 गज की दूरी से गोल घेरे बनाये जाये तथा उन गोल घेरे में ही संबंधित व्यक्तियों को खड़े रहने के लिये कहा जाए। इसी प्रकार 01 जुलाई 2020 की स्थिति में जिले में घोषित कन्टेनमेन्ट क्षेत्र के लिए दावा आपत्ति प्राप्त करने हेतु आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए गए हैं। नगरीय निकायों के मुख्य नगरपालिका अधिकारी, वार्ड प्रभारी, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता,  स्वास्थ्य कार्यकर्ता को नगरीय निकाय में निवास करने वाले व्यक्तियों की जानकारी सही-सही ज्ञात होती है। अतः कन्टेनमेंट क्षेत्र में उक्त कर्मचारियों की ड्यूटी केवल इसी कार्य के लिए लगाई जाये कि किसी व्यक्ति का नाम नगरपालिका की मतदाता सूची में सम्मिलित, विलोपित या संशोधित तो नहीं किया जाना है अथवा मतदाता सूची में सम्मिलित किसी व्यक्ति से संबंधित किसी प्रविष्टि में कोई सुधार तो नहीं किया जाना है। घोषित कन्टेनमेंट क्षेत्र में दावा/आपत्ति प्राप्त करने की अवधि का प्रचार-प्रसार कराए जाने, कन्टेनमेन्ट क्षेत्र में जाने वाले कर्मचारियों को मास्क, सेनेटाईजर या अन्य आवश्यक सुरक्षा उपकरण अनिवार्य रूप से प्रदाय किए जाने के निर्देश दिए गए हैं ताकि वे संक्रमण से अपना बचाव कर सके। राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी दिशा-निर्देशों के तहत नगरीय निकायों के मुख्य नगरपालिका अधिकारी, वार्ड प्रभारी, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, स्वास्थ्य कार्यकर्ता को दावा/आपत्ति फार्म, प्राधिकृत कर्मचारी बुकलेट से उपलब्ध कराया जाना तथा उनका रिकार्ड रखा जाना सुनिश्चित किया जाए। नगरीय निकायों के मुख्य नगरपालिका अधिकारी, वार्ड प्रभारी, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, स्वास्थ्य कार्यकर्ता घोषित कन्टेनमेंट क्षेत्र में निवास करने वाले ऐसे व्यक्तियों से जो दावा/आपत्ति प्रस्तुत करना चाहते हों, उनसे दावा/आपत्ति फार्म आवश्यक दस्तावेजों सहित भरवाकर प्राधिकृत कर्मचारियों को उपलब्ध कराएंगे। प्राधिकृत कर्मचारी दावा/आपत्ति फार्म नियमानुसार रजिस्ट्रीकरण, सहायक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी को उपलब्ध कराएंगे। इसी प्रकार रजिस्ट्रीकरण अधिकारी निर्धारित प्रक्रिया अनुसार दावा आपत्ति फार्मों के निपटारे की कार्यवाही निर्धारित समयावधि में पूर्ण करेंगे। इस बात का विशेष ध्यान रखा जाने के निर्देश दिए गए हैं कि कोई पात्र व्यक्ति का नाम मतदाता सुची में दर्ज होने से छूट न पाए तथा अपात्र व्यक्ति का नाम मतदाता सूची में दर्ज न होने पाए। मप्र निर्वाचन आयोग के दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन करवाया जाना सुनिश्चित करें।     

मानसून सत्र की अवधि तक नदियों से रेत खनन प्रतिबंधित, कलेक्टर ने किया आदेश जारी

कलेक्टर श्री अजय गुप्ता द्वारा आदेश जारी किया गया है कि जिले में स्थित नदियों से रेत खनन पर प्रतिबंध के लिए मानसून अवधि 1 जुलाई से 1 अक्टूबर तक निर्धारित की गई है। यदि इस तिथि के पूर्व मानसून सक्रिय हो जाता है या अंतिम तिथि के पश्चात भी मानसून सक्रिय रहता है तो पृथक से आदेश जारी किए जा सकेंगे।   

चना उपार्जन की अंतिम तिथि आज

उपसंचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास ने जानकारी देते हुए बताया कि चना उपार्जन्‍ 2020 में जिन किसानों ने पंजीयन कराया है लेकिन अपनी उपज विक्रय नहीं कर सके हैं। वे किसान 30 जून 2020 को अपने उपार्जन केन्द्र पर ले जाकर विक्रय करा सकते हैं। शासन द्वारा चना उपार्जन की अंतिम तिथि 30 जून निर्धारित की गई है।  

अभी तक कुल 1305 सेंपल जांच के लिए भेजे गए

sehore news
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ सुधीर डेहरिया ने जानकारी देते हुए बताया कि आज 31 सैंपल जांच हेतु लिए गए हं जिनमें से 13 कोरोना सैंपल वार्ड नंबर 27 सब्जी मंडी के एवं 5 सैंपल गल्ला मंडी, 10 सैपल जिला चिकित्सालय स्टाफ के तथा 3 सैंपल आईसोलेशन वार्ड के शामिल हैं। लिए गए सैंपलों में 13 सैंपल जिला चिकित्सालय में स्थित ट्रूनेट मशीन पर जांच के लिए लगाए गए हैं वहीं शेष 18 सैंपल जांच के लिए भोपाल भेजे गए हैं। जिले में पॉजीटिव मरीजों की संख्या वर्तमान में 4 है जिसमें एक का उपचार कोविड केयर सेंटर में चल रहा है, 1 का उपचार भोपाल में तथा दो कोरोना पॉजीटिव व्यक्तियों का उपचार इंदौर में चल रहा है। जिले में 4 कंटेनमेंट एरिया हैं चारों ही शहरी क्षेत्र में हैं। सीहोर शहरी क्षेत्र वार्ड नंबर 4 रिमझिम ढाबा वाले क्षेत्र में 18 घरों का सर्वे कर 55 व्यक्तियों के स्वास्थ्य संबधी जानकारी सर्वे दलों द्वारा प्राप्त की गई। वहीं वार्ड नंबर 27 सब्जी मंडी में 37 घरों का स्वास्थ्य सर्वे कर 250 व्यक्तियों के स्वास्थ्य संबंधी जानकारी प्राप्त की गई है। वार्ड नंबर 27 के बफर जोन में 60 घरों का सर्वे कर 288 व्यक्तियों के स्वास्थ्य फालोअप लिया गया। कंटेनमेंट एरिया सैकड़ाखेड़ी रोड स्थित वार्ड नंबर 4 में दो सर्वे दलों द्वारा 45 घरों का सर्वे कर 243 व्यक्तियों के स्वास्थ्य परीक्षण की जानकारी प्राप्त की गई। वहीं बफर एरिया में 65 घरों का सर्वे कर 278 व्यक्तियों से स्वास्थ्य संबंधी फालोअप लिया गया। इधर वार्ड नंबर 13 में तीन सर्वे दलों द्वारा 94 घरों का सर्वे कर 347 व्यक्तियों का स्वास्थ्य फालोअप लिया गया। वहीं बफर एरिया में 323 घरों का सर्वे कर 1185 व्यक्तियों का स्वास्थ्य फालोअप लिया गया। जिले में अन्य देशों से सीहोर पहुंचे कुल व्यक्तियों की संख्या 232 है जिनमें से 184 लोगों की अब तक स्क्रीनिंग स्वास्थ्य विभाग द्वारा की जा चुकी है। पिछले 24 घंटों के दौरान एक भी ऐसे व्यक्ति की पहचान नहीं की गई जो अन्य राज्यों और अन्य जिलों से लौटे थे। जिले में अब तक होम कोरेंटाईन किए गए व्यक्तियों की संख्या 43913 है। डॉ. डेहरिया ने बताया कि पिछले 24 घंटों के दौरान ऐसे व्यक्ति जो विदेश से सीहोर जिले में नहीं लौटे थे परंतु अन्य जिलों एवं राज्यों से लौटे थे और विभागीय अधिकारियों कर्मचारियों द्वारा घर-घर सर्वे के दौरान चिन्हित किए गए। अब तक कुल 43913 व्यक्तियों का होम कोरेंटाइन पूर्ण किया जा चुका है। जिले से अब तक कुल 1305 सेम्पल जांच के लिए भेजे गए थे जिनमें से 1235 सेंपलों की रिपोर्ट अब तक निगेटिव प्राप्त हुई है। अभी तक हास्पिटल आईसोलेशन में भर्ती मरीजों की कुल संख्या 14 है। कोरोना संक्रमण पाजीटिव मरीजों की संख्या 15 है। कोरोना संक्रमण के कारण मृत्यु संख्या 2 है। कुल कंटेंमेंट एरिया 2 हैं। पैथालॉजी द्वारा कोरोना वायरस सेंपल की रिजेक्ट संख्या कुल 24 है। वहीं विदेश से आए यात्री जो गृह जिला या निवासरत जिला में वापस नहीं आए उनकी संख्या 48 है। कोरोना संक्रमित उपरांत ठीक हुए मरीजों की संख्या 9 है। जिले में जो व्यक्ति होम क्वारंटाइन में है उनके निवास स्थान से सीधे संवाद हेतु जिला स्तरीय कोविड-19 काल सेंटर स्थापित किया गया है जिसका संपर्क नंबर-7247704181 है कोविड-19 से संबंधित जानकारी इस संपर्क नंबर पर ली व दी जा सकती है। वहीं जिला चिकित्सालय सीहोर में टेलीमेडिसीन के लिए संपर्क नंबर 07562-401259 जारी किया गया है। राज्य स्तर पर 104/181 नंबर पर काल करके भी टेलीमेडिसीन सेवा का लाभ लिया जा सकता है। 104  नंबर पर ई-परामर्श सेवा का भी लाभ लिया जा सकता है। ई-संजीवनी ओपीडी सेवा हेतु www.esanjeevaniopd.in पंजीयन कराया जा सकता है। कलेक्ट्रेट कार्यालय में भी जिला स्तरीय काल सेंटर बनाया गया है जिसका संपर्क नंबर 07562-226470 है तथा होम क्वारंटाइन व्यक्तियों तथा उनके परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर 18002330175 जारी किया गया है। जिस पर संस्थागत क्वारंटाइन अथवा होम क्वारंटाइन व्यक्ति अथवा उनके परिजन इमोशनल वेलनेस अथवा साईकोलाजिकल सपोर्ट एवं अन्य जरूरी परामर्श मानसिक सेवा प्रदाताओं से निःशुल्क प्राप्त कर सकते है।

कोविड-19 में उत्कृष्ट स्वास्थ्य सेवाओं के लिए बीएमओ श्यामपुर को प्रमुख सचिव स्वास्थ्य  ने जारी किया प्रशंसा पत्र

sehore news
कोविड-19 में उत्कृष्ट स्वास्थ्य सेवाओं के लिए प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्री फैज अहमद किदवई द्वारा प्रशंसा पत्र जारी किया गया है। जारी प्रशंसा पत्र में उल्लेख किया गया है कि कोविड-19 महामारी के दौरान कोरोना वायरस संक्रमण के बचाव में बीएएमओ श्यामपुर डॉ एच.पी.सिंह द्वारा प्रषंसनीय कार्य पूरी मेहनत और निष्ठा के साथ किया गया है। उनकी कर्तव्यपरायणता की प्रषंसा करते हुए तथा भविष्य इसी प्रकार की सेवाएं निरंतर रखने की आशा प्रमुख सचिव स्वास्थ्य मध्यप्रदेश द्वारा व्यक्त की गई है। प्रशंसा पत्र मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.सुधीर कुमार डेहरिया तथा सिविल सर्जन डॉ आनंद शर्मा द्वारा कलेक्ट्रेट कार्यालय में बीएमओ श्यामपुर को प्रमुख सचिव स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी किया प्रशंसा प्रमाण पत्र प्रदान किया गया।

श्रवण यंत्र पाकर खुश हुआ दिव्यांग वृद्ध (सफलता की कहानी)

sehore news
सामाजिक न्याय एवं नि:शक्तजन कल्याण विभाग प्रमुख सचिव श्री प्रतीक हजेला एवं आयुक्त श्रीमती रेनु तिवारी द्वारा गत दिवस सीहोर प्रवास के दौरान जिला विकलांग एवं पुनर्वास केन्द्र का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान प्रशासकीय अधिकारियों द्वारा उन्हें केन्द्र द्वारा किए गए कार्यों जैसे फिजियोथैरेपी, स्पीच थैरेपी, स्पेशल एज्युकेशन सहित दिव्यांगों के लिए जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई। इसी तारतम्य में ग्राम शेखपुरा निवासी 80 वर्षीय श्रवण बाधिता दिव्यांग लीलाकिशन सेन द्वारा श्रवण बाधिता से परेशानी के कारण जिला प्रशासन के समक्ष आवेदन प्रस्तुत किया गया। जिला दिव्यांग एवं पुनर्वास केन्द्र पर आए प्रमुख सचिव श्री हजेला द्वारा श्रवण बाधिता दिव्यांग को सहायक उपकरण श्रवण यंत्र प्रदान किया गया। लीलाकिशन बताते हैं कि अब उन्हें सुनने में परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। मध्यप्रदेश शासन द्वारा दिव्यांगों के लिए चलाई जा रही योजनाओं से दिव्यांगों को काफी लाभ मिल रहा है। वे प्रदेश शासन एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को बहुत-बहुत धन्यवाद देते हैं।

जिले में अब तक 278.2 मि.मी. औसत वर्षा

जिले में आज 29 जून, 2020 की प्रात:8 बजे समाप्त पिछले चौबीस घन्टों में 13.1 मिलीमीटर औसत वर्षा दर्ज की गई है। इसे मिलाकर 1 जून से अभी तक जिले में 278.2 मि.मी औसत बारिश रिकार्ड की जा चुकी है जबकि गत वर्ष इस अवधि में 56.1 मि.मी बारिश रिकार्ड की गई थी। अधीक्षक, भू-अभिलेख से मिली जानकारी के अनुसार पिछले चौबीस घन्टों में आष्टा में 2, नसरुल्लागंज में 31, बुधनी में 20, रेहटी में 51.8, मिमी बारिश दर्ज की गई। जबकि सीहोर, श्यामपुर, जावर एवं इछावर में वर्षा की स्थिति शून्य रही। आंकड़ों के मुताबिक जिले में अभी तक सीहोर में 288.9, श्यामपुर में 187, आष्टा में 294.6, जावर में 249, इछावर में 250.5, नसरुल्लागंज में 325, बुदनी में 276 एवं रेहटी में 354.4 मिमी बारिश दर्ज की गई है। गत वर्ष इस अवधि में सीहोर में 87, श्यामपुर में 24, आष्टा में 78, जावर में 13, इछावर में 73, नसरुल्लागंज में 53, बुधनी में 77 रेहटी में 43 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई थी।

6 जुलाई से हर घर में बजेगी स्कूल की घंटी, प्रमुख सचिव ने किया "हमारा घर-हमारा विद्यालय" का शुभारंभ

मध्यप्रदेश के अनेकानेक घरों में स्कूल की घंटी 6 जुलाई 2020 से सुनाई देगी। बच्चे पढेंगे, योग करेंगे, लिखेंगे और कहानियॉ भी सुनेंगे और उन पर नोट्स तैयार करेंगे। कोरोना संकट काल में विद्यार्थियों की शैक्षिक नियमितता बनाए रखने के लिए, राज्य शिक्षा केन्द्र ने "हमारा घर-हमारा विद्यालय" योजना तैयार की है, जिसमें बच्चों को घर पर ही स्कूली वातावरण में अध्यापन कराया जाएगा। योजना का शुभारंभ मंत्रालय में फेसबुक लाइव कार्यक्रम के माध्यम से प्रमुख सचिव श्रीमती रश्मि अरुण शमी ने किया।   श्रीमती शमी ने कहा कि बच्चे हर अवसर से कुछ न कुछ सीखते हैं। अगर बच्चा अपने पिता के साथ खेत में बोनी करने भी जाता है तो भी वह एक नया हुनर प्राप्त करता है और इस काम में दूरी और माप की गणितीय शिक्षा तथा पर्यावरण की शिक्षा प्राप्त करता है। हर कार्य उन्हें अनुभव प्रदान करता है। विभाग का दायित्व है कि स्कूल बंद होने पर भी बच्चों को हर तरह से सीखने में सहयोग करें। उन्होंने पालकों से आव्हान किया है कि बच्चों को घर पर भी अध्ययन का वातावरण उपलब्ध कराएं। उन्हें घर में ही एक उचित स्थान दें जहाँ वे बिना किसी व्यवधान के अपनी पढ़ाई कर सकें। "हमारा घर-हमारा विद्यालय" योजना ऐसी ही एक भावनात्मक पारिवारिक पहल है जो बच्चों को परिवार के सहयोग से घर पर ही पढ़ाई को सुचारु रखने में सहयोगी होगी। आयुक्त राज्य शिक्षा केन्द्र श्री लोकेश कुमार जाटव ने बताया कि, "हमारा घर-हमारा विद्यालय" योजना प्रदेश के कक्षा 1 से 8 तक के विद्यार्थियों के लिए बनाई गई है। विद्यार्थी अब अपने घर पर ही विद्यालय के वातावरण में पढ़ाई कर सकेंगे। घर के स्कूल में प्रातः 10 बजे पालक द्वारा घण्टी/थाली बजाकर स्कूल प्रारम्भ किया जाएगा, इसी प्रकार दोपहर एक बजे घण्टी/थाली बजाकर अवकाश किया जाएगा। इससे बच्चों को घर में ही विद्यालय का आभास होगा। राज्य शिक्षा केन्द्र द्वारा एक सुझावात्मक समय-सारणी भी पालकों और विद्यार्थियों को उपलब्ध कराई जा रही है, जिसके अनुसार सोमवार से शुक्रवार प्रातः 10 से दोपहर एक बजे तक विषयानुरुप अध्ययन होगा तथा शनिवार को मस्ती की पाठशाला के तहत मनोरंजनात्मक गतिविधियां आयोजित की जायेंगी। वहीं शाम को 2 घंटे विद्यार्थी अपने पारिवारिक बड़े-बुजुर्गों से कहानियां सुनकर उन पर नोट्स तैयार करेंगे और योग तथा अन्य खेलकूद की गतिविधियों का आयोजन अपने घर पर ही करेंगे। राज्य शिक्षा केन्द्र द्वारा इस संबंध में अनेक पारंपरिक गतिविधियों के सुझाव भी दिए गए हैं। कोरोना संकटकाल की स्थिति में छात्रों के निर्बाध सीखने की प्रक्रिया को सुनिश्चित करने के लिए स्कूल शिक्षा विभाग ने कई कार्यक्रम शुरू किए हैं जैसे व्हाट्स एप के माध्यम से डिजिलेप- यानी डिजिटल लर्निंग इन्हांसमेंट प्रोग्राम, रेडियो के माध्यम से रेडियो स्कूल, दूरदर्शन मध्यप्रदेश पर क्लास रूम का प्रसारण, पिछले साल की दक्षता उन्नयन वर्कबुक का ग्रीन जोन में वितरण तथा शिक्षकों द्वारा बच्चों को दैनिक आधार पर फोन से संपर्क करना और उनकी पढाई में सहायता करना आदि प्रमुख हैं। इसी कड़ी में अब श्श्हमारा घर हमारा विद्यालयश्श् कार्यक्रम प्रारंभ किया जा रहा है। उल्लेखनीय है कि स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा शनिवार को आयोजित फेसबुक लाइव की पहुंच लगभग 2.5 लाख व्यक्तियों तक रही। वहीं इसे 1.5 लाख से अधिक लोगों द्वारा देखा गया एवं 1.25 लाख से अधिक व्यक्तियों की सहभागिता रही।

अब मंडी प्रांगण में कृषकों की उपज की तौल बड़े इलेक्ट्रानिक कांटे से होगी

कृषि उपज मंडी समिति सचिव ने जानकारी देते हुए बताया कि कृषि उपज मंडी कार्यालय में अनुविभागीय अधिकारी श्री आदित्य जैन/भार साधक कृषि उपज मंडी श्री अध्यक्षता में बैइक आयोजित की गई। बैठक मे मंडी प्रागंण में कृषकों की कृषि उपज की तौल बड़े इलेक्ट्रानिक तौल कांटे से करने के संबंध में चर्चा की गई यह व्यवस्था 1 जुलाई से लागू करने का निर्णय लिया गया है। किसानों द्वारा ट्राली में खुले रूप से कृषि उपज केवल (केवल एक जिंस) लाई जाती है तो उसकी तुलाई बड़े इलेक्ट्रानिक तौल कांटे से की जाए और इसमें किसी प्रकार की हम्माली और तुलाई की राशि किसानों से काटी जाएगी। कृषि उपज के वजन के लिए बड़े इलेक्ट्रानिक तौल कोटे की पर्ची मान्य होगी। बैठक में मंडी सचिव श्री आर्य, श्री सतीश साहू, श्री हरीश राठौर, श्री सादाब भाई, श्री शाकिर मंसूरी, श्री विनोद यादव आदि उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं: